हमें चाहने वाले मित्र

22 जुलाई 2018

भाइयो भक्त होंगे ,तो यह अलफ़ाज़ आपको बुरे लगेंगे आप मेरी आलोचना करेंगे ,भ्रामक ,हास्यास्पद टिप्पणियां करेंगे ,लेकिन राष्ट्रभक्त होंगे तो आप इन अल्फ़ाज़ों की सराहना करोगे

भाइयो भक्त होंगे ,तो यह अलफ़ाज़ आपको बुरे लगेंगे आप मेरी आलोचना करेंगे ,भ्रामक ,हास्यास्पद टिप्पणियां करेंगे ,लेकिन राष्ट्रभक्त होंगे तो आप इन अल्फ़ाज़ों की सराहना करोगे ,,
आदरणीय साहिब गुजरात के शासन में आपके खून के धब्बे ,,आदरणीय तात्कालिक प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का आपको राजधर्म सिखाने की नसीहत ,,,अमेरिका द्वारा खुनी धब्बों की जांच में शामिल बताकर ,आपकी अमेरिका यात्रा प्रतिबंधित कर देना ,मुझे उस वक़्त अच्छा नहीं लगा था ,, आप पर खून के धब्बे के इलज़ाम अमेरिका द्वारा लगाने के में व्यक्तिगत खिलाफ था ,,आप जब देश में सो कोल्ड प्रधानमंत्री भाजपा के लोकतंत्र सिस्टम को लांघ कर उम्मीदवार बने तब भी हमे बुरा नहीं लगा ,,आपने कहा आधार कार्ड से आतंकवाद भड़केगा ,आपने कहा ,बीफ का व्यापार देश को बर्बाद कर देगा ,आपने ,कहा गांय को माता का दर्जा देना चाहिए ,आपने कहा मंदिर वहीँ ,अभी जल्दी बनाएंगे ,आपने कहा ,सीमाओं पर फौजी मर रहे है ,और सरकार दुश्मन देश को लव लेटर लिख रही है ,यह लव लेटर लिखना बंद करो ,,आपने कहा काला धन आएगा ,भ्रष्टाचार मुक्त भारत के लिए लोकपाल आएगा ,अपराधी सांसदों ,विधायकों के लिए अलग अदालत बनेगी ,आपने कहा ,,पाकिस्तान को मज़ा चखाएंगे ,,हर नागरिक के खाते में पंद्रह लाख आएंगे ,अपने कहा रसोई गैस के दाम आसमान पर है ,,सब्ज़ियों के दाम आसमान पर है ,पेट्रोल के भाव आसमान छू रहे है ,आपकी अपील थी ,हमे वोट दो ,,हम आम आदमी ,हम किसान ,हम ,जवान ,,हम बेरोज़गार सपने सजोने लगे ,एक आदर्श भारत के निर्माण के लिए सब एक जुट हुए ,आपका साथ दिया ,और आम आदमी उम्मीदों के साथ आपके मुखोटे को देश के प्रधानमंत्री के रूप में लाया ,आपने संसद की चौखट मंदिर कहकर चूमा ,हमने सोचा आप इसे मंदिर मानते है यहां झूंठ नहीं बोलेंगे ,देश के लिए अच्छी योजनाओं के लिए हमेशा , रहेंगे ,संसद में हर सांसद अपनी बात कह सके उस पर चर्चा करेंगे ,प्रतिपक्ष का नेता बनाएंगे ,लेकिन प्रतिपक्ष का नेता बनाने की बात तो दूर आपने तो लालकृष्ण अडवाणी ,,मुरलीमनोहर जोशी जैसे ज़िम्मेदारां को किनारे बिठा दिया ,हारे हुए लोगो को जिन्हे जनता ने नकार दिया था जीते हुए आपके अपने सांसदों पर मंत्री बना दिया ,आपका प्यार इन लोगो पर इतना के चोर दरवाज़े से उन्हें राजयसभा में सांसद बना दिया ,यह प्यार किसलिए ,क्यों ,उजागर आज तक नहीं किया ,जनाब देश की जनता को आपने धोखा दिया ,जिस दुश्मन देश को लव लेटर लिखने से आप इंकार करते थे उस दुश्मन देश पाकिस्तान के प्रमुख को आपने अपने शपथ ग्रहण में बुलाया ,जिस अमेरिका ने मुख्यमंत्री रहते आपका अपमान किया था उसे आपने दावत दी ,,इतना ही नहीं क़ाबुल यात्रा के बाद ,बिना देश की संसद से पूंछे ,बिना देश को विश्वास में लिए आप पाकिस्तान पहुंच गए ,आप पाकिस्तान प्रधानमंत्री शरीफ के गले पढ़ गए ,नतीजा आपके आते ही पठानकोट में कई सेनिको को शहादत का दंड भुगतना पढ़ा ,,रोज़ सैनिक शहीद होते रहे ,जिन्हे आप आतंकवाद की सरगना कहते थे ,उस महबूबा के साथ इश्क़ कर आपने सरकार बना डाली ,,जिस संसद को मंदिर कहकर अपने चौखट चूमी थी वहां से आप नदारद रहे ,देश में कम विदेशो में ज़्यादा रहे ,इधर सैनिक शहीद होते रहे ,किसान आत्महत्या करते रहे ,सुप्रीम कोर्ट मोब्लिचिंग ,,लोकतंत्र ,,लोकपाल पर चीखती रही ,अपने परवाह नहीं की बेरोज़गारो को पकोड़े बनाने की सलाह आपके सामने दी ,गयी आप खामोश ,रहे ,पेट्रोल आसमान पर ,रसोई गैस के भाव लगातार बढाए ,बाक़ी सामानों के हालात आप जानते ,है ,,बीफ का व्यापार रोकने में आप नाकाम ही नहीं रहे व्यापार में और बढ़ोतरी हुई ,आपके नेतृत्व वाले समर्थक मुख्यमंत्री क्षेत्र में आप गांय का क़त्ल नहीं रोक ,सके आपके समर्थक लोग चीख कर कहते रहे हाँ हम बीफ खाते है आप चुप रहे ,,सड़को पर आपके लोग ,,आपके समर्थक लोग ,निहत्थे लोगो को गांय के नाम पर रोज़ मारे जा रहे है ,बेरहमी से उनका क़त्ल हो रहा है ,पहले आप एक बार रोये ,लेकिन यह लोग नहीं माने ,आपके मंत्री जो आपकी केबिनेट में है वोह ऐसे लोगो की पीठ थपथपाते है ,,जेल से छूटने के बाद ऐसे लोगो को माला पहना कर स्वागत करते है ,महिमा मंडित करते है ,,आपकी राज्य की सरकारें ऐसे लोगो की समर्थक बनकर उनके मुक़दमे कमज़ोर करती है ,,उन्हें बरी करवाती है ,मज़हब के नाम पर ,नफरत अभिव्यक्ति के नाम पर नफरत ,मिडिया की आज़ादी के नाम जो आपके एकतरफा गुणगायक मिडिया है ,उन्हें नफरत की खुली बहस करवाने की आज़ादी ,,नफरत भड़काने की आज़ादी ,,जो कुछ गिनती के पत्रकार देश के साथ है ,आपके आपको आयना दिखाते है उनकी खबरों को रोकना ,उनके चैनलों को प्रतिबंधित करना ,अख़बारों के विज्ञापन रोकना ,चैनलों का प्रसारण डी एक्टिवेट करना ,अजीब लोकतंत्र है जनाब आपका ,,खेर अविश्वास प्रस्ताव से आप घबराये ,,ज़रा सोचो आपके समर्थक लोग आपके खिलाफ हुए ,आपके समर्थक सरकार में भागीदार लोग शिवसेना हो या फिर दूसरा दल ,विश्वास में आपके साथ खड़े नज़र नहीं आये तटस्थ हो गए ,ऐसा क्यों हुआ ,क्यों आपको सांसदों की अंतर्रात्मा घोट कर बाड़ेबंदी करवाकर उन्हें आपके विश्वास की तरफ खड़े रहने के लिए मजबूर किया गया ,आज़ाद क्यों नहीं छोड़ा गया ,,राजस्थान में आपकी मर्ज़ी का आप प्रदेश अध्यक्ष नहीं बना पाए ,और एक राष्ट्रीय स्तर की पार्टी के राष्टीर्य अध्यक्ष की सहजह्रदयता से जादू की झपकी ,प्यार ,सम्मान को आप गले पढ़ना कहकर मज़ाक़ उढ़ा रहे ,है अरे हमारी देश की बहने जिनको उनके पतियों ने बिना किसी युक्ति युक्त कारण के डजर्ट ,नेग्लेट किया हुआ है ,परित्यक्ता बनाये हुए है ,उन लाखों करोडो महिलाओं की आप सोचिये ,जसोदा बेन की बात अलग है वोह तो अध्यापिका थी ,उनका गुज़ारा हो गया लकिन हर परित्यक्ता के पास रोज़गार नहीं होता ,ऐसी महिलाओं के बारे में सोचने की जगह आप ट्रिपल तलाक़ की सियासत कर रहे ,है ,करो लेकिन देश की हर महिला का सम्मान आप करके ,दिखाइए ,जो महिला आपके लिए करवाचौथ रखती है प्लीज़ ,देश को ऐसी महिला को सम्मानित कर एक संदेश दीजिये एक आदेश दीजिये के यूँ ही बिना किसी युक्तियुक्त कारण के किसी महिला को ,विवाहित महिला को छोड़ना दर्दनाक होता है ,एक बार संदेशित तो कीजिये न जाने कितनी बहने जीउठेगी ,सिसकती बहने खुशियों से महक उठेगी ,इस देश के लिए इस देश के किसान ,इस देश के जवान ,गरीबों के लिए सोचिये जनाब ,आपसे उम्मीदे थी ,आप पर विश्वास था ,वोह पूरा नहीं हुआ ,खुद अपने आपसे पूँछिये ,चिंतन कीजिये ,,इन सवालों की परिधि में खुद से पूँछिये ,,संसद में जवाब देने की ज़रूरत नहीं ,बस खुद भगवत गीता को हाज़िर नाज़िर जानक र कह दीजिये आपने जो कहा वोह नब्बे फीसदी भी करके दिखाया तो जनता आप पर विश्वास कर लेगी ,में भी आप पर विश्वास कर लूंगा ,,अख्तर खान अकेला कोटा राजस्थान

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...