हमें चाहने वाले मित्र

04 जून 2016

पूर्व महापौर डॉकटर रत्ना जैन ,बिजली बनाओ ,,बिजली बचाओ के लिए ब्रांड एम्बेसेडर

हमारे कोटा की पूर्व महापौर डॉकटर रत्ना जैन ,बिजली बनाओ ,,बिजली बचाओ ,,रूपये बचाओ के फार्मूले के तहत कोटा शहरी क्षेत्र में सोलर ऊर्जा के उपयोग के लिए ब्रांड एम्बेसेडर के रूप में काम कर जागरूकता कार्यक्रम चला रही है ,,डॉकटर रत्ना जैन ने इस मामले में कोटा के निजी अस्प्तालों को सबसे पहले प्रेरित किया है और जल्दी ही इसी माह के अंत तक कोटा के कई निजी अस्पतालों में सोलर ऊर्जा के उपयोग से हज़ारो यूनिट बिजली का उत्पादन होगा और बचत भी होगी ,,,डॉकटर रत्ना जैन की प्रेरणा से करीब पेंसठ लाख रूपये में कोटा नगर निगम में महापौर कार्यकाल में सोलर ऊर्जा प्लांट लगवाया था जो सो किलोवाट का होने से पांच सो यूनिट बिजली रोज़ उत्पांदन करने की क्षमता रखता है ,,इससे अब नयी तकनीक आने से नगर निगम को लाखो रूपये का फायदा होगा ,,,पूर्वमहापोर डॉकटर रत्ना जैन सोलर ऊर्जा के फायदे बताकर लोगो में इसके प्रति आकर्षण पैदा कर इसके उपयोग के प्रति उन्हें जागरूक करने के लिए कई संस्थाओं से भी भेंट कर चुकी है ,,,वह बताती है के नगर निगम कोटा के सोलर प्लांट में पहले आधुनिक तकनीक मीटर नहीं होने से सोलर ऊर्जा और उसके उपयोग के बाद बची बिजली सरकार को देने का प्रावधान नहीं था ,,लेकिन अब दिन भर तो नगर निगम में मुफ्त बिजली जलेगी ही सही लेकिन ,,शनिवार ,,रविवार और दूसरे अवकाश के दिन जो सोलर ऊर्जा का पांच सो यूनिट प्रतिदिन का उत्पादन होगा वह सरकार के पास विक्रय होने से नगर निगम को लाखो रूपये की आमदनी होगी ,,,डॉकटर रत्ना जैन ने सोलर प्लांट के बारे में प्राप्त विशेषज्ञ जानकारी के बाद बताया के वर्तमान में सरकार प्रति एक किलोवाट प्लांट पर जो पांच यूनिट बिजली प्रति दिन उत्पाद करती है ,,अस्सी हज़ार में से तीस फीसदी सब्सीडी देती है जबकि उक्त राशि का साठ प्रतिशत हिस्सा इनकम टैक्स खर्च में बताकर इन्कमटेक्स की छूट ली जा सकती है ,,उन्होंने बताया के छोटी सी जगह पर कुल एक सो पच्चीस स्क्वायर फिट में यह प्लांट लगता है जबकि छायाँ वाले हिस्से में यह प्रतिबंधित है ,,उन्होंने बताया के करीब पांच साल में यह प्लांट मुफ्त हो जाता है और पच्चीस साल तक चलने की गारंटी के बाद बाद में जो भी बिजली बनती है वह मुनाफे की होती है ,,उनका मानना है के देश को बिजली उत्पादन की ज़रूरत है उसका हिस्सा हमे भी बनना चाहिए इससे पर्यावरण में भी फायदा होगा जबकी लाखो यूनिट बचने से वह बिजली किसानों और उद्योगों के काम आ सकेगी जबकि घरों में इन प्लांटों से बिजली के बिल से भी झंझट पाया जा सकेगा ,,डॉकटर रत्ना जैन ने पहले चरण में इस मामले में कोटा के लगभग सभी निजी अस्पतालों से सम्पर्क कर उन्हें तैयार कर लिया है ,,जबकि ,,अख्तर खान अकेला कांग्रेस अल्पसंख्य्क विभाग के कोटा संभाग अध्यक्ष ,,पार्षद मोहम्मद हुसैन मिस कॉल ,,, मौलाना रौनक ,,अज़ीज़ सिद्दीकी ,,,अल्पसंख्य्क विभाग के तबरेज़ पठान ,,,सुल्तानपुर के उप प्रधान रईस खान सहित कई साथी डॉकटर रत्ना जैन के ,,बिजली बचाओ ,,बिजली बनाओ ,,,बिजली के बिल के खर्चे को बचाओ अभियान में शामिल होकर कंधे से कंचा मिलाकर चलने को तैयार खड़े हुए है ,,और हर तरह के सहयोग को तैयार बैठे है ,,जो इस अभियान में उनका हर सम्भव सहयोग करने को तत्पर रहेंगे ,,,,,,,,,,,,,,,,अख्तर खान अकेला कोटा राजस्थान

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...