हमें चाहने वाले मित्र

17 जुलाई 2017

राजस्थान गृह सचिव को आवश्यक आदेश जारी,,पहलू खान गोरक्षको द्वारा की गयी निर्मम हत्या

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अलवर ज़िले में पहलू खान गोरक्षको द्वारा की गयी निर्मम हत्या ,,फिर विधायक ज्ञानदेव आहूजा ,,गृहमंत्री ,,गुलाब कटारियां द्वारा दिए गए उकसाऊ ,,भड़काऊ ,,गैरज़िम्मेदाराना बयांन पर उनकी बर्खास्तगी और दोषी लोगो के खिलाफ पुरे प्रकरण मामले मे हाईकोर्ट के न्यायधीश से जाँच कराने की मांग के मामले में प्राथमिक जाँच के बाद राजस्थान गृह सचिव को आवश्यक आदेश जारी किये है शिकायतकर्ता ,, एडवोकेट अख्तर खान अकेला ने बताया की पिछले दिनों अलवर ज़िले में पहलु खान की गोरक्षको द्वारा दोढा दोढा कर निर्मम हत्या की गयी जबकि उसने मवेशी जयपुर के मेले से विधिवत रूप से खरीद कर पास प्राप्त किया था ,,लेकिन उसकी निर्मम हत्या के बाद ,,दोषी लोगो के खिलाफ कार्यवाही के स्थान पर राजस्थान सरकार ,,विधायक ज्ञानदेव आहूजा ,,गृहमंत्री गुलबकटारिया ने उकसाने वाले ,,भड़काऊ ,,गैरज़िम्मेदाराना बयान दिए थे और राजधर्म का उलंग्घन कर ,,संविधान की मर्यादाएं भंग की थी ,,,कांग्रेस अल्पसंख्यक विभाग के कोटा संभाग अध्यक्ष ,, महासचिव तबरेज़ पठान ने इस मामले की विस्तृत रिपोर्ट बनाकर ,प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से अंतर्रात्मा की आवाज़ पर ,दोषी लोगो के खिलाफ प्रसंज्ञान लेकर ,,पूरी घटना की जांच हाईकोर्ट के जज से करवाने ,जाँच होने तक ज्ञानदेव आहूजा और गृहमंत्री गुलब कटारिया को पद से हटाने की भी मांग की थी ,,प्रधानमंत्री ने इस संबंध में प्राथमिक जाँच के बाद ,,इस मामले में जाँच के निर्देश दिए ,,गृहमंत्री के अधीनस्थ सचिव मनीराम ने इस मामले में राजस्थान के गृहसचिव को पत्र लिखकर जांच करवाने और जाँच कार्यवाही से केंद्रीय गृहमंत्रालय को रिपोर्ट देने को कहा है ,,शिकायतकर्ता एडवोकेट अख्तर खान अकेला और तबरेज़ पठान ने इस मामले में पुन प्रधानमंत्री को घटना की गंभीरता दोहराते हुए निवेदन किया है ,,के शिकायत राजस्थान सरकार के गृहमंत्री गुलाब कटारिया ,,विधायक ज्ञानदेव आहूजा जो राजस्थान सरकार का हिस्सा है ,ऐसे में राज्य के गृहसचिव के गृहमंत्री के अधीनस्थ होने से उक्त जांच आदेश का कोई औचित्य नहीं है ,,अख्तर खान अकेला ,,तबरेज़ पठान ने प्रतिउत्तर शिकायत में मांग की है की पूरी घटना और बाद में इनके बयानों को लेकर जो भी हालात बने है उसकी जाँच निष्पक्ष रूप से करवाने के लिए सी बी आई से करवाई जाए या फिर हाईक्रोट के न्यायधीश से उक्त लोगो को पद से हटाकर जांच करवाई जाए ,,,अख्तर खान अकेला कोटा राजस्थान

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...