हमें चाहने वाले मित्र

05 अगस्त 2020

कोटा मुकंदरा अभ्यारण्य में एक बाघ ,एक बाघिन की अकाल मोत ,फिर एक शावक के घायल होने ,एक शावक के घायल होने की घोर लापरवाही घटना के बाद ,,,फील्ड डाइरेक्टर ,, ऐ सी एफ , सिर्फ ऐ पी ओ किये गये है

कोटा मुकंदरा अभ्यारण्य में एक बाघ ,एक बाघिन की अकाल मोत ,फिर एक शावक के घायल होने ,एक शावक के घायल होने की घोर लापरवाही घटना के बाद ,,,फील्ड डाइरेक्टर ,, ऐ सी एफ , सिर्फ ऐ पी ओ किये गये है ,निलंबित नहीं हुए है ,जबकि ऐ सी एफ को निलंबित किया गया है ,, खुशी की बात यह है के इस बार ,कथित वन्य जीव प्रेमी ,वन्य जीव कथित जर्नलिस्ट ,चाहकर भी इन वन्य जीव अधिकारीयों की चापलूसी कर ,वकालत नहीं कर पाए है ,, अधिकतम पत्रकारों ने अपनी भूमिका ,,ईमानदाराना निभाने का प्रयास किया है ,जबकि ठंडे बसते में बंद ,, वन्य जीव प्रेमी ,, भी अब लापरवाही मानने लगे है ,इसके पहले ,,बाघ की मृत्यु पर , इनकी ज़ुबान हलक़ में अटकी हुई थी ,,कुछ तो मेरे आरोपों के बाद ,शिकायत करने की जगह ,,उलटे ,,वन अधिकारीयों के सम्मान में क़सीदे पढ़ते हुए वकालत करने लगे थे ,, खेर लापरवाही कहो ,या हादसा , जांच में क्या निष्पक्षता ,या लीपापोती होती है ,यह तो वक़्त बताएगा ,लेकिन मुकंदरा तो इन वन अधिकारीयों , और मॉनिटरिंग करने वाले वन्य जीव प्रेमियों की लापरवाही से तबाह हो ही गया ना ,,, अभी भी कुछ नहीं बिगड़ा है ,, अख़बारों में , या फिर ट्वीटर पर जो ज्ञान बाँट रहे है ,वोह सभी वन्य जीव प्रेमी अगर सही मायनों में मुकंदरा के हमदर्द है ,वन्य जीव के हमदर्द है तो , पहले मरने वाले ,बाघ ,इस बाघिन की पोस्टमार्टम रिपोर्ट लें , उसे देखे ,अवलोकन करे ,, वीडियोग्राफी अंतिम संस्कार की लें ,,विस्तृत रूप से वन्य जीव संरक्षण अधिनियम के विधिक प्रावधानों का अवलोकन करे ,,एक ज्ञापन तैयार करे और कलेक्टर के माध्यम से इस की जाँच के लिए लिखित में कार्यवाही करे वर्ना दिखावा तो कोई भी कर सकता है ,,सही मायनों में वन्य जीव प्रेमियों का लिखित ज्ञापन , ज्ञापन में दोषी अधिकारीयों को सज़ा दिलवाने की मांग ही ,उन्हें वन्य जीव प्रेमी ओरिजनल होने का सुबूत देने वाला बता पाएंगे ,वर्ना , बुरा हुआ ,गलत हुआ ,लापरवाही हुई ,जांच होना चाहिए ,जांच हो रही है ,यह तो रटे रटाये जुमले सभी बोलते रहे है ,, ,अख्तर खान अकेला कोटा राजस्थान

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...