हमें चाहने वाले मित्र

09 मई 2016

सोनिया का मोदी को जवाब- इटली में हैं रिश्तेदार पर आखिरी सांस भारत में ही लूंगी


अगस्ता हेलिकॉप्टर डील में करप्शन का आरोप लगाने वाले नरेंद्र मोदी को सोमवार को सोनिया गांधी ने जवाब दिया।
तिरुवनंतपुरम.अगस्ता हेलिकॉप्टर डील में करप्शन का आरोप लगाने वाले नरेंद्र मोदी को सोनिया गांधी ने जवाब दिया है। सोमवार को उन्होंने कहा, ''हां, इटली में मेरे रिश्तेदार हैं। वहां 93 साल की मेरी बूढ़ी मां है। मुझे इस बात की कोई शर्मिंदगी नहीं है। मैं आखिरी सांस तक भारत में रहूंगी।'' बता दें कि पिछले दिनों एक रैली के दौरान पीएम ने कहा था कि जिनके रिश्तेदार इटली में हैं, उन्होंने घोटाले किए। उन्हें कानूनन सजा मिलनी चाहिए। अगस्ता पर मोदी ने और क्या कहा था...

- पिछले हफ्ते शुक्रवार को तमिलनाडु में एक रैली के दौरान मोदी ने कहा था- ''इटली ने ही गुनहगार बना दिया।''
-'' हम तो इटली में किसी को जानते नहीं। हम कभी मिले नहीं फिर भी इटली के लोगों ने उनको गुनहगार बना दिया, हम क्या करें।''
- ''हेलिकॉप्टर में चोरी करने वालों को सजा होना चाहिए या नहीं?''
- ''कानूनी कार्रवाई होनी चाहिए। कोई कितना ही बड़ा क्यों न हो, सजा होनी चाहिए या नहीं?''
- मोदी ने कहा था- पिछली सरकार जो सत्ता में थी और जिनके रिश्तेदार इटली में हैं वह इस करोड़ो रुपए के घोटाले में शमिल हैं।
- उन्होंने जनता से पूछा,""आप में से किसी का रिश्तेदार इटली में है क्या। आपका कोई रिश्तेदार इटली में नहीं है न, मेरा भी उस देश में कोई संबंधी नहीं है और न तो मैं इटली गया हूं और ना ही मैंने वह देश देखा है।""
- "लेकिन इटली की जनता कहती है कि अगस्ता वेस्टलैंड हेलीकॉप्टर साैदे में भ्रष्ट्राचार हुआ है। इटली की अदालत ने गलत कार्यों के लिए सजा दी है इसलिए भारत में इसमें शामिल लोगों को भी सजा मिलनी चाहिए।"
सोनिया ने कैसे दिया जवाब?
- सोमवार को केरल में रैली के दौरान सोनिया गांधी ने कहा, ''मैंने भारत में अपनी जिंदगी के 48 साल बिताए हैं। यह मेरा घर है, यह मेरा देश है।''
- ''हां, मैंने इटली में जन्म लिया था। मैं 1968 में इंदिरा गांधी की बहू बन कर भारत में आई।''
- ''प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भारत के प्रति मेरे प्यार को खत्म नहीं कर सकते।''
- ''भारत ही मेरा घर है। यहीं मैं अपनी आखिरी सांस लूंगी।''
क्या है मामला?
- यूपीए-1 सरकार के वक्त 2010 में अगस्ता वेस्टलैंड से वीवीआईपी के लिए 12 हेलिकॉप्टरों की खरीद की डील हुई थी। डील के तहत मिले 3 हेलिकॉप्टर आज भी दिल्ली के पालम एयरबेस पर खड़े हैं। इन्हें इस्तेमाल में नहीं लाया गया।
- डील 3,600 करोड़ रुपए की थी। टाेटल डील का 10% हिस्सा रिश्वत में देने की बात सामने आई थी। इसके बाद यूपीए सरकार ने फरवरी 2010 में डील रद्द कर दी थी।
- तब एयरफोर्स चीफ रहे एसपी त्यागी समेत 13 लोगों पर केस दर्ज किया गया था।
- जिस मीटिंग में हेलिकाॅप्टर की कीमत तय की गई थी, उसमें यूपीए सरकार के कुछ मंत्री भी मौजूद थे। इस वजह से कांग्रेस पर भी सवाल उठे।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...