हमें चाहने वाले मित्र

09 अक्तूबर 2020

अनुभवों में जो गोल्ड होता है ,, वोह चौबीस कैरेट गोल्ड होता है

 अनुभवों में जो गोल्ड होता है ,, वोह चौबीस कैरेट गोल्ड होता है ,और जो चौबीस कैरेट गोल्ड होता है , वोह विकास , अनुशासन ,रचनात्मक कार्यों ,सेवाभाव के अनुशासन कार्यों में बोल्ड होता है , इसीलिए ,,यह हर दिल अज़ीज़ शख्सियत लोगों के दिलो में , विकास पुरुष , संकट मोचक बनकर ,धड़कती है ,, जी हाँ में बात कर रहा हूँ ,, कोटा ,राजस्थान ,देशभर में ही नहीं ,बल्कि अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर , अपने अनुभव ,तार्किक सुझाव , आक्रामक भाषण शैली और , विकास ,सोंदर्यकरण ,सहित सभी तरह के कार्यों में असम्भव को सम्भव कर दिखाने वाली शख्सियत ,, राजस्थान के दिग्गज केबिनेट मंत्री , शांति कुमार धारीवाल की ,, यह अकेली शख्सियत ऐसी है ,जो सोते ,बैठते ,उठते ,सफर में रहते , हर वक़्त सिर्फ ,सिर्फ ,विकास , सोंदर्यकरण ,समस्याओं के समाधान ,आम जनता की सार्वजनिक हितकारी योजनाओं के क्रियान्वन ,,के बारे में ही सोचती है ,चिंतन करती है ,विशेषज्ञ रिपोर्ट लेती है ,,अपने अनुभवो से ,हर काम असम्भव काम को सम्भवं बनाकर दिखाती है ,,,वर्तमान हालातों में जब सभी लोग ,अधिकतम लोग ,अपने घरों में घुसकर , माला जप रहे है ,, फील्ड से अलग हटकर ,सिर्फ बयानबाज़ी कर रहे है ,अपने क्षेत्रों से गायब है ,ऐसे कोरोना संकट हालातों में , शान्तिकुमार धारीवाल जहाँ ,एक तरफ राजस्थान की सभी विकास योजनाओ की मोनिटिरिंग कर रहे है , कार्यरत विकास कार्यों की फील्ड रिपोर्टिंग देख रहे है ,,,,दूसरी तरफ राजस्थान सरकार के राजकोष में कैसे वृद्धि हो , उस तरफ व्यवस्थाएं देख रहे है ,इधर वोह अपनी विधानसभा क्षेत्र ,,कोटा उत्तर क्षेत्र , सहित कोटा ज़िले ,प्रभारी मंत्री वाले क्षेत्र जयपुर की भी लगातार व्यक्तिगत मॉनिटरिंग कर रहे है ,,कोटा में वोह कोरोना संकट के वक़्त , आम लोगों की व्यवस्थाओं के प्रति संवेदनशील सुनवाई के लिए तीन बार स्पॉट विज़िट कर चुके है ,रोज़ मर्रा एक दिन में क़रीब आधा दर्जन बार ,,अधिकारीयों से सम्पर्क में रहते है ,अलग अलग ब्लॉक , अलग अलग भाग संख्याओं में , वोह लगातार कोरोना एडवाजरी की मर्यादाओं को रखते हुए ,, अपने कार्यकर्ता , प्रतिनधियों , अधिकारीयों को मार्गदर्शित कर रहे है ,, शांति धारीवाल अकेले ऐसे जांबाज़ मंत्री है ,जिन्होंने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के दौरान ,कर्फ्यूग्रस्त कोटा क्षेत्र में अव्यवस्थाओं में चर्चा कर ,कोरोना एडवाइज़री की पालना के बावजूद ,इन क्षेत्रों में ,खाद्य आपूर्ति सहित कई अव्यवस्थाओं को सुधारने के निर्देश पर चर्चा की ,,, सभी जानते है ,जब देश में कोटा के जे के लोन अस्पताल में , मासूमों की मोत पर ,राजनीति की जा रही थी ,सब सिर्फ चटखारे ले रहे थे ,प्रतिपक्ष के नेता केंद्र से किसी तरह की मदद करवापाने में अक्षम थे ,तब अकेले शान्तिकुमार धारीवाल ने खुद के विधायक कोष से राशि दी ,,खुद की नोडल एजेंसी नगर विकास न्यास के ज़रिये जे के लोन में अलग परिसर बनाने की कार्ययोजना तैयार की ,जो योजना निर्माणाधीन है , जबकि आवश्यक उपकरण ,सुविधाएं सभी वार्डों में उपलब्ध करवाई ,, वर्तमान हालातों में लोक डाउन पर लोकडाउन के हालातों