हमें चाहने वाले मित्र

25 अप्रैल 2018

राम रहीम ,हो ,,आसाराम हो ,चाहे कोई भी ,,किसी भी धर्म मज़हब के गुरु हो ,

राम रहीम ,हो ,,आसाराम हो ,चाहे कोई भी ,,किसी भी धर्म मज़हब के गुरु हो ,जहाँ रिहायशी आश्रम ,,रिहायशी पाठशालाये ,,मदरसे ,,खानकाये ,,मठ ,,,मंदिर ,मस्जिद ,,गिरजा ,,गुरुद्वारा ,,,किसी भी धर्म मज़हब के आस्थाने हो ,,वहां ,,आसाराम ,,रामरहीम की सज़ा के और दिल्ली में एक बाबा के भगोड़े होने के ,, बाद केंद्र सरकार को छलनी की तरह से छानने ,,की प्रक्रिया बनाना चाहिए ,,,केंद्र सरकार को वर्तमान हालातों में जब सभी धर्म मज़हब के इदारों में महिलाओं के साथ यौनशोषण की घटनाये साबित हो रही है तब ,,देश में महिलाओ की अस्मत की सुरक्षा के लिए ऐसे सभी धार्मिक इदारों के निरीक्षण ,,ऐसे इदारों के संचालन को लेकर क़ानून बनना चाहिए ,नियम बनना चाहिए ,,मस्जिद ,,दरगाह ,,मंदिर ,,गिरजा ,गुरुद्वारा ,इबादत की जगह है ,लेकिन मज़हबी शिक्षा ,,आस्थाओं का आश्रम ,या फिर कोई भी रिहायशी मज़हबी व्यवस्था हो तो वहां ,नियमित जिलाधिकारी ,पुलिस अधीक्षक द्वारा जांच किये जाने एक वर्ष से अधिक की सभी बच्चियों ,,,महिलाओं ,उनके संरक्षक ,मातापिता की एन्ट्री होना चाहिए ,,वहां रह रहे पुरुषों की भी लगातार सूचीबद्ध कर जांच होना चाहिए ,अचानक छापामार कार्यवाही भी होना चाहिए ,,,जहाँ महिलाये ,,बेटियां सुरक्षित हों ,वहां पुरस्कार दिया जाना चाहिए ,लेकिन जहाँ बेटियों ,,महिलाओं या फिर पुरुषवर्ग के साथ भी अगर कहीं कोई ज़्यादती होती हुई दिखे तो ऐसे सभी मज़हबी इदारों को बंद कर उनके धर्म गुरुओं ,पंडित ,,मौलवी ,,संत ,,साधुओ ,,मुफ्तियों को जेल का रास्ता दिखाने का क़ानून बनाना , ज़रूरी है ,,सहमत हो तो प्लीज़ समर्थन करे वरना मेरे अभिन्न मित्र आदरणीय आलोचक डॉक्टर रजत बेरी साहिब ,चंद्र प्रकाश रटुरी व् अन्य साथियो के साथ जैसी भी ऊलजलूल प्रतिक्रियाएं चाहे कीजिये ,,अख्तर खान अकेला कोटा राजस्थान

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...