हमें चाहने वाले मित्र

21 सितंबर 2016

दिल्ली मर्डर: विक्टिम के परिजन ने पुलिस को रोका, बॉडी को सड़क पर रख की तोड़फोड़



Burari murder case accused sent to four day police custody. He had stabbed a 21-year-old woman 27 times
करुणा की शव को सड़क पर रखकर लोगों ने लगाया जाम।
नई दिल्ली. यहां के बुराड़ी इलाके में मंगलवार को करुणा (21) नाम की लड़की की सड़क पर कैंची से 26 वार कर हत्या कर दी गई थी। बुधवार को करुणा की बॉडी जैसे ही उसके घर पहुंची तो हर किसी की आंखों में आंसू थे और दिलों में गुस्सा। बॉडी के आने के बाद हर कोई करुणा को देखने चल पड़ा लेकिन करुणा की मां हिल तक नहीं पाई। दूसरी महिलाओं ने ही किसी तरह उनको उठाया। पुलिस जब मौके पर पहुंची तो परिवार और मोहल्लेवालों ने उन्हें रोक दिया। उनका कहना था कि पुलिस की लापरवाही की वजह से ही उनकी बेटी की हत्या हुई है। लोगों ने बॉडी को सड़क पर रखकर तोड़फोड़ भी की।मां का आरोप- पुलिस लेती थी आरोपी का पक्ष...
- करुणा की मां का कहना है कि अगर पुलिस उनके परिवार की सुन लेती तो आज करुणा घर पर होती।
- उनका कहना है कि पुलिस झूठ बोल रही है कि हमारे और आरोपी के परिवार के बीच कोई समझौता हुआ था। हमारे बीच कोई समझौता नहीं हुआ था। आरोपी का पिता पुलिस में था इसलिए पुलिस भी उस का पक्ष लेती थी, हमें थाने से भगा दिया जाता था।
- करुणा के पिता नरेश का कहना है कि पुलिस सिर्फ बड़े लोगों की बात सुनती है और उनकी ही रिपोर्ट दर्ज करती है।
- उन्होंने कहा, ‘मैं पूछता हूं कि कहां हुआ था समझौता? कहां हैं वो कागजात? हमारे बीच में तो कोई समझौता नहीं हुआ। हम तो पुलिस से कह-कह कर थक गए लेकिन हमारी किसी से नही सुनी।’
- करुणा की बुआ राजकुमारी के मुताबिक, 'खून का बदला खून होता है। हमें आरोपी को दे दो तब ही हमें शांति मिलेगी।'
- वहीं परिजन और लोगों ने शव को चौराहे पर रख कर चक्काजाम कर दिया।
- बसों में तोड़-फोड़ की गयी और एक पेट्रोल पम्प पर भी भीड़ ने जमकर उत्पात मचाया। इन लोगों की मांग है कि आरोपी को हमारे हवाले किया जाए।
दिल्ली महिला आयोग भेजेगा पुलिस को नोटिस
- करुणा के घर पर पहुंची दिल्ली महिला आयोग की प्रेसिडेंट स्वाति मालीवाल ने कहा कि इसमें सीधे-सीधे पुलिस की लापरवाही नजर आ रही है। पुलिस अगर समय से कदम उठाती तो यह मर्डर नहीं होता।
-उन्होंने कहा, 'दिल्ली महिला आयोग इस मुद्दे पर पुलिस को नोटिस भेजेगा। उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार पूरी तरह से पड़ित परिवार के साथ है। हम उन्हें न्याय दिलाएंगे।'
- 'दिल्ली पुलिस झूठ बोल रही है कि दोनों परिवारों के बीच समझौता हो चुका था। ये सीधे-सीधे पुलिस की लापरवाही है। लोग मुझ से न्याय मांग रहें है।'
क्या है मामला?
- वारदात मंगलवार सुबह 9:30 बजे की है। हमलावर (34) ने लड़की पर कैंची से 26 बार वार किया। घटना के वक्त लड़की का चचेरा भाई मौके पर मौजूद था। करीब 90 सेकंड के इस घटनाक्रम के दौरान कई लोग वहां से गुजरे, लेकिन सभी तमाशबीन बने देखते रहे, किसी ने उसे बचाने की कोशिश नहीं की। यह पूरी वारदात सीसीटीवी में कैद हुई है।
- पुलिस के मुताबिक, 'लड़की पेशे से टीचर थी। आरोपी पिछले एक साल से उसका पीछा कर रहा था और उसे परेशान कर रहा था।'
- 'करुणा की फैमिली ने 4-5 महीने पहले थाने में शिकायत दर्ज कराई थी। तब दोनों परिवारों में समझौता हो गया था। सुरेन्द्र ने कहा था कि वह लड़की को परेशान नहीं करेगा।'
- आरोपी सुरेंद्र कम्प्यूटर सेंटर चलाता है। लड़की ने उसके सेंटर से कम्प्यूटर सीखा था।
- डीसीपी नॉर्थ मधुर वर्मा ने बताया, ''आरोपी का कहना है कि वो लड़की से प्यार करता था, लेकिन उसने देखा कि लड़की ने अपने कुछ आपत्तिजनक फोटो एक दूसरे लड़के को भेज दिए।''
- ''उसे लगने लगा कि लड़की का दूसरे लड़के से अफेयर है। यह बात उसे नागवार गुजरी और उसने लड़की की जान लेने का फैसला कर लिया।''

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...