हमें चाहने वाले मित्र

30 जून 2020

कोटा दक्षिण नगर निगम ,प्रशासक की ज़िम्मेदारी , कीर्ती राठोड के लिए ,प्रशासनिक व्यवस्थाओं को लेकर इतिहास बनाती है या फिर वही आराजकता ,अव्यवस्था का माहौल रहता ,है

कोटा दक्षिण नगर निगम ,प्रशासक की ज़िम्मेदारी , कीर्ती राठोड के लिए ,प्रशासनिक व्यवस्थाओं को लेकर  इतिहास बनाती है या फिर वही आराजकता ,अव्यवस्था का माहौल रहता ,है यह तो वक़्त बताएगा ,, लेकिन फीलहाल नगर निगम कोटा  दक्षिण में नवनियुक्त प्रशासक कीर्ती राठोड की प्रशासनिक कार्यकुशलता ,  कार्यप्रबंधन में टीम लीडर व्यवस्था ,,कोटा के पुराने प्रशासनिक अनुभव ,स्थानीय जनप्रतिनिधियों के  मिजाज़ की पहचान से तो यही लगता है ,के कीर्ति राठोड कोटा दक्षिण नगरनिगम में सीमित  सुविधाओं ,सीमित साधनों के बाद भी यहां व्यस्थाएं संभाल लेंगी , कोटा दक्षिण नगर निगम में तात्कालिक चुनौतियों में चुवाव प्रबंधन ,,नयी व्यवस्थाएं होने से ,उनका व्यवस्थित जमावड़ा , कर्चारियों ,अधिकारीयों , जनप्रतिनिधियों से ,तालमेल , कोरोना संक्रमण महामारी के वक़्त राजकीय निगम ज़िम्मेदारियों की क्रियान्विति ,, खासकर बारिश के माहौल में ,नालों की सफाई ,नए सर्वेक्षण के तहत गलियों ,सड़को पर पानी जमा होकर बाढ़ सी  स्थिति न बने इसकी कार्ययोजना तैयार कर स्थाई समाधान ,,तेज़ अंधड़ के वक़्त पार्कों ,सड़क के किनारे ,,टूटे सूखे पेड़ ,या लहराती डालियाँ टूटकर न गिर जाए ,इंसानी ज़िंदगियों की मोत का कारण न बने ,उन्हें छटाई ,कटाई ,करवाना भी शामिल ,है जबकि ,स्ट्रीट डॉग ,,  आवारा जानवरों सहित कुछ फर्श कॉलोनियों में सुअरों के आतंक से मुक्ति दिलाने का प्रबंधन भी होना चाइये ,,कीर्ति राठोड के अनुभव , इनकी कार्यशैली से तो यही लगता है के इंशा अल्लाह ,, व्यस्थाओं के कुशल प्रबंधन में कीर्ति ,, कीर्तिमान बना लेंगी ,,, जी हाँ दोस्तों ,कीर्ति राठोड कोटा में कई महत्वपूर्ण पदों  पर काम करती रही है ,उन्होंने कोटा नगर निगम उपायुक्त के चुनौतीपूर्ण कार्यों की ज़िम्मेदारी सफलतापूर्वक संभाली है ,जबकि नगर विकास न्यास में भी भी वोह कामयाब रही है , कीर्ती राठोड के पुराने अनुभव ,कोटा की सोंदर्यकरण विकास योजनाए ,, कोटा के लोगों का मिजाज़ , जनप्रतिनधियों की कार्यशैली , क्लीन सीटी ,  स्मार्ट सीटी योजनाओं सहित ,साफ़ सफाई ,, नालों की सफाई ,,बढ़ी बढ़ी  मल्टी स्टोरी बिलिडंग सहित दूसरे भवनों में फायर ब्रिगेड सहित सुरक्षात्मक व्यस्थाओं की उन्हें पूरी जानकारी है ,, ,कीर्ति राठोड के ज़िम्मे कोटा दक्षिण के 80 वार्ड है ,जिसमे कोटा के सांसद लोकसभा अध्यक्ष सहित कई दिग्गज राजनीतिज्ञों का दखल , है जबकी ,केबिनेट मंत्री  शान्तिकुमार धारीवाल का इस क्षेत्र में कई विकास ,, सोंदर्यकरण योजनाओ पर खुला फोकस है ,, ऐसे में अपने नवसृजित पद पर कुशल प्रबंधन व्यवस्था के लिए कीर्ति को ,कीर्तिमान बनाने के लिए ,कढ़ी मेहनत के साथ कार्यकुशलता ,सूझबूझ से काम करना एक चुनौती है , लेकिन कीर्ति के प्रबंधन हौसले ,, कार्यशैली ,,कुशल वक्ता ,, बोल्डनेस , कार्यव्यवस्था में पारखी नज़र ,,अधीनस्थ अधिकारी कर्मचारियों से अनुशासित समन्वय ,,टीम लीडर का कुशल नेतृत्व के  चलते उनके लिए यह असम्भव कार्य सम्भव सा लगता है ,,, कीर्ति राठोड यूँ तो प्रशासनिक अधिकारी है ,लेकिन वोह कुशल वक्ता भी है ,,बिना अटके ,,बिना ,रुके वोह हर मुद्दे ,पर ,मधुर अलफ़ाज़ , पुरकशिश आवाज़ , उच्चारण समन्वय के साथ जब बोलती है ,,तो यक़ीनन लोग उन्हें एक बेहतर से बेहतर वक्ता स्वीकारने में