हमें चाहने वाले मित्र

15 नवंबर 2017

,ज़रा सोचो ,,देश में दो सीडिया ,,बिकाऊ मीडिया और सरकार के इरादे

मेरे देश के निष्पक्ष लोगो ,,,ज़रा सोचो ,,देश में दो सीडिया ,,बिकाऊ मीडिया और सरकार के इरादे ,,दोनों सीडियों के लिए अलग अलग ,,,,एक सीडी ,,छत्तीसगढ़ के एक मंत्री जी की बिकाऊ मीडिया को एक पत्रकार जी ने खबर में चलाने के लिए दी ,,पत्रकार मालिक साहिबो ने ,,सीडी दिखाई तो नहीं सौदेबाज़ी कर खबर लीक की ,,मंत्री जी और सरकार से मुखबीरी की ,,सीडी आज तक ,बिकाऊ मीडिया ने नहीं दिखाई ,,लेकिन उलटे पत्रकार साहिब जिन्होंने यह इंवेस्टिगेटिव खबर की थी ,उन्हें गिरफ्तार करवा दिया गया ,,सी डी ज़ब्त हुई ,,बिकाऊ मिडिया ने एक खेल तो इस सीडी के साथ किया ,,दूसरी सीडी जिस में किसी थाने में कोई रिपोर्ट दर्ज नहीं ,,किसी महिला की शिकायत नहीं ,,एफ एस एल ,वैज्ञानिक जांच के बाद सी डी सही है या गलत ,,कोई विशेषज्ञ जाँच नहीं ,,देश का क़ानून किसी भी महिला की कोई भी सी डी महिला अशिष्ट रूपेण प्रतिषेध में अपराध है ,,सभी जानते है ,,पुलिस को सो मोटो थाने में रिपोर्ट दर्ज करना चाहिए ,,, लेकिन बिकाऊ मिडिया जो ठहरा ,,,एक ब्लेकमेलर के नाते चोरी से कथित सी डी ब्लेकमेल करने के मक़सद से बनाकर कई दिनों तक अपने पास सुरक्षित रखने वाला ,शख्स कहता है अभी और सुबूत है बताऊंगा ,,,साफ़ ब्लेकमेलिंग की श्रेणी में आता ,है , साफ ज़ाहिर है वोह शख्स इस सी डी या कथित आगे के कोई सुबूत का डर बता कर हार्दिक को ,,ब्लेकमेलर पार्टी का समर्थक बनाना चाहता है ,,चलो ,इन सी डी इतने दिनों तक छुपा कर रखने वाले साहिब की मोबाइल और लैंडलाइन को डिटेल निकलवा लीजिये ,,सभी तथ्य सामने आ जाएंगे ,,तो जनाब खुद ही सोचो एक सी डी जो खिलाफ थी वोह बिकाऊ मीडिया ने गायब कर दी ,मीडिया वाले पत्रकार को गिरफ्तार करवा दिया ,,दूसरी तरफ यह सीडी जिसका अभी तक कोई सत्यापन नहीं ,,जिसमे महिला की कोई शिकायत नहीं ,,जिसमे महिला का कोई नाम कोई पहचान नहीं ,,बस शुरू हो गए ;ब्लेकमेल करने ,,खेर ,,,,किये जाओ जो चाहो ,,सच जब भी सामने आएगा ,,,,,,,,तब भी आप शर्मसार नहीं होंगे ,,क्योंकि बिकाऊ मीडिया साहिब आपने तो सोची समझी साज़िश के तहत यह तैयारी की है और अभी तो आगे आप लोगो की सांठ गाँठ के न जाने कोन कोन से षडयंत्रो की कहानिया देखना होंगी ,,लेकिन याद रखना यह देश पोल खुलने पर आप लोगो को कभी माफ़ नहीं करेगा ,,चुनाव मुद्दे पर होता है ,,विकास पर होता है ,,साज़िशो और षड्यंत्र खरीद फरोख्त पर नहीं ,,,अख्त

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...