हमें चाहने वाले मित्र

29 मई 2017

कोटा रेडक्रॉस सोसाइटी ,,,में अव्यवस्था ,,कुप्रबंध को लेकर लगा ,,,,,रेडक्रॉस ,,,,,,यानी लाल लाइन,,, अब हटा दी गयी ,,है

कोटा रेडक्रॉस सोसाइटी ,,,में अव्यवस्था ,,कुप्रबंध को लेकर लगा ,,,,,रेडक्रॉस ,,,,,,यानी लाल लाइन,,, अब हटा दी गयी ,,है ,,जिस रेडक्रॉस सोसाइटी कोटा को,,,, राजस्थान की सबसे,,, निम्नस्तरीय व्यवस्था होने को ,,लेकर मज़ाक़ उड़ाया जाता था ,,आज ,उसी फिसड्डी कही जाने वाली रेडक्रॉस में ,,रिछपाल पारीक के सचिव कार्यकाल में दो माह के भीतर ही यहां ,,राजस्थान भर के ,,छात्र,,, फर्स्ट ऐड की सातदिवसीय ट्रेनिंग लेने के लिए,,, लाइन में लगे है ,,,,रेडक्रॉस सोसाइटी ,,अब डिजिटल हो गयी है,,, इसकी अपनी वेबसाइट है ,,इस वेबसाइट पर ,,सभी प्रकार की जानकारियां उलपब्ध करवाई जा रही है ,,,कोटा रेडक्रॉस सोसायटी ,,सियासी क़ब्ज़े का शिकार होने से यहां ,,,लोकतांत्रिक प्रणाली बहाल नहीं थी ,,रिछपाल पारीक और साथियों ने ,,,रेडक्रॉस में चुनाव कराकर ,,,,लोकतंत्र बहाली के लिए संघर्ष ,किया ,चुनाव हुए और फिर ,,,पंद्रह फरवरी दो हज़ार सत्राह को,,, राजेश बिरला अध्यक्ष निर्वाचित हुए,,, जिन्होने सर्वसम्मति से रिछपाल पारीक को सचिव निर्वाचित किया ,,,रेडक्रॉस सोसाइटी का कार्यालय ,,,भवन जर्जर ,,टुटा फूटा ,,बिखरा पढ़ा था ,,सारी व्यवस्थाएं भंग थी ,,रिछपाल पारीक ने,,, सचिव का कार्यभार संभालते ही कार्यालय को ,,,साफ़ सफाई करवाकर,,, बैठने योग्य बनाया ,,प्रशिक्षण कार्यक्रम शुरू करवाया ,,,आज तीन माह में ,,,रेडक्रॉस सोसाइटी ने ,,,साढ़े सो से भी अधिक,, छात्र छात्राओं को ,,,रेडक्रॉस फर्स्ट ऐड ,,प्रशिक्षण देकर ,,,प्रमाणपत्र जारी कर दिए है ,,अध्यक्ष राजेश बिरला और रिछपाल पारीक की,,, नियमित कार्यालय उपस्थिति से,, रेडक्रॉस में लोगो की आवाजाही बढ़ी है ,,प्रोजेक्टर ,,आधुनिक उपकरणों ,,कुर्सियों की खरीद कर ,,राजस्थान में सर्वश्रेष्ठ ,,,विशेषज्ञों द्वारा प्रशिक्षण कार्यक्रम की ख्याति प्राप्त करने के बाद ,,,अब सीकर ,,चूरू ,,,, झुंझुनू ,,जयपुर सहित ,,,,सभी ज़िलों के छात्र छात्राये ,,,कोटा में प्रशिक्षण के लिए,,, आने लगे है ,,रेडक्रॉस दिवस पर ,,कोटा रेडक्रॉस सोसाइटी के क्रियाकलापों की ,,,कामयाबी की पहली बार,, मुक्त कंठ से प्रशंसा हुई ,रिछपाल पारीक नियमित दस बजे ,,,कार्यालय में उपस्थित होकर,,,, पांच बजे तक ,,,,कार्यालयः में रेडक्रॉस कार्यक्रमों की रुपरेखा तैयार करते है ,,भवन के रंग रोगन ,मरम्मन ,,आस पास खाली पढ़ी ज़मीन पर ,,गार्डन तैयार करवाने सहित,,, भवन की छत पर,,, ,एक बढ़ा दो सो क्रूसियों की क्षमता वाले ,,,हॉल के निर्माण