हमें चाहने वाले मित्र

21 अगस्त 2016

स्कूलों के जरिए भारत में घुसा आतंकी संगठन FETO, तुर्की में की थी तख्तापलट की कोशिश



फेतुल्ला गुलेन के आतंकी संगठन FETO ने 15 जुलाई को तुर्की में प्रेसिडेंट तैयप एर्दोगन को अपदस्थ करने की कोशिश की थी। इस हिंसा में 240 लोग मारे गए थे जबकि 1500 से ज्यादा लोग घायल हुए थे।- फाइल, national news in hindi, national news
फेतुल्ला गुलेन के आतंकी संगठन FETO ने 15 जुलाई को तुर्की में प्रेसिडेंट तैयप एर्दोगन को अपदस्थ करने की कोशिश की थी। इस हिंसा में 240 लोग मारे गए थे जबकि 1500 से ज्यादा लोग घायल हुए थे।- फाइल
नई दिल्ली. तुर्की में नाकाम तख्तापलट के 'मास्टरमाइंड' फेतुल्ला गुलेन के आतंकी संगठन FETO ने अब भारत में भी पैठ बना ली है। तुर्की के फॉरेन मिनिस्टर मेवलुत कावुसोगलु ने यह जानकारी दी है। भारत सरकार ने इस खुलासे पर चिंता जताते हुए सुरक्षा एजेंसियों को अलर्ट कर दिया है। मेवलुत इन दिनों पहले सरकारी दौरे पर भारत में हैं। बता दें कि FETO ने पिछले महीने प्रेसिडेंट तैयप एर्दोगन को अपदस्थ करने की कोशिश की थी। एर्दोगन ने इसके लिए अमेरिका में रहने वाले मुस्लिम धर्मगुरु फेतुल्ला गुलेन को जिम्मेदार ठहराया है। पूरी दुनिया में एक्टिव है FETO...
- मेवलुत ने कहा है- "FETO अपने गुप्त अंतरराष्ट्रीय आपराधिक नेटवर्क के जरिए पूरी दुनिया में एक्टिव है।"
- "दुर्भाग्य से FETO अपने संगठनों और स्कूलों के माध्यम से अब भारत में भी घुस आया है।"
- मेवलुत ने यह खुलासा भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के साथ मीटिंग के बाद किया है।
- पीटीआई को दिए इंटरव्यू में तुर्की के फॉरेन मिनिस्टर ने कहा- "मैंने यह मुद्दा अपने भारतीय समकक्ष के सामने भी उठाया है।"
FETO को खदेड़ने के लिए तत्काल कार्रवाई करें : तुर्की
- मेवलुत ने कहा- "जिन भी देशों में FETO मौजूद है, उन सभी से हमने कहा है कि इस संगठन को अपनी सीमा से बाहर खदेड़ने के लिए तुरंत कार्रवाई करें।"
- आतंकवाद के खिलाफ कार्रवाई पर जोर देते हुए मेवलुत ने कहा- "टेररिज्म का चाहे जो भी रूप हो, यह भारत और तुर्की दोनों के लिए एक खतरा है।"
- "इसलिए ऐसे खतरों से जुड़ी इन्फॉर्मेशन को शेयर करना और बायलैट्रल, इंटरनेशनल कोऑपरेशन के साथ ही टेररिज्म के खिलाफ एकजुटता बेहद अहम है।"
- "भारत और तुर्की दोनों को ही इन बातों पर फोकस करना चाहिए।"
भारत का क्या है कहना?
- तुर्की के मिनिस्टर के कमेंट पर भारत के विदेश मंत्रालय के स्पोक्सपर्सन विकास स्वरूप ने कहा- "तुर्की की चिंताओं को लेकर भारत संवेदनशील है।"
- "सुरक्षा एजेंसियों को अलर्ट कर दिया गया है। हमने अंकारा (तुर्की की कैपिटल) की चिंताओं और गैरकानूनी गतिविधियों में शामिल FETO से जुड़े सभी संगठनों पर पाबंदी लगाने की मांग को गंभीरता से लिया है।"
कौन है फेतुल्ला गुलेन?
- फेतुल्ला गुलेन एक मुस्लिम धर्मगुरु हैं। फिलहाल अमेरिका में आत्म निर्वासन में जीवन बिता रहे हैं।
- तुर्की ने फेतुल्ला गुलेन के संगठन को फेतुल्ला टेरर ऑर्गेनाइजेशन करार दिया है।
- प्रेसिडेंट तैयप एर्दोगन ने फेतुल्ला को तख्तापलट की साजिश के लिए दोषी ठहराया है।
- तुर्की में फेतुल्ला के खिलाफ 2527 पन्नों का आरोप-पत्र दाखिल किया गया है और उनके लिए उम्रकैद की मांग की गई है।
तुर्की में पिछले महीने क्या हुआ था?
- 15 जुलाई की रात तुर्की में फेतुल्ला गुलेन ने तख्तापलट की कोशिश की थी।
- फेतुल्ला पर इस नाकाम कोशिश की अगुआई करने का आरोप है।
- तुर्की की आर्मी के एक हिस्से ने इसमें फेतुल्ला का समर्थन किया था।
- तुर्की के बड़े शहरों में रातभर हुई हिंसा में 240 लोग मारे गए थे जबकि 1500 से ज्यादा लोग घायल हुए थे।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...