हमें चाहने वाले मित्र

01 अप्रैल 2017

दोस्तों यह मेरी डरावनी ,,बदशक्ल तस्वीर के पास जो खूबसूरत से फूल है न ,,यह चाहे नक़ली ही सही ,लेकिन अप्रेल के मुर्ख बनाने वाले फूल ,,,अप्रेल फूल नहीं है

दोस्तों यह मेरी डरावनी ,,बदशक्ल तस्वीर के पास जो खूबसूरत से फूल है न ,,यह चाहे नक़ली ही सही ,लेकिन अप्रेल के मुर्ख बनाने वाले फूल ,,,अप्रेल फूल नहीं है ,,यह खूबसूरत है ,,महफ़िल की ,खुशबु ,खूबसूरती ,,रंगत बढ़ाने वाले है ,,मेने इन फूलों के साथ तस्वीर खिंचवा कर इनका रंग फीका कर दिया ,,इन फूलों को भी मेने देखो ,,अप्रेल का फूल ,,अप्रेल फूल बना दिया जी हाँ ,,दोस्तों अप्रेल फूल ,,या फिर मुर्ख दिवस ,,या कुछ भी ,,हम मनाते है या नहीं ,,यह और बात है ,,लेकिन मेने आत्मचिंतन का दिन मानकर ,,खुद को कैसे और किस किस ने मुर्ख बनाया ,,इस मामले में पिछली घटनाये टटोली ,,तो सच ,,में तो खूब अप्रेल फूल बना ,,आप बने या नहीं ,,आपने बनाया ,,या नहीं ,,लेकिन मुझे पता है ,,मेरे कोटा के सांसद ने ,,कोटा में एयरपोर्ट ,,चालू करने को कहा था ,,बढे बढे ,,आंदोलन हुए ,,लेकिन वही ठेठ अप्रेल फूल बनकर रह गए ,,अब तक तो कोई हवाई सेवा चालु नहीं हुई ,,उलटे कोटा का हवाई प्लान ,,झालावाड़ ले जाया गया ,,,कोटा सम्भाग कोचिंग नगरी है ,,यहां शिक्षण की दोहरी व्यवस्था ,,स्कूल में सिर्फ एडमिशन और कोचिंग में पढ़ाई ,,दोहरी फीस ,,फिर नतीजे में छात्र ,,छात्राओ ,को डिप्रेशन ,,अगर कोई,,मेरिट में आ जाए ,,तो पांच पांच कोचिंग वाले ,,उनके फोटो लगाकर ,,खुद के कोचिंग में पढ़ने का दावा कर ,,अप्रेल फूल बनाते है ,,मेडम वसुंधरा ने रोज़गार के वायदे किये ,,कोटा को विकसित करने के वायदे किये ,,लेकिन देखलो ,,जो विभाग थे वोह भी चले गए ,,जो रोज़गार के अवसर थे ,,वोह भी खत्म हो रहे ,,है पहले आई एल ,,जे के ,,अब कोटा थर्मल की बारी आयी है ,,हेंगिंग ब्रिज ,,चल रहा है ,,,कार्यालयों में कामकाज नहीं ,,विधायक साहिबा ,कार्यकर्ताओ की थाने में पिटाई है ,,विधायिका को विधानसभा में जाने से ब्रेक कर दिया गया ,,उन्हें भी अप्रेल फूल बना दिया गया ,,विधायको ने कोटा विकास के लिए कोई खास सवाल विधान सभा में नहीं उठाये ,,,,केंद्र सरकार के नरेन्द्र मोदी सर ने पन्द्रह लाख खाते में डालने की बात कहकर अप्रेल फूल बनाया ,,तो इन्हें नरेन्द्र मोदी ने ,,भारत के एक सैनिक के बदले पाकिस्तान के दस सर लाने का वायदा नहीं निभाकर हमे अप्रेल फूल बनाया ,,,कश्मीर में आतनीकियों से निपटना था ,,लेकिन आतंकवादियों की समर्थक बुआ जी से सता बनाये रखने के लिए जा हाथ मिलाया ,,,पाकिस्तान को गालियां दी ,,लेकिन अचानक पाकिस्तान जाकर ,,गले मिले और तोहफा का दौर शुरू कर सभी को अप्रेल फूल बनाया ,,अख़बार ,टी वी सभी का तो आप जानते है ,,सभी रोज़ अप्रेल फूल बनाते है ,,,,बाबा रामदेव ने ,,कालाधन वापसी का लिखित वचन लिया था ,,उन्होंने हमसे झूँठ बोलकर हमे अप्रेल फूल बनाया ,,,अन्ना हज़ारे को तो आप जानते ही है ,,उन्होंने लोकपाल का झांसा देकर खुद चुप्पी साधकर ,,हमे अप्रेल फूल बनाया ,,,,राजस्थान में मदरसों में बच्चो को सुविधा नहीं ,,शिक्षको को मानदेय नहीं ,,बस घोषणाओ के नाम पर अप्रेल फूल बनाया ,,वक़्फ़ सम्पत्तियों की बंदरबांट है ,,अव्यवस्थाएं है ,राष्ट्रवादी मुस्लिम मंच की पैरोकारी ने ,,अप्रेल