हमें चाहने वाले मित्र

30 सितंबर 2015

मटके में फंसा प्‍यासे पैंथर का मुंह, 10 घंटे की मशक्कत के बाद निकाला


जयपुर/ राजसमंद। राजसमंद जिले के एक गांव सादुलखेड़ा में एक पैंथर तब लाचार हो गया जब उसका मुंह एक स्टील के मटके में फंस गया। दरअसल इस पैंथर को प्यास लगी थी। उसने प्यास बुझाने के लिए चारों ओर नजर दौड़ाई, तब उसकी निगाह खेत में रखे एक स्टील के मटके पर पड़ी। पैंथर ने जैसे ही उसमें मुंह डाला उसका मुंह मटके में फंस गया। इसके बाद वह छटपटाने लगा। लगभग दस घंटे के बाद उसे बेहोश करके निजात दिलाई गई।
पैंथर की छटपटाहट और आवाज सुनकर खेत में सो रहा किसान जग गया। उसने ग्रामीणों को आवाज दी। देर रात ग्रामीण जब खेत पर पहुंचे तो खूंखार जानवर को बेबस देख उसकी सहायता में लग गए। लोगों ने खुद की सुरक्षा के लिए पहले उसके चारो पैर रस्सी से बांध दिए। इसके बाद लगातार प्रयास किए गए।
सुबह हो गई, लेकिन पैंथर का मुंह मटके से बाहर नहीं निकल पाया। इसके बाद वन विभाग को खबर दी गई। मौके पर पहुंची वन विभाग की टीम ने भी काफी प्रयास किया, लेकिन उसका मुंह मटके से बाहर नहीं आया। अंत में थक-हार कर वन विभाग की टीम उस पैंथर को अपने साथ चौकी पर ले गई। वहां उसे ट्रंकुलाइज (बेहोशी का इंजेक्शन) किया गया और मटके को कटर से काटकर उसका सिर निकाला गया।
कई दिन से दिख रहा था पैंथर का परिवार

ग्रामीणों ने बताया कि करीब 1 हफ्ते से इस क्षेत्र में एक नर और मादा पैंथर के साथ उसके 4 शावक नजर आ रहे थे। हालांकि ये गांव की ओर नहीं आते थे, लेकिन अक्सर इन्हें गांव के आस-पास वन क्षेत्र में देखा जा रहा था। इनको देखने के बाद ग्रामीणों में इनको लेकर दहशत भी थी।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...