हमें चाहने वाले मित्र

19 दिसंबर 2017

खूब चीखे ,,खूब चिल्लाये ,,खूब झूंठ बोला ,,फरेब किया

खूब चीखे ,,खूब चिल्लाये ,,खूब झूंठ बोला ,,फरेब किया ,,जुमले फेंके ,फ़िज़ाओं में ज़हर घोला ,गुजरात की जनता को गुमराह किया ,,प्रधानमंत्री पद की गरिमा धूमिल कर ,,बहुत कुछ ऐसा किया जो प्रधानमंत्री पद पर रहकर आज तक किसी ने न तो कहा ,ने ऐसा किया ,,लेकिन नतीजा किनारे पर आकर टिके ,,शाह के शहंशाह पुत्र के अचानक अमीर बनने की जांच नहीं करवाई ,,,व्यापरियों के आंसू नहीं पोंछे ,,गांधी के हत्यारो का महिमा मंडन किया ,,सरदार पटेल के पटेल ,,समाज को गुमराह किया ,राजद्रोही ,,राष्ट्रविरोधी अपराध की धाराओं में गिरफ्तार कर प्रताड़ित किया ,,लेकिन यह पब्लिक है सब जानती है ,कुछ गुमराह लोगो के बल पर ,,सरकार तो बना ली साहिब ,,लेकिन अभी भी मौक़ा है ,सुधर जाओ ,बदल जाओ ,,देश के क़ानून ,,देश की मुख्यधारा में जुड़ जाओ ,,,मज़हबी ,,नफरत की सियासत को छोड़ दो ,विकास सिर्फ विकास की बात ,करो ,विकास जो पागल हुआ है न उसका इलाज कर ,,ज़रा उसे राह पर ले आओ ,,,,देख लिया न ,,एक बच्चा जो एक तरफ राष्ट्रिय अध्यक्ष के निर्वाचन की ज़िम्मेदारियों में व्यस्त था ,,जिसे तुम नफरत की निगाह से देखते हो ,,जिसके खिलाफ तुम्हारे भक्त ,मर्यादाये लांघ कर बकवास करते है ,तुम्हारे गुजरात के लोगो ने ,,उसी राहुल गाँधी को गले लगाया है ,,उसी राहुल गांधी के विकास के नारे का समर्थन किया है ,,,तुम डेढ़ सो की डींगे हाँक रहे थे ,,सो का आंकड़ा भी गुजरात के लोगो ने तुम्हे पार नहीं करने दिया ,,तुम गुजरातियों को छोड़कर ,,बनारस पुत्र बने ,,गंगा के किनारे वाले बने ,,तुम न इधर न के रहे न उधर के ही रह सके ,लेकिन अभी एक साल है ,,पापो का प्रायश्चित कर लो ,,देश और देश की जनता को नफरत की इस आंधी से ,,झूंठ फरेब के जुमलों से मुक्त कर मुख्यधारा में ले आओ ,,देश को क़ानून के राज स्थापित करने का एक राजधर्म निभाने वाला ,देश बनाओ ,,अमित शाह के सुपुत्र पर इलज़ाम लगे है ,ज़रा उनकी जांच करवाकर आम जनता के सामने एक अनूठा उदाहरण पेश करके दिखाओ ,,लेकिन साहिब कुर्सी के लिए कुछ भी करेगा ,,जैसे लोगो के लिए यह मुमकिन नहीं इसके लिए इंसाफ का इसके लिए ईमान का कलेजा चाहिए ,,अख्तर खान अकेला कोटा राजस्थान

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...