हमें चाहने वाले मित्र

28 जुलाई 2015

नॉर्थ कोरिया की यूएस को धमकी, कहा- जंग हुई तो किसी को नहीं छोड़ेंगे जिंदा

कुमसुसान पैलेस में पूर्व लीडर किम इल संग के स्टैच्यू के सामने श्रद्धांजलि देते किम जोंग उन।
कुमसुसान पैलेस में पूर्व लीडर किम इल संग के स्टैच्यू के सामने श्रद्धांजलि देते किम जोंग उन।
सियोल. नॉर्थ कोरियाई टॉप लीडर्स ने अमेरिका को चेतावनी देते हुए कहा कि कोरियाई प्रायद्वीप में अब अगर कोई जंग हुई तो कोई भी अमेरिकी जिंदा नहीं बचेगा। नॉर्थ कोरिया ने रविवार को कोरियन वॉर खत्म होने की 62वीं वर्षगांठ मनाई। इसी मौके पर नॉर्थ कोरिया के नेताओं ने अमेरिका को धमकी दी। इस अवसर पर राजधानी प्योंगयांग और अन्य शहरों को झंडों और बैनर्स से सजाया गया था।
किम जोंग उन ने दी अमेरिका को धमकी
देश की न्यूक्लियर शक्ति का जिक्र करते हुए किम ने कहा, "वो दौर चला गया, जब न्यूक्लियर हथियारों की धमकी देकर अमेरिका हमें डराता था। अब अमेरिका की कोई हैसियत नहीं है। अब हम उनके लिए खतरा बन चुके हैं।" कोरियन सेंट्रल न्यूज एजेंसी के अनुसार, नॉर्थ कोरिया के लीडर किम जोंग उन रविवार आधी रात को कुमसुसान पैलेस गए, जहां उनके पिता किम जोंग-इल और दादा किम-इल-संग के पार्थिव शरीर सहेजकर रखे गए हैं।
रक्षा मंत्री ने कहा- डॉक्युमेंट साइन करने के लिए भी कोई नहीं बचेगा
कोरियन पीपुल्स आर्मी के प्रमुख और रक्षा मंत्री जनरल पाक योंग-सिक ने कहा, "अमेरिका हमारे खिलाफ योजनाएं बनाने और हमें उकसाने का कोई मौका नहीं छोड़ रहा। हम एक ताकतवर देश बन चुके हैं। अब युद्ध हुआ तो किसी सरेंडर डॉक्युमेंट पर साइन करने के लिए कोई अमेरिकी नहीं बचेगा।" पाक योंग-सिक ने कहा, "हम पिछले 60 साल से शांत हैं, लेकिन अमेरिका शांति नहीं चाहता। पिछली कोरियन वॉर में अमेरिकी की हार की शुरुआत हुई थी, लेकिन अगर दूसरा युद्ध हुआ तो अमेरिका पूरी तरह खत्म हो जाएगा।"
तीन साल तक चली थी वॉर
तीन साल तक चली कोरियन वॉर को खत्म करने के लिए 27 जुलाई 1953 को समझौते हुआ था। हालांकि, इस दिन किसी शांति समझौते पर दस्तखत नहीं हुए थे, लेकिन नॉर्थ कोरियाई इसे 'साम्राज्यवादी' अमेरिका के खिलाफ अपनी जीत मानता है। अमेरिका इस युद्ध में संयुक्त राष्ट्र सहयोगी देशों के साथ मिलकर दक्षिण कोरिया की ओर से लड़ा था। नॉर्थ कोरिया हर साल इस दिन को सेलिब्रेट करता है।
योंगयोन में न्यूक्लियर हथियार बनाने की तैयारी
एक अमेरिकी रिसर्च ग्रुप '38 नॉर्थ की एक रिपोर्ट के अनुसार, नॉर्थ कोरिया योंगयोन स्थित प्रमुख न्यूक्लियर कॉम्पलेक्स में न्यूक्लियर हथियारों के पार्ट्स तैयार कर रहा है। गौरतलब है कि नॉर्थ कोरिया की मिलिट्री दुनिया में सबसे बड़ी है। इसमें करीब 95 लाख सैनिक हैं। यह संख्या देश की आबादी की 40 फीसदी है।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...