हमें चाहने वाले मित्र

30 दिसंबर 2015

संघ चाहता है कैबिनेट में बदलाव, लेकिन मोदी को नहीं मिल रहा रिप्लेसमेंट

नरेंद्र मोदी। (फाइल फोटो)
नरेंद्र मोदी। (फाइल फोटो)
नई दिल्ली. नरेंद्र मोदी अपनी कैबिनेट में बदलाव चाहते हैं। उनके पास अभी 66 मंत्रियों की टीम है। इनमें 34 वकील, डॉक्टर, इकोनॉमिस्ट, सीए और इंजीनियर जैसे स्पेशलिस्ट हैं। इसके बावजूद कई मिनिस्टर्स नॉन-परफॉर्मिंग हैं। आरएसएस की तरफ से दबाव है कि सरकार की इमेज बदलने के लिए पीएम कुछ मंत्रियों को हटाएं। लेकिन उनका रिप्लेसमेंट ढूंढने में उन्हें परेशानी हो रही है।
आखिर मोदी किन वजहों से चाहते हैं अपनी टीम में बदलाव...
- न्यूज एजेंसी रॉयटर्स की रिपोर्ट के मुताबिक, बिहार विधानसभा चुनाव में हार के बाद से सरकार की इमेज को लेकर संघ परेशान है।
- संघ की तरफ से दबाव है कि काम नहीं कर पा रहे मिनिस्टरों को हटाया जाए, ताकि आने वाले चुनावों से पहले सरकार की इमेज सुधरे।
- मोदी ने जॉब्स और ग्रोथ को लेकर कई वादे किए थे। लेकिन सरकार बनने के डेढ़ साल बाद भी इन पर कोई खास काम नहीं दिख रहा।
- इन्वेस्टमेंट बढ़ाने को लेकर किए गए रिफॉर्म्स की रफ्तार धीमी पड़ गई है। इकोनॉमी भी कमजोर पड़ी है।
- दो साल से पड़ रहा सूखा भी रूरल ग्रोथ की राह में बड़ी रुकावट बना है।
क्या जेटली को फिर डिफेंस सौंपना चाहते हैं मोदी?
- रिपोर्ट के मुताबिक, मोदी जेटली को दोबारा डिफेंस पोर्टफोलियाे देने के बारे में सोच रहे हैं।
- लेकिन फाइनेंस मिनिस्ट्री संभालने के लिए कोई और बेहतर ऑप्शन नहीं मिल रहा है।
- बता दें कि मई 2014 में सरकार बनने के बाद जेटली के पास डिफेंस पोर्टफोलियाे ही था।
- बाद में मनोहर पर्रिकर को डिफेंस मिनिस्टर बना दिया गया।

मोदी ने 19 महीने में सिर्फ एक बार बदलाव किया
- मोदी और उनकी कैबिनेट ने 26 मई, 2014 को शपथ ली थी।
- उसके बाद से सिर्फ एक बार नवंबर, 2014 में कैबिनेट में बदलाव हुआ।
- तब बड़े चेहरों में शिवसेना से आए सुरेश प्रभु और गोवा के सीएम रहे मनोहर पर्रिकर को कैबिनेट में शामिल किया गया था।
कहां से कितने मंत्री?
66 मंत्रियों में से 13 उत्तर प्रदेश से।
8 मंत्री बिहार से।
7 मंत्री महाराष्ट्र से।
8 महिलाएं मोदी के कैबिनेट में।
34 मंत्री स्पेशलिस्ट, इनमें 15 वकील।
73 साल थी मनमोहन सरकार के मंत्रियों की एवरेज एज।
59 साल है अब मोदी मंत्रिमंडल के मेंबर्स की औसत उम्र।
7 मंत्री संघ से जुड़े हैं।
सरकार में कितने स्पेशलिस्ट?
- 15 वकील : इनमें अरुण जेटली, रविशंकर प्रसाद, जेपी नड्‌डा, चौधरी बीरेंद्र सिंह और रामकृपाल यादव शामिल हैं।
- 10 इकोनॉमिक एक्सपर्ट : जेटली के अलावा जयंत सिन्हा, निर्मला सीतारमण, राजीव प्रताप रूडी।
- 3 आईआईटियन : मनोहर पर्रिकर, जयंत सिन्हा और मनोज सिन्हा।
- 4 डॉक्टर : हर्षवर्धन, जितेंद्र सिंह, महेश शर्मा और संजीव बालियान।
- 2 सीए : पीयूष गोयल और सुरेश प्रभु।
8 महिलाएं भी

- मोदी कैबिनेट में 8 (12%) महिला मंत्री हैं।
- जबकि यूपीए-2 में 9 महिलाएं (11%) थीं।
- स्मृति ईरानी सबसे यंग (38 साल) और नजमा हेपतुल्ला सबसे उम्रदराज (74 साल) मंत्री हैं।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...