हमें चाहने वाले मित्र

10 जुलाई 2015

एक लड़का एक लड़की को छेड़ रहा था

एक लड़का एक लड़की को छेड़ रहा था ,
लड़की ने उसे कहा-क्या प्रॉब्लम है, बुलाऊ
पुलिस
को.......
लड़के ने कहा-पुलिस को बुलाएगी ....बुला
पुलिस को,
तेरी जेसी बहोत देखी है मैंने....... और उसने उस
पर बन्दुक
तान दी...........वोलड़की रोने लग गयी। ।
पास में बहुत सारी भीड़ इकठ्ठी हो गयी, सब
तमाशा
देख रहे थे,
इतने में जो लड़के ने कहा उसे सुनकर सब
ताज्जुब में पड़ गए,
शर्म के मारे किसी का सर नही उठा,
लड़के ने कहा -बचाने नही आओगे इसे .....क्या
इतनी
भीड़ में किसी की हिम्मत नही ,की इस लड़की
को
बचा सके , कल जब इंडिया गेट पर इसकी लाश
पड़ी
होगी ,तब जनाजे में बहोत भीड़ होगी
.........इसकी
जगह आपकी कोई बहन होती ,तो क्या आप
ऐसे ही खड़े
तमाशा देखते ,क्या इस लड़की की मौत पर
सिर्फ न्यूज़
पेपर पर हेड लाइन ही काफी है क्या ........?
क्या यही है हमारा देश ,यही है हमारे देश के
युवा
.........मर जाना चाहिए तुमको .......की तुम
अपनी
बहन बेटियो के हिफाजत नही कर सकते ।
सबको अपने फेसबुक प्रोफाइल पर तिरंगे या
देशभक्ति
की पिक्चर लगाने का शौक है। लेकिन कोई
उसकी
मर्यादा का ध्यान नही देता , ये लड़की मर रही
है तुम
लोग तमाशा देख रहे हो ,
फिर उस लड़के ने कहा - इस लड़की जेसी मेरी
बहन थी
,मार डाला .......दरिंदो ने, तुम लोगो की
हैवानियत
ने.........सब ऐसे ही तमाशा देखते रह गए , किसी
ने
उसकी मदद नही की......
अब यही होगा तुम लोगो के साथ ......फिर
देखना
तमाशा......
फिर उस लड़के ने उस लड़की से माफ़ी मागते हुए
कहा-
बहन माफ़ करना ,मेरा आपका दिल दुखाने का
इरादा
नही था .......शायद मेरे इस प्रयास से इन लोगो
की
अंतरात्मा जाग जाए ।
उस लड़की ने वापस कहा-भैया आपको मेरा
सलाम ,
काश सब ऐसे होते तो आपकी बहन आज
जिन्दा होती
,आज से आप मेरे भाई हो....

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...