हमें चाहने वाले मित्र

11 जुलाई 2016

पन्दरह सूत्रीय कल्याणकारी कार्यक्रम की समीक्षा बैठक चोपट

राजस्थान सरकार कोटा संभाग सहित पुरे राजस्थान में अल्पसंखयकों की समस्याओं के समाधान के मामले में गम्भीर नहीं है ,,पन्दरह सूत्रीय कल्याणकारी कार्यक्रम की समीक्षा बैठक चोपट पढ़ी है तो केंद्र सरकार की योजनाओं का लाभ जिलेवार नहीं मिल पा रहा है ,,स्थिति यह है के कोटा में कई योजनाओं का लाभ अल्पसंखयकों को नहीं मिलपाने से अल्पसंख्य्क आंदोलन की राह पर खड़े है ,,, प्रदेश कांग्रेस कमेटी में ,कोटा संभाग अल्पसंख्य्क विभाग के संभाग चेयरमेन एडवोकेट अख्तर खान अकेला ने इस मामले में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ,,मुख्य्मंत्री श्रीमती वसुंधरा सिंधिया को पत्र लिखकर पन्दरह सूत्रीय समीक्षा कार्यक्रम को मज़बूत बनाने और कोटा में केंद्र व राज्य सरकार द्वारा दी जाने वाली सुविधाओं का लाभ सभी अल्पसंखयकों तक पहुंचाने की मांग की है ,,,कोटा संभाग अल्पसंख्य्क विभाग के प्रवक्ता महासचिव तबरेज़ पठान ने बताया के संभाग चेयरमेन अख्तर खान अकेला द्वारा भेजे गए पत्र में कहा गया है के ,,प्रधानमंत्री खुद पन्दरह सूत्रीय अल्पसंख्य्क कल्याणकारी कार्यक्रम के मॉनिटर है ,,,जबकि अब तक केंद्र स्तर पर सांसदों की समीक्षा समिति नहीं बनाई गई है ,,राजस्थान में जो पन्दरह सूत्रीय कार्यक्रम जिला समिति बनाई गई है वह निष्क्रिय है ,,कोटा में जनवरी के बाद अब तक कोई बैठक नहीं हुई है ,,जनवरी में जो बैठक हुई उसमे सदस्य अनुपस्थित थे और अफ़सोस की बात थी की पन्दरह सूत्रीय कार्यक्रम की बैठक पंद्रह मिनट भी नहीं चली ,,कोटा में उर्दू भाषा के उत्थान ,,स्कूलों में उर्दू टीचर्स की समस्या ज़िला कलेक्ट्र के पास तहरीक ऐ उर्दू राजस्थान के ज्ञापन जाने के बाद वह इस मामले में कुछ सकारात्मक रुख अपनाते है वर्ना ,,पन्दरह सूत्रीय बैठक तो छ माह से हुई ही नहीं ,,,तबरेज़ पठान ने बताया के अख्तर खान अकेला ने पत्र में लिखा है ,,,के पन्दरह सूत्रीय कार्यक्रम की बैठक में सांगोद ,,रामगंजमंडी ,,बपावर के सदस्य बनाए है ,,शहरी क्षेत्र का कोई सदस्य नहीं होने से उपस्थिति नहीं रहती है और अनुपस्थित लोगो को हटाकर नए सक्रिय लोगो को सदस्य बनाया जाना चाहिए ,,,कोटा में दो वर्षो से अल्पसंख्य्क महिला छात्रावास संचालित नहीं है ,,छात्रावास का लाभ अल्पसंंख्य्को को नहीं मिल पा रहा है ,,सिर्फ इक्कीस सो रूपये मात्र एक बच्चे पर मिलने से भी कोई इस काम में रूचि नहीं ले रहा है ,,टेगोर नगर कोटा में अल्पसंख्य्क छात्रावास का निचला भवन बनकर तैयार है ,,दूसरी मंज़िल का कार्य चल रहा है वहां वर्तमान में छात्रावास शुरू किया जा सकता है लेकिन अब तक छात्रावास शुरू नहीं किया गया है ,,कोटा में सांगोद ,,कैथून सहित कई अल्पसंख्य्क बाहुल्य क्षेत्र है जहाँ ग्राम योजना के तहत चयनित योग्य होने के बाद भी स्थानीय लोगो को इस यौजना का लाभ प्रचार प्रसार के अभाव में नहीं मिल सका है ,,इसी तरह से अनुप्रीत योजना ,,अपनी धरोहर योजना ,,,कोचिंग योजना ,,सीखो कमाओ योजना शैक्षणिक ऋण योजना ,,कारोबारी ऋण योजना ,,,मदरसा आधुनिकीकरण योजना ,,महिला स्वावलम्बन योजना ,,स्वम सेवी संस्थाओं के ज़रिये जागर्ति कार्यक्रम सहित अन्य कार्यक्रम चलाने की योजनाएं ठंडे बस्ते में है ,,कोचिंग संस्थाओं के पंजीयन नहीं होने से छात्र छात्राओं को लाभ नहीं मिल रहा है ,,शैक्षणिक ऋण योजना का लाभ किसी को नहीं मिल पाया है ,,हालात यह है के पन्दरह सूत्रीय कार्यक्रम में रोज़गार ,,ऋण योजनाओं ,,आंगनबाड़ी योजना ,,भाषाई उत्थान योजना की समीक्षा नहीं होती ,,इन योजनाओं का करोडो का बजट केंद्र सरकार द्वारा भेजा जाता है ,,लेकिन प्रचार प्रसार की कमी और क्रियान्विति में उपेक्षा के कारण इन योजनाओं का करोडो का बजट बिना उपयोग के वापस जा रहा है ,,,,तबरेज़ पठान ने बताया के पत्र में अख्तर खान अकेला ने प्रधानमंत्री ,,मुख्य मंत्री को इस मामले में हस्तक्षेप कर कठोर कदम उठाते हुए ज़िला कलेक्टर ,,मुख्य सचिव को उचित दिशा निर्देश देने की मांग उठाई है ,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,अख्तर खान अकेला कोटा राजस्थान

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...