हमें चाहने वाले मित्र

14 जनवरी 2018

ग्राम चंद्रेसल फ़तेह फॉर्म हाउस ,,भाई तुफेल के महमाननवाज़ी में आज ,

ग्राम चंद्रेसल फ़तेह फॉर्म हाउस ,,भाई तुफेल के महमाननवाज़ी में आज ,,गोस ऐ पाक ,,की फातिहा का मर्कज़ रहा ,,फतेह फ़ार्म पर ,,गोस ऐ पाक की फातिहा ,,इसके पहले ,,,मज़हबी नशिस्त ,,आलिमो की मौजूदगी में ,,या गोस ऐ पाक ,,के नज़ारो का मंज़रकशी बयान ,,,फ़तेह फॉर्म हाऊस के लिए ,,सूफियाना माहौल रहा ,,,भाई तुफेल अहमद के बढे भाई ,,,,आली जनाब मौलाना फ़ज़्ले हक़ साहिब ,,अभी हाल ही में या गोस ऐ पाक के मज़ार शरीफ बगदाद से ,,ज़ियारत की यादे ,,तबर्रुक की चाशनी लेकर लोटे है ,,सभी ने उन्हें मुबारकबाद दी ,,,,कोटा शहर के सभी मोअज़्ज़िज़ लोगो ने मिलकर ,,फतेह फार्म हाउस ,,,के ख़ुशनूदी माहौल ,,नदी के किनारे ,,हरे भरे पेढ़ो के नीचे ,,,या गोस पाक ,,की फातिहा के पुर लुत्फ़ लज़ीज़ तबर्रुक से महमानो की नवाज़िश हुई ,,भाई तुफेल ने कोटा से 13 किलोमीटर दूर ग्राम चंद्रेसल में ,,फतेह फॉर्म हाउस ,का नज़ारा ही बदल दिया ,,नदी की लहरों के किनारे बने इस फार्म हाउस में ,,कड़कनाथ ,दुर्लभ काले मुर्गे ,,उनके काले अंडे ,,,बत्तखे ,,चीनी मुर्गी ,,खरगोश ,,देसी बटेरो का जमावड़ा किया है ,,जो रोज़ लोगो के लिए लज़्ज़त के साथ ,,हिकमत ,,की दवा के रूप में भी ज़रूरी सा लगने लगा है ,,,,,,,,अख्तर

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...