कोई कोताही नहीं बरतते ,, अपने कामकाज में ईमानदाराना व्यवस्था के साथ ,,जनप्रतिनिधियों की गलत डिमांड के खिलाफ भी यह नर्म रुख के साथ ,,सख्त से भी ज़्यादा सख्त है ,,दबाव बनाकर , धमकाकर इनसे कोई भी अवैध काम करवाने की कोशिश पहले के जनप्रतिनिधियों से टकराव से स्पष्ट है के नाकाम ही रहती ,है ,,वर्क टू रूल ,,कार्यगुणवत्ता , अनुशासित व्यवहार ,, आमजनता की शिकायतों के त्वरित निराकरण पर सीधा फोकस ,दफ्तर में अधीनस्थों के पास अटकी पत्रावलियों में बेवजह के रोड़ेबाजी से पनपने  वाले भ्रष्टाचार के खिलाफ यह चाक चौबंद है ,, अभी कीर्ति राठोड को कोटा दक्षिण प्रशासक बने हुए एक सप्ताह ही हुआ है ,कार्यालय व्यवस्था बनने ,स्टाफ प्रबंधन ,,क्षेत्राधिकार ,,  नया बजट , भवन ,बैठने की व्यवस्थाएं , साफसफाई ,डम्पर उपकरण कर्मचारियों का स्टाफ वगेरा  मामले में वक़्त लगेगा ,नगर निगम चुनाव की प्रक्रिया तेज़ी पर है ,, लोकडाउन कहो या फिर कोरोना संक्रमण का खतरा ,ऐसे में इनकी ज़िम्मेदारियाँ और बढ़ी है ,,  पेंशन ,योजना  बी पी एल सहित सभी तरह की सरकारी योजनाओं के क्रियान्वन की नोडल एजेंसीं होने से ,कोटा दक्षिण में थोड़ी सख्ती , थोड़ी अव्यवस्था रहेगी ,ऐसा तो हमे स्वीकार करना ही होगा ,, पाली ज़िले की  जन्म 31 अक्टूबर 1973 हुआ उन्होंने अंग्रेजी , हिस्ट्री ,लोकप्रशासन विषय लेकर प्रथम श्रेणी में अधिकतम अंक लेकर  स्नातक की परीक्षा पास ,की फिर हिस्ट्री में एम ऐ फर्स्ट तो फर्स्ट डिवीज़न में उत्तीर्ण किया ,, उनका एक ख्वाब ,एक सपना छात्र जीवन से ही अधिकारी बनने का रहा ,, वोह अधिकारीयों को देखकर खुद भी कल्पना करती थी के में भी एक दिन ऐसी ही अधिकारी बनूंगी , कीर्ती को कीर्तिमान बनाना था ,इसलिए उन्होंने अधिकारी बनने का सपना देखा ,उसके लिए कोशिशें की ,और वर्ष 2006 में  राजस्थान प्रशासनिक अधिकारी के लिए चयनित हुई ,  अपने सपने , अपने ख्वाब को पूरा करने के साथ ही , कीर्ति अपने कामकाज में इमान्दाराना अनुशासन , के कीर्तिमान बनाने के लिए संकल्पबद्ध , वचनबद्ध हुई ,, उन्होंने संकल्प लिया ,आने वाली पीढ़ी के लिए , खासकर महिलाओं ,,बच्चियों के लिए वोह एक आइकॉन बनेगीं , नए छात्र छात्राओं को , राजस्थान प्रशासनिक प्रवेश परीक्षा की सफलता के टिप्स ,, कोई काम नहीं है मुश्किल जब किया इरादा पक्का के नारे के साथ ,सिखाएंगी ,और कीर्ति अपने प्रशासनिक कार्यों के साथ ,इस मामले में उनसे मार्गदर्शन लेने वाले ,छात्र छात्राओं को निराश नहीं करती ,है हौसला देती ,है ,हिम्मत देती है , टिप्स देती है ,, कीर्ति राठोड ने प्रशानिक प्रशिक्षण उदयपुर में लिए , इसके बाद उदयपुर प्रोग्राम ऑफिसर , भिंडर ,, फिर गिरवा में रहीं ,, कीर्ति सिरोही पिंडवाड़ा एस डी ओ ,, प्रोटोकॉल ऑफिसर उदयपुर जी ऐ डी , एस डी ओ राजसमंद ऐ एम इ टी , एस डी ओ झाड़ोल उदयपुर ,,रहीं नगर विकास न्यास उदयपुर में विशेषाधिकारी के बाद कोटा नगर निगम , कोटा नगर विकास न्यास फिर कोटा नगर निगम उपायुक्त के बाद अब , कोटा में दो नगर निगम बनने के बाद , कोटा दक्षिण की प्रशासक की  ज़िम्मेदारी के पद पर हैं ,,,, कीर्ति राठोड , कोटा में सफल प्रशासनिक सेवा का कीर्तिमान बनाये ,कोटा को क्लीन सिटी ,, स्मार्ट सिटी ,सोंदर्यकरत सिटी , विकसित सिटी , व्यस्थित सिटी ,सहित तत्काल एकल खिड़की योजना पर ,आम लोगों के कार्य निस्तारण का भी कीर्तिमान बनाये ऐसी दुआए ,ऐसा विश्वास है ,,,,,,,, अख्तर खान अकेला कोटा राजस्थान

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...