हमें चाहने वाले मित्र

15 नवंबर 2015

पेरिसः मिली AK-47 से भरी हमलावरों की कार, सामने आई खून से सने हॉल की फोटो

पेरिस के बताक्लां कॉन्सर्ट हॉल की फोटो। आतंकियों ने इस हॉल में म्यूजिक शो के दौरान 100 से ज्यादा लोगों को भून दिया था।
पेरिस के बताक्लां कॉन्सर्ट हॉल की फोटो। आतंकियों ने इस हॉल में म्यूजिक शो के दौरान 100 से ज्यादा लोगों को भून दिया था।
पेरिस. फ्रांस की राजधानी पेरिस में शुक्रवार-शनिवार की दरमियानी रात हुए हमले की जांच तेजी से आगे बढ़ रही है। रविवार को पुलिस ईस्ट पेरिस में लावारिस कार बरामद की है। कार में कई एके-47 पाई गईं हैं। समझा जा रहा है कि हमलावरों ने इस कार का इस्तेमाल किया था। चश्मदीदों का कहना है कि मॉन्ट्रियल में मिली कार का इस्तेमाल हमलवारों ने शुक्रवार की रात कई लोकेशंस पर किया। इस बीच, लोकल मीडिया में कॉन्सर्ट हॉल की दर्दनाक फोटोज सामने आईं हैं। बता दें कि हॉल में ही आतंकियों ने अंधाधुंध फायरिंग कर 100 से ज्यादा लोगों को मौत के घाट उतार दिया था।
मारे गए आतंकियों की पहचान हुई
इस बीच, हमले में शामिल आठ आतंकी हमलावरों में से एक की पहचान कर ली गई है। उमर इस्माइल मुस्तफा (29) सुसाइड अटैक करने वालों में से एक बताया जा रहा है। ओमर फ्रांस का ही नागरिक है। फ्रेंच अथॉरिटी के मुताबिक, ये कॉन्सर्ट हॉल पर हुए हमले में शामिल था। पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक, उमर इस्माइल के छह करीबी लोगों को भी हिरासत में लिया गया है। इसमें उसके पिता, भाई और रिश्तेदार शामिल हैं।
आतंकी के पास था मैच का टिकट, प्रेसिडेंट ने स्टेडियम में ही संभाली थी कमान
पेरिस की पुलिस के मुताबिक, एक आतंकी के पास नेशनल स्टेडियम के अंदर चल रहे फुटबॉल मैच का टिकट था। उसने बाहर ही ब्लास्ट किया। इस स्टेडियम के अंदर खुद फ्रांस के प्रेसिडेंट फ्रांसुआ ओलांद 80 हजार लोगों के साथ मैच देख रहे थे। हमले की बात पता चलते ही उन्होंने स्टेडियम के कंट्रोल रूम से ही देश की इंटरनल सिक्युरिटी का जायजा लिया। ओलांद की उस वक्त की तस्वीरें रविवार को सामने आईं।
फ्रांस में क्या हुआ है?

पेरिस में आईएसआईएस के 8 आतंकियों ने 6 जगहों पर हमला किया। इनमें 128 लोगों की मौत हो चुकी है। हमला मुंबई के 26/11 अटैक की तरह था। आतंकियों ने दो रेस्टोरेंट, एक म्यूजिक कॉन्सर्ट हॉल और फुटबॉल स्टेडियम को निशाना बनाया। आतंकी आईएसआईएस के स्लिपर सेल के माने जा रहे हैं। जवाबी कार्रवाई में मारे गए एक आतंकी के पास से सीरिया का पासपोर्ट मिला है। 

पेरिस के नेशनल स्टेडियम में फ्रांस-जर्मनी के बीच फ्रेंडली फुटबॉल मैच चल रहा था। लोकल टाइम के मुताबिक शुक्रवार रात 9.17 बजे लोगों ने धमाकों की आवाज सुनी। जोरदार ब्लास्ट के बाद प्लेयर्स ने खेल रोक दिया। जब फायरिंग की भी आवाज आने लगी, तब लोग मैदान पर ही आ गए। दूसरा ब्लास्ट होने के बाद स्टेडियम में अनाउंसमेंट किया गया। इसके बाद लोग बाहर निकले।
स्टेडियम के मेन गेट तक पहुंच चुका था आतंकी

फ्रेंच मीडिया की रिपोर्ट्स के मुताबिक, इस स्टेडियम के बाहर एक आतंकी शुरुआती जांच से गुजरकर मेन एंट्री गेट तक पहुंच चुका था। लेकिन सिक्युरिटी टीम को शक हुआ। जब उसकी तलाशी ली गई तो पाया गया कि उसने सुसाइड जैकेट पहन रखा था। जब उसे रोका गया तो उसने खुद को उड़ा लिया। स्टेडियम के बाहर इस ब्लास्ट में 28 लोगों की मौत हो गई। जब हमला हुआ, तब मैच शुरू हुए 15 मिनट बीत चुके थे।
ओलांद को कैसे मालूम चला?

जिस वक्त स्टेडियम के बाहर ब्लास्ट की आवाज आई, उसी वक्त आेलांद का एक बॉडी गार्ड उनके पास पहुंचा। उसने आेलांद को धीमे से बताया कि पेरिस में हमले हो रहे हैं। इसके बाद ओलांद जब उठे तब तक धमाके की आवाज सुन दर्शक भी मैदान की ओर जाने लगे थे। ओलांद को तुरंत स्टेडियम के कंट्रोल रूम ले जाया गया। ओलांद ने वहीं से कमान संभाली और देश की इंटरनल सिक्युरिटी का जायजा लिया। तब तक स्टेडियम के बाहर एक और धमाका हो चुका था। स्टेडियम से धीरे-धीरे लोगों को बाहर निकाला जा रहा था। करीब पांच मिनट बाद ओलांद स्टेडियम से बाहर आए और पास ही बने गृह मंत्रालय के दफ्तर पहुंचे। वहां उन्होंने इमरजेंसी मीटिंग बुलाई।
रविवार के अपडेट्स
>> पेरिस अटैक में शामिल आतंकियों के तार सीरियन रिफ्यूजी से जुड़े हैं।

>> आठ आतंकी हमलावरों में से एक की पहचान कर ली गई है। उमर इस्माइल मुस्तफा (29) सुसाइड अटैक करने वालों में से एक बताया जा रहा है। ओमर फ्रांस का ही नागरिक है।
>> जांच में खुलासा हुआ है कि सुसाइड जैकेट पहने आतंकियों की तीन टीमें पेरिस में आई थीं। पेरिस की पुलिस ने एक फ्रेंच गनमैन के पिता और भाई को हिरासत में लिया है। यह गिरफ्तारी पेरिस से 130 किमी दूर हुई है।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...