हमें चाहने वाले मित्र

15 मई 2018

कोटा के वकील साथी

कोटा के वकील साथी ,,एक दूसरे को नीचा दिखाने ,,एक दूसरे का मान मर्दन करने ,,एक दूसरे को बरकोन्सिल चुनाव में हराने ,,ईस्ट इण्डिया कम्पनी की तरह से बाहरी प्रत्याक्षियों को यहाँ लेकर उनकी पार्टियां ,,दावते करवाकर उन्हें कोटा के वोट दिलवाने में व्यस्त रहे ,,कुछ लोग भाई साहबों में लगे रहे ,इधर उदयपुर के वकीलों ने बार कौंसिल में उदयपुर से एक वोट बाहर नहीं जाने दिया ,,सरकार का गिरेहबान झंझोड़ा ,,मर्दानगी दिखाई ,,और अब देख लीजिये ,,मुख्यमंत्री कोटा में आधा दर्जन बार कोटा से आकर वापस चली गयीं ,अभी भी कोटा संभाग में है ,,प्रभारी मंत्री,दूसरे मंत्री ,विधायक ,सांसद जिन्होंने को को हाईकोर्ट बेंच दिलवाने ,,,कोटा के वकीलों को एक रुपये में प्लाट दिलवाने का लिखित आश्वासन दिया था वोह छुट्टे घूम रहे है ,,बस नतीजे बदले है ,श्रीचंद कृपलानी जो कभी कोटा के जिलेवासियों की मदद से सियासत में आये ,,सिरमौर बने सांसद बने ,आज वही श्री चंद कृपलानी उदयपुर में हाईकोर्ट बेंच की पैरवी कर रहे है ,उदयपुर में हायकोर्ट बेंच के प्रस्ताव भेजने की बात कर रहे है ,,वही श्री चंद कृपलानी 11 सदस्यों के शिष्ट मंडल को राष्ट्रपति से मिलवाने की बात कर रहे है ,कोटा में चुल्लू भर पानी तो बहुत है लेकिन शर्मसार होकर उसमे डूब मरने वालो की कमी है ,चंबल का पानी भी बहुत है ,लेकिन उसे पीकर मर्दानगी दिखाने वालों की कमी नज़र आने लगी है ,खेर सेटिंग हो गया तो उदयपुर गयी हाईकोर्ट बेंच ,,,नहीं तो अंगड़ाई ली ,,जैसा मज़बूत जांबाज़ कोटा का निर्गुट ,निष्पक्ष नेतृत्व है अगर वैसा उस नेतृत्व ने आज ही बिगुल बजा दिया ,,आज ही कोटा के सांसद विधायकों को घेर लिया ,,आज ही हाड़ोती संभाग में आयी मुख्यमंत्री को सबक़ सीखा दिया तो फिर कोटा का हक़ भी हाईकोर्ट बेंच के लिए और दूसरे संभाग से ज़्यादा ,,बहुत ज़्यादा है ,हर ऐतेबार से ,,जनसंख्या ,,,मुक़दमों की संख्या ,,भौगोलिक परिस्थिति ,,आदिवासी क्षेत्र ,,सहित सभी हाईकोर्ट बेंच के लिए आवश्यक व्यवस्थाएं कोटा में है ,,काश कोटा का चबंल का पानी ,हाड़ोती की मर्दानगी का इतिहास ,,इस हायकोर्ट बेंच की जंग के लिए एक बार फिर ज़िंदा हो जाए ,,मज़बूत हो जाए वरना हम खुद को ,,अपने वकील समुदाय को कभी माफ़ नहीं कर सकेंगे ,,,को संभाग के पक्षकारो ,कोटा की जनता को हम शक्ल दिखाने लायक भी न रहेंगे ,कोटा में रावतभाटा ,,,सवाईमाधोपुर ,, टोंक तक कोटा हायकोर्ट बेंच के क्षेत्राधिकार में आने को तैयार बैठे है ,,अख्तर खान अकेला कोटा राजस्थान

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...