हमें चाहने वाले मित्र

19 अगस्त 2016

राहुल ने TWEET कर मोदी के लिए की प्रार्थना: असतो मा सद्गमय, तमसो मा ज्योतिर्गमय...



राहुल गांधी ने नरेंद्र मोदी पर कमेंट करते हुए शुक्रवार को 2 ट्वीट किए। (फाइल)
राहुल गांधी ने नरेंद्र मोदी पर कमेंट करते हुए शुक्रवार को 2 ट्वीट किए। (फाइल)
नई दिल्ली. राहुल गांधी ने अपने ट्विटर हैंडल पर नरेंद्र मोदी के लिए संस्कृत का एक श्लोक ट्वीट किया है। इसमें उन्होंने मोदी के ज्ञान पर सवाल उठाते हुए अज्ञानता दूर करने की प्रार्थना की है। यह ट्वीट मोदी के उस बयान के जवाब में है जिसमें उन्होंने कहा था कि बीजेपी ने कांग्रेस के मुकाबले ज्यादा परेशानियां झेली हैं। राहुल ने अपने ट्वीट के साथ मोदी का बयान भी पोस्ट किया है। राहुल ने ट्वीट में क्या लिखा...
- कांग्रेस के वाइस प्रेसिडेंट ने शुक्रवार को अपने ट्वीट में लिखा- "मोदीजी आपके लिए प्रार्थना- असतो मा सद्गमय, तमसो मा ज्योतिर्गमय, मृत्योर्मा अमृतं गमय, ओम शांति शांति शांति।"
- राहुल गांधी ने अपने दूसरे ट्वीट में इसका मतलब भी लिखा- "मुझे अज्ञानता से ज्ञान की ओर, अंधेरे से उजाले की ओर, मृत्यु से अमरता की ओर ले चलो। सभी जीव जंतुओं के लिए शांति हो।"
मोदी ने क्या कहा था?
- मोदी ने गुरुवार को दिल्ली में बीजेपी के नए ऑफिस की नींव रखे जाने के दौरान एक स्पीच दी थी।
- मोदी ने कहा था, "ब्रिटिश शासन में भी कांग्रेस ने इतनी मुश्किलों का सामना नहीं किया होगा जितनी मुश्किलों का सामना हमारे कार्यकर्ताओं ने बीते 50-60 साल में किया है।"
- "बीजेपी ने दूसरी किसी भी पॉलिटिकल पार्टी से ज्यादा बलिदान दिया है, त्याग किया है।"
- उन्होंने अफसोस जताते हुए कहा था कि उनकी पार्टी की हर कोशिश को गलत तरीके से देखा गया है।
- पीएम ने कहा- "बीजेपी अकेली ऐसी पार्टी होगी जिसने अपने बनने के शुरुआती दौर से ही परेशानियां झेली हैं।"
- इस प्रोग्राम में पार्टी प्रेसिडेंट अमित शाह, सीनियर लीडर लालकृष्ण आडवाणी, राजनाथ सिंह, अरुण जेटली सहित दूसरे बीजेपी नेता भी मौजूद थे।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...