हमें चाहने वाले मित्र

14 अगस्त 2015

मुझे फख्र है

मुझे फख्र है के आज़ादी की लड़ाई की अलख जगाने वाला मेरा यह कोटा शहर ,,,आज़ादी के दीवाने लाल हरदयाल ,,महराब खान को अंग्रेज़ों द्वारा क्रूरतम सार्वजनिक फांसी का गवाह बना मेरा यह शहर राजस्थान के स्वाधीनता समारोह की मेज़बानी कर रहा है ,,,पुरे देश को ,,पानी ,,बिजली ,,शिक्षा ,,डॉक्टर ,इंजिनियर ,,उद्योगों में रोज़गार ,,देने वाले मेरे इस शहर में राजस्थान की प्रमुख श्रीमती वसुंधरा सिंधिया ध्वजारोहण करेंगी ,,मेरे इस शहर की सड़के चाहे टूट फुट होने के कारण रोती हो ,,,सड़को ,,गलियों में चाहे आवारा जानवरो का क़ब्ज़ा और उत्पात हो ,,,,गलियाँ अँधेरी हो ,,,पानी की निकासी सही नहीं होने से थोड़ी सी बरसात में मेरा यह शहर तालाब बनता हो ,,,लेकिन आज तो मेरा यह शहर सीना तान कर खड़ा है ,,इस शहर के चौराहे और इमारते झील मिल ,, झील मिल खूबसूरत रौशनी की छटा बिखेर रहे है ,,,,मेरे इस सजे ,,संवरे शहर को संवारने की कोशिश में जुटे कोटा जिला प्रशासन ,,खासकर कोटा जिला कलकटर डॉक्टर रविकुमार सुरपुर को सलाम ,,अदब ,आज़ादी के जश्न की बधाई ,,मुबारकबाद ,,,,,,,,,अख्तर खान अकेला कोटा राजस्थान

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...