हमें चाहने वाले मित्र

10 सितंबर 2015

अब नहीं होगी फायरिंग? भारत-पाक के बीच ढाई साल में चौथी बार बनी रजामंदी

दिल्ली में गुरुवार को पाक रेंजर्स के डीजी मेजर जनरल उमर फारूक बुर्की (दाएं) का स्वागत करते बीएसएफ के डीजी डीके पाठक (बाएं)।
दिल्ली में गुरुवार को पाक रेंजर्स के डीजी मेजर जनरल उमर फारूक बुर्की (दाएं) का स्वागत करते बीएसएफ के डीजी डीके पाठक (बाएं)।
नई दिल्ली. भारत-पाकिस्तान के बीच बॉर्डर पर फायरिंग बंद करने को लेकर रजामंद बनने की खबर है। मीडिया रिपोर्ट्स में ऐसा दावा किया गया है। ढाई साल में चौथी बार ऐसा फैसला हुआ है। दिल्ली में गुरुवार को बीएसएफ और पाकिस्तान रेंजर्स के बीच डीजी लेवल की बातचीत में बॉर्डर पर सीजफायर वॉयलेशन और घुसपैठ के मुद्दे पर भी बात हुई। दोनों देशों ने बातचीत को बेहद पॉजिटिव बताया है।
बातचीत में पाकिस्तान की तरफ से डीजी पाकिस्तान रेंजर्स मेजर जनरल उमर फारूक बुर्की, जबकि भारत की तरफ से बीएसएफ के डीजी डीके पाठक शामिल हुए। शुक्रवार को पाकिस्तान रेंजर्स के डीजी गृहमंत्री राजनाथ सिंह से भी मुलाकात करेंगे। इससे पहले 2013 और 2014 में तीन बार बीएसएफ और पाक रेंजर्स के बीच बातचीत हो चुकी है। सीएनएन आईबीएन और एबीपी न्यूज के मुताबिक दोनों देश फायरिंग बंद करने पर राजी हो गए हैं। वहीं, न्यूज एजेंसी पीटीआई ने एक सूत्र के हवाले से बताया कि इस मीटिंग की सबसे अहम कामयाबी यह रही कि दोनों देश बॉर्डर पर अमन कायम रखने को सबसे बड़ा मुद्दा मानने को राजी हो गए। दोनों देशों का मानना है कि इस अमन को जमीनी हकीकत पर लाने की जरूरत है।
पहले कब-कब बनी ऐसी रजामंदी?
- जनवरी 2013 : दोनों देशों के बीच तय हुआ था कि वे एकदूसरे पर फायरिंग नहीं करेंगे। कई दिनों की फायरिंग के बाद भारत-पाकिस्तान की आर्मी के बीच यह सहमति बनी थी। लेकिन बाद में पाकिस्तान सीजफायर तोड़ता रहा।
- जुलाई 2014 : भारत-पाकिस्तान के डीजी मिलिट्री ऑपरेशंस के बीच एक बार फिर इसी तरह की रजामंदी बनी।
- अगस्त 2014 : बीएसएफ और पाकिस्तान रेंजर्स की एक यूनिट चिनाब रेंजर्स के बीच 35 मिनट की मीटिंग हुई। इसमें तय हुआ कि एकदूसरे पर फायरिंग नहीं की जाएगी।
- सितंबर 2015 : जुलाई-अगस्त के दौरान भारत-पाकिस्तान के बीच भारी तनाव के बाद दिल्ली में बीएसएफ-पाक रेंजर्स के बीच मीटिंग हुई। इसमें भी फायरिंग नहीं करने पर सहमति बनी।
उफा में बनी थी सहमति
भारत-पाक के बीच डीजी लेवल की बातचीत के लिए सहमति रूस के उफा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और नवाज शरीफ के बीच बनी थी। बैठक से पहले बीएसएफ के डीजी डीके पाठक ने साफ कर दिया था कि हम पाकिस्तान के सामने सीजफायर वॉयलेशन और घुसपैठ के मुद्दे पर अपना एजेंडा रखेंगे। बुधवार को केंद्रीय गृहराज्य मंत्री किरन रिजिजू ने भी बयान जारी कर बातचीत से बेहतर नतीजे निकलने की उम्मीद जताई थी।
PAK ने एक दिन पहले ही की थी फायरिंग

डीजी लेवल की बातचीत शुरू होने से ठीक एक दिन पहले बुधवार को भी पाकिस्तान ने सीजफायर तोड़ा। जम्मू के कृष्णा घाटी और पुंछ एरिया में सीमापार से फायरिंग हुई। जवाब में बीएसएफ ने भी फायरिंग की। हालांकि इस दौरान किसी तरह के नुकसान की कोई सूचना नहीं है।
पाकिस्तान ने कितनी बार सीजफायर तोड़ा?
- रूस के उफा में 10 जुलाई को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पाकिस्तानी पीएम नवाज शरीफ के बीच मुलाकात होने के बाद पाकिस्तान ने 95 बार सीजफायर तोड़ा है।
- अगस्त में पाकिस्तान ने 55 बार सीजफायर तोड़ा।
- इस साल पाकिस्तान ने अब तक 250 बार सीजफायर तोड़ा है।
साल पाक ने बॉर्डर और एलओसी पर कितनी बार तोड़ा सीजफायर कितने जवान शहीद हुए कितने आम लोगों की जान गई कितने लोग प्रभावित हुए
2015 में अब तक 250 से ज्यादा बार 17 24 8000
2014 430 बार 41 26 2.08 लाख

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...