हमें चाहने वाले मित्र

24 अक्तूबर 2015

दरगाह अजमेर के नाज़िम आली जनाब अशफ़ाक़ हुसेन राजस्थान प्रशासनिक सेवा से भारतीय प्रशासनिक सेवा में पदोन्नत हो गए है ,,,

सुलतान ऐ हिन्द ,,ख्वाजा गरीब नवाज़ दरगाह अजमेर के नाज़िम आली जनाब अशफ़ाक़ हुसेन राजस्थान प्रशासनिक सेवा से भारतीय प्रशासनिक सेवा में पदोन्नत हो गए है ,,,,,,,इनके भाई लियाक़त अली आई पी एस से सेवानिवृत्त हुए है जबकि इनके भतीजे शाहिद अली भी राजस्थान प्रशासनिक सेवा में है ,,,,,,,सत्राह सितमबर उन्नीस सो अठावन में शेखावाटी में इनका जन्म हुआ ,,,,स्नातक पास करते ही पहली बार में इनका चयन चार जून उन्नीस सो चौरासी में राजस्थान प्रशासनिक सेवा में हो गया ,,इनकी कुशल कार्यक्षमता को देखते हुए इन्हे महत्वपूर्ण पदो पर नियुक्त किया गया ,,,,अशफ़ाक़ हुसेन जयपुर में कई प्रशासनिक पदो पर कार्यरत रहने के बाद अल्पसंख्यक विभाग में नियुक्त हुए फिर उन दरगाह अजमेर शरीफ का नाज़िम के पद के साथ रेवेन्यू बोर्ड का सदस्य बनाकर कोटा एकल बेंच की सुनवाई का क्षेत्राधिकार दिया ,,,,,,,,अशफ़ाक़ हुसेन की कार्यकुशलता और प्रशासनिक क्षमता को देखते हुए इन्हे वर्ष दो हज़ार तीन में चुनाव आयोग द्वारा मेरिट एवार्ड से नवाज़ा गया ,,,,,,,,,,साहित्यकार शरत चन्द्र चटर्जी इनके रोल मॉडल है जबकि इन्हे पढ़ने ,,लिखने ,,संगीत के अलावा फूटबाल खेलने का भी शोक है ,,,,क़ानून की मर्यादाओं में रहकर यह इनके प्रशासनिक पदो पर रहते हुए बिना किसी सिफारिश के शोषित उत्पीड़ित वर्ग को न्याय दिलवाने के मामले में अव्वल रहते है और इनके प्रशासनिक कार्यो को देखते हुए कई गरीब ,,शोषित ,,उत्पीड़ित आज भी उन्हें दुआएं देते नज़र आते है ,,,,,,,,अशफ़ाक़ हुसेन को उनकी भरतीय प्रशासनिक सेवा में पदोन्नति के लिए एक बार फिर मुबारकबाद बधाई ,,,,,,अख्तर खान अकेला कोटा राजस्थान

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...