फूल बनाया ,,और तो और मेरी खुद की पार्टी ने अभी तक हमारे कोटा समभाग में हमारा अपना एक भी ज़िला अध्यक्ष नहीं बनाया ,,ज़िला अध्यक्ष नहीं बनाया कोई बात नहीं ,,प्रतिपक्ष के नेता के रूप में राजस्थान की विधानसभा में वक़्फ़ सम्पत्तियों और कारगुज़ारियों की बंदरबांट ,,अनियमितताओं का मुद्दा उठाया ,,उर्दू कई स्कूलों में बन्द हुई ,,मदरसों में व्यवस्थाएं नहीं हुई ,,लेकिन सो में से सो वोट लेकर भी ,इन लोगो ने ,,विधानसभा में इन मुद्दों को नहीं उठाकर ,,पुरे समाज को अप्रेल फूल बनाया ,,वकीलों का क्या ,,,हाईकोर्ट की बेंच कोटा में लाने का लिखित वायदा किया ,,प्लाट एक रूपये फिट पर देने का लिखित वचन दिया ,,सरकार आ गयी ,न एक रूपये फुट प्लाट मिले ,,न हाईकोर्ट की बेंच कोटा आयी ,,उलटे जिस रेट में प्लाट मिले थे उससे भी अधिक कीमत पर प्लाट लेने के प्रयास कर ,,सभी को अप्रेल फूल बनाया ,,,कोटा अदालत परिसर विस्तार के सपने दिखाए ,,चिकित्सको के मकानों में अदालते चलाने के सब्ज़बाग के किस्से उढाये ,,अंडर ग्राउंड पार्किंग की कार्ययोजना का स्वीकृत प्लान बताया ,,कुछ नहीं मिला बस अप्रेल फूल बनाया ,,,,बार कौंसिल के चुनाव नहीं हुए ,,प्रशासक की नियुक्ति है ,,वकील प्रतिनिधियों ने चुप रहकर ,वकील साथियों को अप्रेल फूल बनाया ,,लोकसभा में अब काला क़ानून पेश किया जा रहा है ,,वकीलों से कोई मशवरा नहीं ,,कोई जागरूकता नहीं ,,बार कौंसिल के पदाधिकारियों ने भी खूब अप्रेल फूल बनाया ,,,क्या बताऊँ किस किस ने किस तरह से हमे आपको अप्रेल फूल बनाया ,,लेकिन में तो मान ,गया ,तुम नहीं मानोगे ,,इसलिए तुम्हारी तुम जानो ,,में तो जान गया मुझे तो सभी ने अप्रेल फूल बनाया ,,हाँ एक वोह है जिन्होंने कभी हंसाया ,,कभी रुलाया ,,कभी अप्रेल फूल बनाया ,,तो कभी अपना बनाया ,,,असमंजस में हूँ उन्होंने भी अपनाया ,,या फिर अप्रेल फूल बनाया ,,,,,,कश्मीर में आतंकियों के दोस्तों ,,सुरक्षाबलों के खिलाफ पत्थरबाजों पर पेलेट गन को लेकर ,, भक्तजन माथा पच्ची में लगे रहे ,,सीधा फार्मूला है ,,केंद्र में बैठी भक्तजनो की सरकार ,,आतंकियों की बुआजी ,,महबूबा ,,से रिश्ता तोड़े ,,कश्मीर में राष्ट्रपति शासन लगाए ,,या फिर गोआ ,,मणिपुर की तरह अल्पमत में होकर भी जुगाड़ से ,,भाजपा की सरकार बनाये ,,कश्मीर से तीन सौ सत्तर हटाये ,,कश्मीरी ब्राह्मण भाइयों को फिर से वहां बसाएं ,,पत्थरबाजों को सबक़ सिखाये ,,ज़्यादा नहीं तो रिटायर्ड फौजियों को उनके बीच में एक परिवार की तरह रहने के लिए ,,विशेष पैकेज देकर उन्हें बसाये ,,,,शायद कुछ हल हो जाए ,,कश्मीर को हमारे देश का अभिन्न अंग ,,सिर्फ जुबांन से नही ,,संविधान सम्मत बनाये ,,देश के हर क़ानून में जो ,,दिल को घायल कर देने वाले अलफ़ाज़ है न ,,,यह क़ानून जम्मू कश्मीर के अलावा पुरे भारत में लागू होगा ,,उन लाइनों को प्लीज़ हटाएँ ,,,लेकिन जुमलेबाज है ,,बस अप्रेल फूल बनाये है ,,,,प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी साहिब के फोटू के साथ विज्ञापन करने वाले उद्योगपति सर जिओ मालिक ने अब ,,जिओ सिम मुफ्त बन्द करने का ऐलान ,,पन्द्रह अप्रेल तक बढ़ा कर वक़्त पर रिचार्ज कराने वालों को अप्रेल फूल बनाये है ,,,,अख्तर खान अकेला कोटा राजस्थान

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...