हमें चाहने वाले मित्र

20 नवंबर 2015

माली में होटल पर हमला: 27 की मौत, 2 अातंकी मारे गए, 20 भारतीय सेफ

बमाको. अफ्रीकी देश माली की राजधानी बमाको के रेडिसन ब्लू होटल में शुक्रवार को आतंकी हमला हुआ। हमले में 27 लोग मारे गए। सिक्युरिटी ऑपरेशन में 20 भारतीयों समेत 80 बंधकों को छुड़ा लिया गया। 9 घंटे चली जवाबी कार्रवाई में दो आतंकी मारे गए। इन आतंकियों ने होटल में 170 लोगों को बंधक बना लिया था। मरने वाले फ्रांस और बेल्जियम के नागरिक हैं।
होटल में एयर फ्रांस के 12 और टर्किश एयरलाइंस ने छह क्रू मेंबर्स होटल में रुके हुए थे। बताया जा रहा है कि आतंकी डिप्लोमेटिक लाइसेंस प्लेट वाली गाड़ियों से आए थे, जिसकी वजह से उन्हें आसानी से एंट्री मिल गई।
'मिनिस्ट्री ऑफ एक्सटर्नल अफेयर्स' के स्पोक्सपर्सन विकास स्वरूप ने बताया कि बंधक बनाए गए सभी भारतीय दुबई की एक कंपनी में काम करते हैं। ये होटल में ही ठहरते हैं। माली में मौजूद भारतीय राजदूत ने जानकारी दी है कि बंधक बनाए गए सभी 20 भारतीय सुरक्षित हैं। माली में भारतीय दूतावास का नंबर 00223-20235420, 00223-20235421 है।
कुरान की आयतें सुनाने पर छोड़ा
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, जिन बंधकों ने कुरान की आयतें सुनाई, उन्हें आतंकियों ने छोड़ दिया।
एक हफ्ते में मुंबई जैसा दूसरा हमला
यह एक हफ्ते के अंदर किसी देश में हुआ मुंबई जैसा दूसरा हमला है। इससे पहले पिछले शुक्रवार/शनिवार को फ्रांस की राजधानी पेरिस में भी ऐसा ही हमला हुआ था। एक म्यूजिक कॉन्सर्ट हॉल में आतंकियों ने 100 से ज्यादा लोगों को बंधक बना लिया था। पूरे पेरिस में छह जगह पर हुए हमलों में 132 लोगों की मौत हुई थी। वहीं, 2008 में मुंबई में घुसे 10 पाकिस्तानी आतंकियों ने दो होटलों में लोगों को बंधक बनाया था। मुंबई हमलों में 164 बेकसूरों को जान गई थी।
सात चीनी सिटीजन भी बंधकों में
इसके अलावा होटल स्टाफ के 30 मेंबर्स भी बंधक बनाए गए हैं। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, 190 रूम वाले इस होटल में ब्लास्ट और फायरिंग की आवाज सुनी गई है। चीनी न्यूज एजेंसी शिन्हुआ के मुताबिक, बंधकों में सात चीनी सिटीजन भी शामिल हैं।
बता दें कि इस साल अगस्त में हुए हमले में पांच यूएन वर्कर्स समेत 13 लोग मारे गए थे। इस हमले में इस्लामिक आतंकियों का हाथ होने का शक था।
सूत्रों के अनुसार पिछले कुछ महीनों में बमाको में सुरक्षा एजेंसियों ने यहां कई आतंकी हमले नाकाम किए हैं। बताया जा रहा है कि ये अटैक मैकिना लिबरेशन फ्रंट ने किए है। स्थानीय मीडिया इस संगठन को 'न्यू बोको हरम' कहता है।
इसी होटल को क्यों निशाना बनाया
- रेडीसन ब्लू होटल माली की लग्जरी होटल में से एक है।
- इस होटल में माली सरकार के मंत्रियों के साथ, डिप्लोमेट्स और फ्रेंच एयर फोर्स के अधिकारी अक्सर रुकते हैं।
- इस होटल को एयर फ्रांस के ऑफिसर्स रुकने के लिए नियमित रूप से यूज करते हैं।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...