हमें चाहने वाले मित्र

05 अप्रैल 2018

सभी जानते है ,समाज में अबला कही जाने वाली महिला ,,पुरुषो अधिक समझदार ,,अधिक कामयाब ,,मेहनती और ज़िम्मेदार होती है

सभी जानते है ,समाज में अबला कही जाने वाली महिला ,,पुरुषो अधिक समझदार ,,अधिक कामयाब ,,मेहनती और ज़िम्मेदार होती है ,,वोह घर भी चलाती है ,वोह नौकरी या व्यवसाय भी करती है ,बच्चे भी पालती है और अपने कामकाज भी निपटाती है ,,बस उम्र के मामले में थोड़ी ,,,,,समझ गए ना , हाल ही में ,,कोटा न्यायलय में कार्यरत सहरिस्तेदार यानी ,वरिष्ठ रीडर ,बहन ,श्रीमती सरविंदर कोर को ,,सेवानिवृति दी गयी है ,उम्र के पड़ाव में तो वोह सरकारी हिसाब से सेवानिवृत्ति की आयु में है ,लेकिन उन्हें देखकर कोई कह नहीं सकता के उनकी उम्र अभी सेवानिवृत्ति की हो गयी है ,,,आज मेने अदालत परिसर में सेवानिवृत्ति के बाद कोटा के इतिहास की पहली महिला सेल अमीन ,,यानि अदालत के आदेशों की पालना सुनिश्चित करने वाली नियुक्त होने वाली श्रीमती सरविन्दर कौर से सवाल किया ,,के सरकार ने आपको ,,जवानी में ही सेवानिवृत्ति दे ,दी उन्होंने मुस्कुराकर स्वीकारते हुए कहा ,,जी हाँ ,,पहले ,,जन्म तिथी लिखवाते वक़्त कुछ मनचाहा पन होता था इसीलिए सत्ताईस माह उनकी उम्र ज़्यादा लिखाई जाने से उन्हें यह सरकारी रिकॉर्ड के अनुरूप सेवानिवृत्ति मिली ,,है मृदुल स्वभावी ,,अपने काम के प्रति ईमानदाराना समर्पण इनकी पहचान रही है ,,सभी न्यायिक अधिकारियो से उनकी कार्यकुशलता के कारण इनके संबंध बहत्तर प्रशासनिक रहे है ,,बावजूद इसके ,,,न्यायिक कर्मचारियों की नेता होने के कारण इन्होने इनकी अध्यक्ष कार्यकाल में न्यायिक कर्मचारियों को उनके हक़ भी दिलवाये है ,,बहन श्रीमती सरविंदर कोर ,राजनीतीविज्ञानं में एम ऐ है ,,वोह वर्ष 1994 में न्यायिक कर्मचारी की सेवा में नियुक्त हुई थी ,,उन्होंने न्यायिक कर्मचारियों के हक़ के लिए संघर्षः भी किया ,,उन्हें कोटा न्यायिक कर्मचारी संघ का अध्यक्ष भी निर्वाचित किया गया ,,सरविंदर कोटा के न्यायिक इतिहास में पहली महिला कर्मचारी रही है जो जिन्होंने कर्मचारी संघ का कुशलता से नेतृत्व करते हुए कई कल्याणकारी कार्यक्रम क्रियान्वित किये ,,,सरविंदर हाल ही में 31 मार्च को सेवानिवृत्त हुई है ,लेकिन उनकी जुस्तजू उनकी लगन ही है ,,जो तीन दिन बाद वोह फिर न्यायिक क्षेत्र का सक्रिय हिस्सा बनकर शामिल हुई है ,,सरविंदर को जिला जज कोटा ने ,,सेल अमीन ,,यानी कुर्की ,,डिक्री ,,की पालना करने के पद पर नियुक्त किया है ,,उन्होंने तुरतं अपना सेल अमीन का कार्य शुरू कर दिया है ,,सरविंदर कोटा की पहली महिला सेल अमीन नियुक्त हुई है ,,,उन्होंने अपनी पारिवारिक सामाजिक ज़िम्मेदारियाँ भी बखूबी निभाई है ,,उनकी एक बेटी मल्टीनेशनल नेशनल कम्पनी में महत्वपूर्ण पद पर है जबकि पुत्र ,पुत्रवधु भी ज़िम्मेदार पद पर है ,,सरविंदर छात्र जीवन से ही सक्रिय रही है ,और वोह राजकीय महाविद्यालय कोटा में सांस्कृतिक सचिव का कार्य भी बखूबी निभा चुकी ,,है ,बहन सरविंदर को बधाई ,,मुबारकबाद ,,अख्तर खान अकेला कोटा राजस्थान

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...