में ,कोटा के कर्फ्यूग्रस्त क्षेत्रों में एक तरफ तो , शान्तिधारीवाल ने इनकी टीम के सभी जांबाज़ कार्यकर्ताओं को खुद के खर्चे से राहत कार्य चलाने , खाने के पैकेट सहित सूखा राशन वितरण की हिदायतें दीं , तो दूसरी तरफ संक्रमित लोगों के इलाज की ,मॉनिटरिंग,, रिकवरी , व्यवस्थाओं को लेकर चिकित्सकों से लगातार फीड बेक का कार्यकम जारी रखा है ,, कर्फ्यूग्रस्त क्षेत्रों में सभी प्रयासों के बाद भी जब बी पी एल के बाद , ऐ पी एल ज़ररतमन्दों की ज़रूरतें देखीं , सांसद कोष से वितरित सामानों के वितरण में इस सिमित क्षेत्र में खुली पक्षपात की शिकायते जानी, तो शान्तिधारीवाल ने उनके विधायक कोष से पुरे एक करोड़ रूपये पूर्व में दी गयी राशि के अतिरिक्त ,, पीड़ित लोगों की राहत सामग्री वितरण के लिए ,,कलेक्टर को दिए ,जिससे इन क्षेत्रों में व्यवस्थाएं प्रशासन के माध्यम से जारी है ,, अमित धारीवाल , राजेंद्र सांखला , डॉक्टर ज़फ़र , अनिल सुंवालका ,, रामेश्वर सुंवालका , आबिद कागज़ी , संदीप भाटिया ,, राजीव आचार्य ,,राकेश सोरल ,, राकेश शर्मा राकू ,, कलीम भाई मंटू ,,अनिल जेन , एकता धारीवाल ,,शमीम खान , रुखसाना खान ,, सहित कई ज़िम्मेदार लोगों ज़िम्मेदारी दी , इन क्षेत्रों में राहत कार्यों में अव्यवस्था की शिकायतों पर इन्हे मार्गदर्शित भी किया ,, प्रशासन को चेतावनी भी दी ,और काफी दिक़्क़तों को दूर भी करने की कोशिशें हुईं ,,कोरोना एक एक ऐसा खतरनाक संक्रमण है ,,जो किधर से भी किसी को भी संक्रमित कर सकता है ,इस कारण ,कफ्र्यूग्रस्त क्षेत्रों में रहने वाले क्षत्रों की स्वास्थ के प्रति चिंता की वजह से , वहां ,, संक्रमण को रोकने के लिए ,, ज़िम्मेदारी ज़रूर दिखाना पढ़ी ,इससे लोगों को तकलीफ अगर हुई ,, तो खुद शान्तिधारीवाल के दिल को भी तकलीफ पहुंची है ,उन्होंने लगातार प्रशासन ,उनके कार्यकर्ताओं ,प्रतिनिधियों से सम्पर्क कर इस क्षेत्र में किसी भी तरह की परेशानी न हों इसके निर्देश जारी रखे है ,,, कोटा में विकास कार्यों के निर्माण का जायज़ा लिया ,,,तो आवश्यक निर्देश आगामी योजनाओं के लिए जारी किये ,,, राजस्थान में हाल ही में केंद्र सरकार की तथाकथित पैकेज की पोल उन्होंने ,सार्वजनिक रूप से ,खोलते हुए कहा ,ऋण योजनाओं में मज़दूर ,किसान ,गरीब लोग कहाँ है ,सिर्फ ऋण योजनाओं का पैकेज ,,मज़दूरों ,गरीबों ,ज़रूरतंमंदों को क्या राहत मिली ज़रा बताये तो सही ,,, कोटा सहित राजस्थान में किस विधायक ,किस सांसद की निधि से जो राजस्थान सरकार का रुपया है ,,किन लोगों को राहत सामग्री के पैकेट मिले इस मामले में अभी जांच चल रही है ,, ऐसे चेहरे जिन्होने राहत राशि वितरण में खुलकर पक्षपात या मनमानी की है ,वोह लोग बख्शे नहीं जाएंगे ,,,शांति धारीवाल इसीलिए तो चौबीस कैरेट गोल्ड है ,,बोल्ड है ,, सरकार के संगठन के संकटमोचक है ,, अपने कार्यकर्ताओं की समस्या के समाधान के लिए एक तत्काल सेवा माध्यम है ,, अपने विधानसभा क्षेत्र ,अपने शहर , अपने राज्य राजस्थान को खूबसूरत ,विकसित , खुशहाल ,रोज़गार व्यवस्थाओं में अव्वल बनाने के प्रयासों के कारण यह सब से अलग सब से अव्वल ,हर दिल अज़ीज़ ,सुपर हीरो केबिनेट मंत्री है ,,,, अख्तर खान अकेला कोटा राजस्थान

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...