हमें चाहने वाले मित्र

13 सितंबर 2015

बिहार: 4.65 लाख रुपए कैश के साथ पकड़े गए जीतन मांझी के बेटे को छोड़ा

पुलिस हिरासत में प्रवीण।
पुलिस हिरासत में प्रवीण।
पटना. चार लाख पैंसठ हजार रुपए कैश के साथ रविवार को पकड़े गए हिंदुस्तान अवाम मोर्चा (हम) के चीफ और पूर्व सीएम जीतनराम मांझी के बेटे प्रवीण को पुलिस ने पूछताछ के बाद छोड़ दिया। पुलिस ने उन्हें जहानाबाद में पकड़ा था। प्रवीण अपनी वेंटो कार में यह कैश लेकर जा रहे थे। पुलिस ने उन्हें चेकिंग के लिए रोका था। एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, उन्हें हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। बता दें कि बिहार विधानसभा चुनाव के मद्देनजर लागू हुए आचार संहिता की वजह से ज्यादा से ज्यादा 50 हजार रुपए कैश लेकर चला जा सकता है।
प्रवीण ने कहा, नहीं पता नियम
प्रवीण ने एक टीवी चैनल से बातचीत में कहा था कि उन्हें इस बारे में जानकारी नहीं थी कि अधिकतम 50 हजार रुपए ही लेकर चला जा सकता है। प्रवीण के मुताबिक, उन्होंने यह रकम कर्ज के तौर पर एक शख्स से ली थी। प्रवीण ने पुलिस को बताया है कि यह पैसा पटना के कंकड़बाग में घर बनाने के लिए ले जा रहे थे। उनके पास इस बात के सबूत भी हैं, जो पुलिस के मांगने पर दिए जाएंगे।
लालू ने बढ़ाया दोस्ती का हाथ
लालू प्रसाद यादव की पार्टी RJD ने एनडीए से नाराज चल रहे बिहार के पूर्व सीएम जीतन राम मांझी की तरफ दोस्ती का हाथ बढ़ाया है। खबरों के मुताबिक राजद के कुछ नेता मांझी को अपने पाले में लाने के काम में जुटे हुए हैं। सूत्रों के मुताबिक ये नेता लालू के कहने पर ऐसा कर रहे हैं। आरजेडी, एनडीए और मांझी की पार्टी ‘हम’ के बीच चल रही खींचतान पर करीबी नजर रख रही है। मांझी के दामाद और ‘हम’ नेता देवेंद्र मांझी ने भी कहा है कि वह किसी के साथ भी जा सकते हैं।
आरजेडी से न्योता

देवेंद्र मांझी ने कहा कि उनकी पार्टी को लालू यादव की पार्टी से कोई परहेज़ नहीं है। हम तालमेल किसी के साथ भी कर सकते हैं। इससे पहले राजद के सीनियर लीडर रघुवंश प्रसाद सिंह ने मांझी को राजद में आने का न्योता दिया था। राजद प्रवक्ता मनोज झा और सांसद पप्पू यादव ने भी मांझी की मांगों को सही बताया था।
मनाने की कोशिश में बीजेपी

मांझी के दामाद देवेंद्र और राजद के बीच चर्चा की खबरों को बीजेपी ने गंभीरता से लिया है। बीजेपी लगातार मांझी को मनाने की कोशिश कर रही है। शनिवार को बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने मांझी से फोन पर बात की। रविवार को मांझी की बीजेपी नेताओं से बात हुई लेकिन खबरें हैं कि मांझी की नाराजगी अब तक दूर नहीं हुई है। मांझी इस बैठक से ही उठकर चले गए। मीडिया ने उनसे इस बारे में सवाल किया तो उन्होंने गुस्से में कहा, “हमें तो अभी केवल पांच सीटें मिली हैं।” बीजेपी नेता भूपेंद्र यादव का कहना है कि सीट बंटवारे पर मतभेद नहीं है, अगर कोई बात है भी तो उसे जल्‍द सुलझा लिया जाएगा।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...