हमें चाहने वाले मित्र

22 नवंबर 2010

कोटा के वकीलों की हड़ताल बनी मजबूरी

कोटा के वकीलों से सरकार द्वारा किये गये वायदे वक्त पर पूरा नहीं करने के कारण लगातार बातचीत के प्रयास असफल होने पर यहाँ के वकीलों के लियें अब हड़ताल करना मजबूरी बन गया हे ,वेसे कानून मंत्री शान्ति कुमार धारीवाल ने कोटा के वकीलों को एडवोकेट कोलोनी के लियें भूखंड देने और बाकी मांगों के मामले में मुख्य मंत्री महोदय से मिलवाने का आश्वासन दिया हे , लेकिन बार बार आश्वासन से कोटा के वकील खुद को ठगा महसूस करने लगे हें और आज कोटा के वकीलों की संघर्ष समिति की बैठक में एक राय होकर कोटा सम्भाग यानी कोटा, बूंदी झालावाड़ , बारां में वकील कल से हडताल पर जा रहे हें वकीलों का कहना हे की कल से तीन दिन की प्रतीकात्मक हड़ताल हे और आगर इसके बाद नतीजा नहीं निकला तो करो या मरो की तर्ज़ पर नहीं बलके मरो या मारो की तर्ज़ पर आन्दोलन होगा देखते हें के कोटा सम्भाग में हडताल का क्या रूप रहता हे क्योंकि इन दिनों कोटा में अब आगामी चालू वर्ष के लियें १५ दिसम्बर तक नई कार्यकारिणी के चुनाव होना हे । अख्तर खान अकेला कोटा राजस्थान

1 टिप्पणी:

  1. जनाब अख्तर साहेब,

    शुक्रिया बहुत बहुत। आपने तो हमे बिग बी बना दिया। पहली बार आपके ब्लॉग से मुखातिब हुआ, अच्छा लगा। कानून और वकीलों संबंधित खबरें मुहैया वैसे भी नहीं हो पाती, आप इस ओर बेहतर कदम रख रहे हैं। मेरी ओर से ढेर सारी मुबारकबाद और शुभकामनायें।

    उत्तर देंहटाएं

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...