के लिए,,, सिविल सर्वेक्षण करवा लिया गया ,,,है जो कार्य शीघ्र ही ,,टेंडर देकर शुरू कर दिया जाएगा ,,प्रशिक्षण कार्यक्रम में,,, रेडक्रॉस प्रति सप्ताह,,, तीस छात्र छात्रों को प्रशिक्षित कर रहे है,,, दस बेच निकल चुके है और यह क्रम,, नियमित निर्बाध रूप से चल रहा है ,,,एक छात्र से प्रशिक्षण शुल्क लगभग 1400 रूपये लिए जाते है ,,, जिसमे से आठ सो रूपये ,,,जयपुर रेडक्रॉस को जाते है,,, इस तरह से तीन लाख रूपये से अधिक ,,,आमदनी जयपुर रेडक्रॉस की भी हो गयी है ,,जबकि कोटा रेडक्रॉस की भी आमदनी बढ़ी है ,,यहां चार सो से भी अधिक यूनिट,,, रक्तदान के माध्यम से ,,ब्लड बैंक में जमा किया गया है ,,जबकि पत्रकारों के साथ भी ,,,रेडक्रॉस कार्यक्रमों के प्रति जागरण कार्यक्रम की सेमीनार आयोजित की गयी है ,,,रेडक्रॉस के खाते में ,, वर्तमान में सवा करोड़ रूपये की एफ डी आर जमा है ,,शीघ्र ही रेडक्रॉस की ,,,साधारण सभा बुलाकर,,,, महत्वपूर्ण मुद्दों पर चर्चा कर,,, एक आधुनिक विकास मॉडल तैयार किया जाएगा ,,रिछपाल पारीक पूर्व में भी,,, कई सेवा कार्यो से जुड़े रहे है ,,यह चिकित्सा सेवा समिति के अध्यक्ष के नाते ,,हज़ारो ब्लड केम्प लगवा चुके है,,, जबकि एक दर्जन से भी अधिक नशा मुक्ति शिविर आयोजित किये गए ,,रिछपाल पारीक ज्वेनाइल बोर्ड में भी मजिस्ट्रेट सदस्य के रूप में ,,,सात साल बेहतर सेवाएं दे चुके है ,,,जबकि तीन साल से भी अधिक स्थाई लोक अदालत में जिला जज के साथ ,,न्यायिक जज सदस्य के रूप में कार्यरत रहे है ,,,पारीक विकलांग प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष रहते ,,,दिव्यांगों के हक़ के लिए संघर्षरत रहे है ,,जबकि थड़ी होल्डर्स यूनियन के अध्यक्ष के नाते ,,,आज सभी थड़ी होल्डर्स को पक्के क्योस्क दिलवाने में ,,,यह कामयाब रहे है ,,रिछपाल पारीक थड़ी होल्डर्स को पुनर्वासित करने को लेकर ,,राष्ट्रिय स्तर पर आयोजित सेमिनारों में हिस्सेदार रहते है ,,सुप्रीमकोर्ट के निर्देशों के अनुरूप,,,, थड़ीहोल्डर्स को उनके हक़ दिलवाने के लिए,, रिछपाल पारीक देश भर के हर राज्य में हज़ारो कार्यक्रमों में हिस्सेदार बन चुके है ,,रिछपाल पारीक स्वतंत्र पत्रकार भी है और वर्तमान में नेशनल यूनियन ऑफ़ जर्नलिस्ट एसोसिएशन जार के राष्ट्रिय कार्यसमिति के सदस्य भी है ,,,,देश में अच्छे दिन आये हो या नहीं लेकिन यह सच है के रिछपाल पारीक के रेडक्रॉस सचिव का कार्यभार ग्रहण करने के बाद ,,अध्यक्ष राजेश बिरला के खुले समर्थन और समन्वय से ,,रेडक्रॉस कोटा के तो अच्छे दिन आ गए है ,,,,,अख्तर खान अकेला कोटा राजस्थान

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...