हमें चाहने वाले मित्र

03 अक्तूबर 2020

उत्तरप्रदेश हाथरस बलात्कार ,हत्या की दरिंदगी के बाद ,देश भर में भाजपा का घिनोना चेहरा , देखकर आम जनता दुखी है ,यह गंदगी राजस्थान के भाजपाइयों ने और मज़बूत कर दी है

 उत्तरप्रदेश हाथरस बलात्कार ,हत्या की दरिंदगी के बाद ,देश भर में भाजपा का घिनोना चेहरा , देखकर आम जनता दुखी है ,यह गंदगी राजस्थान के भाजपाइयों ने और मज़बूत कर दी है ,, अफ़सोस की बात है ,एक पीड़िता से हाथरस में दरिंदगी की घटना हुई ,पहले डेमेज कंट्रोल के लिए ,मकान ,मुआवज़ा ,,वगेरा का प्रचार , फिर परिजनों की अघोषित नज़र बंदी , उनसे किसी के भी मिलने पर रोक , रास्ते में ही जनप्रतिनिधियो को रोकना , उन पर लाठीचार्ज ,अभद्रता ,,आधी रात को शव को जलाकर सबूत नष्ट करने की कोशिश , फोरेंसिक रिपोर्ट में बलात्कार से इंकार ,, फिर पीड़िता के परिजनों का नार्को टेस्ट ,,, घटना अजीब है ,,इन सब के बावजूद भी ,भाजपा के नेताओं में , संवेदनाये नहीं जाग रही ,भाजपा के नेता ,  भाजपा के क़लम वीर ,भाजपा के मीडिया एक्टिविस्ट , हाथरस की घटना पर कोई बयांन नहीं दे रहे , कोई आलोचना नहीं कर रहे है , वोह तो बस राजस्थान में भी बलात्कार हुए इसे टारगेट करने की कोशिश कर रहे है ,,अरे अक़्ल के अन्धो ,एक बिटिया के साथ बलात्कार , नृशंस हत्या पर तुम ,,  सियासत कर रहे हो ,अपने लोगों को दोष देकर उनके खिलाफ कार्यवाही की मांग करने की जगह ,,, घटना को ही तोड़ रहे हो ,मरोड़ रहे हो ,घटना पर फोकस कर , पीड़िता के परिजनों को इंसाफ दिलाने की जगह ,,लीपापोती कर रहे हो , कहाँ है ,तुम्हारा आदर्शवादी संगठन , आदर्शवादी संगठन  के सिद्धांतवादी लोग ,बेटी बचाओ ,बेटी पढ़ाओं की नौटंकी करने वाले लोग ,,, कई ज़िलों में भाजपा महिला मोर्चा से जुडी महिलाओं में भी इस मामले में आंतरिक आक्रोश है ,, एक बेटी के साथ नृशस अमानवीय हरकत ,फिर हत्या , और घटना में पारदर्शिता के जगह ,, लुका छिपी का खेल ,फिर लोगों को परिजनों से मिलने से रोकने की साज़िशें , क्या साबित करती है ,,दुखद बात तो यह है के भाजपा के सभी लोगों को ऐसी अमानवीय घटनाओं की निंदा करना चाहिए थी , लेकिन उन्होंने बलात्कार को कांग्रेस भाजपा बना दिया , हाथरस की घटना को तो वोह भूल गए ,, और घटना को मोड़ देने के लिए , देश को गुमराह करने के लिए ,राजस्थान के बलात्कार के आंकड़े लेकर आ रहे है ,अरे राजस्थान में अगर बलात्कार है ,अगर बलात्कार के बाद हत्याएं है , तो भाजपा के नेता वहां उनके परिजंनों के पास क्यों नहीं जाते , उन्हें प्रेस के सामने क्यों नहीं लाते ,, घटनाये होना अलग बात है ,लेकिन घटना पर लीपापोती करना , मुद्दे को भटकाना एक गंभीर सामजिक अपराध है ,जो यहाँ हो रहा है ,वर्तमान में ,राजस्थान के पच्चीस सांसद , बारां पूर्व मुख्यमंत्री  वसुंधरा सिंधिया के पुत्र का सांसद क्षेत्र ,, वहां अगर कोई घटना हुई है ,तो जाओ ,परिजनों से मिलो ,अगर राजस्थान की पुलिस रोके ,प्रशासन रोके , तो आंदोलन करो ,,हम आपके साथ है ,,कोटा में लोकसभा अध्यक्ष को पितृ शोक है ,,देश भर के वरिष्ठ नेता ,सांसद ,मंत्री ,मुख्यमंत्री ,भाजपा के सभी दिग्गज कोटा आ रहे है ,गमी बैठने आ आये है और सियासत के नाम पर प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रहे है ,जब आप प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रहे हो  ,, आपके लोग बारां में बलात्कार की घटना का बयान कर रहे है , रैली निकाल रहे है , तो फिर आप बारां जाकर , ऐसी घटना की सच्चाई क्यों देखना चाहते ,जाओ ,पीड़िता , उसके परिजनों से मिले ,एफ आई आर लो ,मेडिकल लो , पीड़िता के बयान की कॉपी लो ,अगर आपको कहीं अन्याय लगता है ,तो क़ानूनी मदद दो , कोन रोकेगा आपको ,रोके तो हम सब आपके साथ आंदोलन में खुले रूप से शामिल मिलेंगे , लेकिन प्लीज़ बेटियों के साथ बलात्कार , नृशस हत्याओं पर ,, ऐसी घटनाओं से फोकस हटाने के लिए , ऐसी ओछी हरकते तो मत करो ,,,,,,,  बेटिओं के साथ अत्याचार पर तो कमसे कम ,अपनी नैतिकता दिखाओ, ,,,मेरी भाजपा के अस्सी फीसदी नैतिकता भरे कार्यकर्ताओं से निवेदन है ,महिला मोर्चा की बहनों से निवेदन है ,आत्मचिंत करे ,सच्चाई सामने लाये ,,और जो लोग भी चाहे कांग्रेस के हो ,चाहे भाजपा के हो ऐसी घटनाओं में  पीड़िता को इन्साफ दिलवाने की बात करने की जगह ,, मुद्दे भटकाना चाहते है ,,  लीपापोती करने की सियासत कर रह है ,उन्हें बेनक़ाब करे ,चाहे वोह किसी भी पार्टी के हो , किसी भी समाज के ,हो ,कोई भी वर्ग से जुड़े हो , ,,  अख्तर खान अकेला कोटा राजस्थान

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...