हमें चाहने वाले मित्र

19 अगस्त 2015

एक औरत

एक औरत को शादी के कई साल बाद ख्याल आया कि अगर वो अपने पति को छोड़ के चली जाए तो वो कैसा महसूस करेगा।
ये विचार आते ही उसने एक कागज लिया और उसपे लिखा ," अब मै तुम्हारे साथ और नहीं रह सकती,मै उब गयी हु तुम्हारे साथ से,मै घर छोड़ के जा रही हु हमेशा के लिए।"
उस पत्र को उसने टेबल पे रखा और जब पति के आने का टाइम हुआ तो उसकी प्रतिकिरया देखने के लिए बेड के निचे छुप गयी।
पति आया और उसने टेबल पे रखा पत्र पढ़ा। कुछ देर की चुप्पी के बाद उसने पत्र के निचे कुछ लिखा।
फिर वो खुशी की सिटी बजाने लगा,गीत गाने लगा,डांस करने लगा और कपडे बदलने लगा,इसी दौरान उसने अपने फोन से किसी को फोन लगाया और कहा " आज मै एकदम मुक्त हो गया,शायद मेरी मुर्ख पत्नी को समझ आ गया की वो मेरे लायक ही नहीं थी,आज वो घर से हमेशा के लिए चली गयी,अब मै आजाद हु तुमसे मिलने के लिए,मै आ रहा हु कपडे बदल कर तुम्हारे पास,तुम तैयार हो के मेरे घर के सामने वाले पार्क में आ जाओ अभी"
कपडे बदल कर पति बाहर निकल गया, आंसू भरी आँखों से पत्नी बेड के निचे से निकली और कांपते हाथो से पत्र के निचे लिखी लाइन पढ़ी जिसमे लिखा था....
बेड के नीचे से पैर दिख रहे है बावली...पार्क के पास वाली दुकान से सिगरेट ले के आ रहा हु तब तक चाय बना ले

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...