हमें चाहने वाले मित्र

13 दिसंबर 2016

भाजपा के तीन साल ,,कोटा के वकीलों के लिए बेमिसाल


भाजपा के तीन साल ,,कोटा के वकीलों के लिए बेमिसाल ,,जी हाँ दोस्तों कभी कोटा कोंग्रेस के मंत्री रहे शांति धारीवाल के प्रयासों से कोटा के वकीलों को आरक्षित दर पर प्लाट दिए गये थे ,,,इन्ही के कार्यकाल में किराया अपील अधिकरण ,,पोस्को कोर्ट ,,राजस्व न्यायलय की बेंच ,,राज्य उपभोक्ता फोरम की बेंच कोटा में आयी है ,,लेकिन हमारे वर्तमान भाजपा के विधायक ,,वर्तमान सांसद ,,,वर्तमान मुख्यमंत्री ने कोटा के वकीलों को उकसाया ,,कहा ,,भाषण दिए ,,वकीलों के आंदोलन रजिस्टर में आंदोलन स्थल पर आकर नॉट अंकित किये ,,के वकीलों को भाजपा की सरकार आने के एक महीने के अंदर ,,जो कीमत शान्तिधारीवाल ने लगाई है उससे भी आधी कीमत पर दिलवाये जाएंगे ,,एक विधायक भवानी सिंह ने तो कहा के वकीलों को नज़दीक ही एक रूपये टोकन कीमत पर प्लाट भाजपा सरकार आते ही दिलवा दिए जाएंगे ,,,वर्तमान सांसद ने भी वकीलों को सरकार आते ही रियायती दर पर भूखण्ड दिलवाने ,,हाईकोर्ट की बेंच कोटा मंगाने का आश्वासन दिया ,,वकील तो वकील ठहरे ,, आंदोलन हुआ ,,शान्तिधारीवाल के पुतले जलाये ,,चूड़ियां भेंट की ,,,अर्धनग्न प्रदर्शन किया ,,अंतिम संस्कार कर तीसरे की बैठक भी कर डाली ,,खुद मुख्यमंत्री वसुंधरा सिंधिया ने परिवर्तन यात्रा के दौरान तात्कालिक अध्यक्ष के समय वायदा किया के सरकार आते ही कोटा में हाईकोर्ट की सर्किट बेंच और वकीलों को वर्तमान दर से रियायती दर पर भूखण्ड उपलब्ध कराये जाएंगे ,,भाजपा सरकार के तीन साल बेमिसाल है ,,सिर्फ एक रघु गौतम के अध्यक्ष कार्यकाल में इन भाजपा नेताओ को वायदा याद दिलाने के अलावा किसी भी कार्यकाल में इन झूँठ बोलने वालो का गिरेहबान पकड़ कर वकीलों को रियायती दर पर भूखण्ड दिलवाने ,,,कोटा में हाईकोर्ट की सर्किट बेंच मंगवाने की मांग नहीं उठाई है ,,,अलबत्ता प्रह्लाद गुंजल ने विधानसभा में मामला ज़रूर उठाया था ,,ओम बिरला ने कोंग्रेस सरकार के वक़्त तो यह मामले विधानसभा में उठाये ,,लेकिन अब वोह सांसद भी है ,,विधायक भी उनके है ,,फिर भी वकीलों को वायदे के तहत अंगूठा ही दिखाया गया है ,,एक मुखर बुद्धिजीवी वर्ग वकीलो को अगर ठगा जा सकता है ,,उनसे अगर झूँठ बोला जा सकता है ,,तो फिर दोस्तों आम जनता का तो यह लोग क्या हाल करते होंगे ,,वकीलों के साथ तीन साल में इन भूखण्डो की रियायती दरों को लेकर मंत्रियो की जो अभद्रता हुई है ,,,मुख्यमंत्री एक बार भी वकीलो से नहीं मिली है ,,वकीलों को टाइम तक नहीं दिया गया है ,,ऐसे में वकीलों को अपने अंतर्मन को टटोलना चाहिए ,,नेतृत्व के बारे में सोचना चाहिए ,,आगामी पन्द्रह दिसम्बर को कोटा अभिभाषक परिषद में फिर नेतृत्व के चुनाव है ,,अभी तक लीपापोती हुई है ,,वरना इन नेताओ द्वारा लिखे रजिस्टर की इबारत ,,जिसमे इन्होंने एक रूपये भूखण्ड ,, रियायती दर पर भूखण्ड ,,हाईकोर्ट की सर्किट बेंच ,,भाजपा सरकार बनने के एक महीने के भीतर लाने को कहा था ,,उनके अगर बेनर सड़को पर इनके फोटुओं के साथ टाँके जाते तो आज जनता को सच पता लगता ,,दोस्तों आगामी चुनाव में बढ़ी बढ़ी बाते होंगी ,,लेकिन चुने उन्हें जो वकीलों के स्वाभिमान के रक्षक हो ,,जो वकीलों को इंसाफ दिला सकें ,,जो कोटा के वकीलों से झूँठ बोलकर उन्हें ठगने वालों को सार्वजनिक रूप से ,,पोस्टर बेनर लगाकर ,,उनकी औक़ात दिखा सके ,,,जो वकीलों को उनका हक़ दिला सके ,,जो कोटा में हाईकोर्ट की बेंच स्थापित करने की दिशा में पहल करे ,,वकीलों को वायदे के मुताबिक़ रियायती दर पर भूखण्ड दिलवा सके ,,,जो अदालत परिसर को समस्याओ से मुक्त करा सके ,,,जो अदालत में वकीलों के आत्म स्वाभिमान की रक्षा कर बार और बेंच के सम्बन्ध बेहतर स्थापित कर सके ,,,वकील साथियो ज़रा अंतर्मन टटोलो ,,आप आम वोटर नहीं ,,आप बुद्धिजीवी हो ,,हवा के साथ मत चलो ,,जो नेतृत्व आपको सुविधायें दिलवा सकता है ,,जो नेतृत्व आपको रियायती दर पर भूखण्ड ,,हाईकोर्ट की बेंच दिलवा सकता है ,,जो नेतृत्व बेंच हो ,,अधिकारी हो ,,भाजपा के नेता हो ,,कोंग्रेस के नेता हो उनकी आँखों में आँखे डाल कर वकीलों के हक़ की बात कर सकता है उसे चुने ,,ऐसा न हो के फिर आप लोग अपने गलत फैसले के लिए साल भर हाथ मलते रह जाए ,,और पूरा साल इन तीन सालों की तरह वकीलों के लिए ठगी के बेमिसाल तीन साल होकर रह जाए ,,आपका एक वोट वकीलों के आत्मस्वाभिमान को ज़िंदा रख सकता है ,,आपका एक वोट आपको ऐसा नेतृत्व दे सकता है जो आपको तीन साल तक ठगने वाले लोगों के गिरेहबान पर हाथ डालकर उनके जबड़े से आपका हक़ निकालने वाला नेतृत्व दे सकता है फैसला आपके हाथो में है ,,हमे पन्द्रह दिसम्बर को कोटा अभीभाषक परिषद के चुनाव में आपके फैसले ,,आप द्वारा निर्वाचित हीरो का इन्तिज़ार रहेगा ,,आपके फैसले पर पुरे ज़िले ,,पुरे राजस्थान की नज़र है ,,ज़रा स्वाभिमान को टटोल कर वोट दीजिये ,,,,,,अख्तर खान अकेला कोटा राजस्थान

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...