हमें चाहने वाले मित्र

22 जनवरी 2016

लखनऊ: लगे ‘मोदी गो बैक’ के नारे, दलित स्टूडेंट के सुसाइड पर PM भावुक

लखनऊ यूनिवर्सिटी में मोदी के स्पीच के वक्त विरोध हुआ।
लखनऊ यूनिवर्सिटी में मोदी के स्पीच के वक्त विरोध हुआ।
लखनऊ. नरेंद्र मोदी शुक्रवार को वाराणसी के दौरे के बाद लखनऊ पहुंचे। यहां उनके तीन प्रोग्राम हैं। बीबीएयू में पीएम की स्पीच के दौरान एक ग्रुप ने ‘मोदी गो बैक’ के नारे लगाए।नारे लगाने वाले स्टूडेंट्स को प्रोग्राम से बाहर निकाल दिया गया। ये ग्रुप हैदराबाद यूनिवर्सिटी के दलित स्टूडेंट रोहित वेमुला की सुसाइड से नाराज था।
रोहित का जिक्र कर मोदी ने क्या कहा...
- स्पीच के दौरान पीएम भावुक हो गए। कुछ देर चुप रहे और फिर आगे बोले।
- कहा- "रोहित को सुसाइड के लिए मजबूर होना पड़ा।"
- “कारण अपनी जगह है। राजनीति अपनी जगह है। लेकिन सच्चाई यही है कि मां भारती ने अपना एक लाल खोया है।”
- “उसके परिवार पर क्या बीती होगी। मेरे देश के एक नौजवान बेटे रोहित को आत्महत्या करने के लिए मजबूर होना पड़ा।”
लखनऊ एयरपोर्ट पर अखिलेश ने किया स्वागत
- मोदी का लखनऊ के अमौसी एयरपोर्ट पर राजनाथ सिंह, यूपी के गवर्नर राम नाईक और अखिलेश यादव ने स्वागत किया।
- इससे पहले, मोदी के स्वागत के लिए अखिलेश वाराणसी नहीं गए थे।
- बाबासाहेब भीमराव आंबेडकर यूनिवर्सिटी (बीबीएयू) के कन्वोकेशन में मुलायम सिंह यादव की छोटी बहू अपर्णा यादव भी मौजूद थीं।
सिक्युरिटी के नाम पर बच्चे हुए परेशान
- पीएम की सिक्युरिटी के नाम पर बीबीएयू में पुलिस ने बच्चों को पानी और बिस्कुट पहुंचाने पर भी रोक लगा दी।
- कुछ बच्चों ने प्यास और भूख की शिकायत की।
वाराणसी में मोदी ने क्या कहा?
- मोदी ने काशी के डीएलडब्ल्यू ग्राउंड में दिव्यांगों (हैंडिकैप्ड लोगों) को हेल्पिंग किट दी।
- इसके बाद वाराणसी-दिल्ली महामना एक्सप्रेस को हरी झंडी दिखाई।
- स्पीच में पीएम ने कहा- ''दिव्यांग लोगों की बस पलटने से दुख हुआ। सरकार के अधिकारियों को मैंने वहां भेजा। इलाज सरकार कराएगी।''
- ''दिव्यांगों का कैम्प मोदी का संसदीय क्षेत्र होने की वजह से वाराणसी में नहीं लगा। इससे पहले ही 1800 कैम्प लग चुके हैं।''
- ''1992 से 2014 तक दिव्यांगों के लिए सिर्फ 100 कैम्प लगे। दिव्यांग का मतलब यह है कि उसमें कौन सी विशेषता है।''
- ''राहुल नाम का एक बच्चा मिला। उसे कंप्यूटर दिया। उसने तुरंत उसे चालू कर दिया। यही इनकी विशेषता है।''
'मैंने नट बोल्ट कसे तो लोगों को तकलीफ हो रही है'
- वाराणसी में मोदी ने कहा, ‘पूरी दुनिया मुझ पर जब हमला करती है तो मैं परेशान नहीं होता। मैंने नट बोल्ट कस दिए हैं। लोगों की दुकानें बंद हो रही हैं। उन्हें तकलीफ हो रही है लेकिन इससे मुझे तकलीफ नहीं होती।’
- ''जापान के पीएम ने हाल ही में एक भाषण में गंगा आरती का जिक्र किया था। मैं उनका आभारी हूं।''
- ''ये सरकार गरीबों के लिए दौड़ने वाली सरकार है। कुछ कर गुजरने वाली सरकार है। बिचौलियों की दुनिया समाप्त कर दी है हमने।''
वाराणसी में दिव्यांगों की बस का हुआ एक्सीडेंट
- इसके पहले कपसेठी में मोदी के प्रोग्राम में आ रहे दिव्यांगों की बस का एक्सीडेंट हो गया।
- हादसे में 15 से ज्यादा विकलांग घायल हुए हैं। सभी को हॉस्पिटल में एडमिट कराया गया है। 
महामना एक्सप्रेस कहां से चलेगी?
- वाराणसी कैंट स्टेशन पर शुक्रवार को मोदी ने वाराणसी से वाया लखनऊ दिल्ली तक जाने वाली महामना एक्सप्रेस को फ्लैग ऑफ किया।
- यह ट्रेन हर मंगलवार, गुरुवार और शनिवार को चलेगी।
- वाराणसी से ये ट्रेन शाम 6 बजकर 35 मिनट पर रवाना होगी।
- लखनऊ के चारबाग स्टेशन पर रात 11:50 पर आकर 11:58 पर छूटेगी।
- ये ट्रेन दूसरे दिन सुबह 8 बजकर 25 मिनट पर नई दिल्ली पहुंचेगी।
- नई दिल्ली से महामना एक्सप्रेस हर सोमवार, बुधवार और शुक्रवार को चलेगी।
क्यों खास है महामना एक्सप्रेस?
- महामना एक्सप्रेस की सभी बोगियां फायर प्रूफ होंगी।
- बाहर आग अगर लगी भी, तो अंदर तक ये नहीं पहुंचेगी।
- पैसेंजर्स की सुविधा के लिए जर्कलेस बर्थ बनाए गए हैं।
- ट्रेन में एलईडी लाइटिंग सिस्टम लगाए गए हैं।
- पैसेंजर्स के लिए बायो टॉयलेट और एक्जॉस्ट फैन भी होंगे।
- हर बर्थ पर मोबाइल और लैपटॉप चार्जिंग प्वॉइंट भी दिए गए हैं।
- बुजुर्ग लोगों के लिए बोगियों में घर जैसी सीढ़ियां बनाई गई हैं।
ये भी पढ़िए,
लखनऊ में और क्या करेंगे मोदी?

- बीबीएयू से मोदी कॉल्विन कॉलेज के प्रोग्राम में जाएंगे, वहां जरूरतमंदों को ई-रिक्शा बांटा जाएगा।
- यहां से मोदी अंबेडकर महासभा कैम्पस जाएंगे।
- शाम 5:15 पर दिल्ली के लिए रवाना हो जाएंगे।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...