हमें चाहने वाले मित्र

22 जुलाई 2015

पत्नि के प्रिय जुमले

 🌿🌿
---------------------------------------------
आप इनसे वंचित हैं तो यकीन मानिए कि आप बहुत शौभाग्यशाली है।
---------------------------------------------
🎋शादी के तीन महीने बाद 🎋
क्या कर रहे हैं ? कोई आ जाएगा, थोड़ी बहुत शर्म-वर्म है कि नहीं ?
🎋शादी के चार महीने बाद 🎋
सोने दो, तुम्हारी माँ चाहती है कि सुबह छः बजे मैं मन्दिर में उनके साथ 🔔 घंटियां बजाऊँ।
🎋छह महीने बाद 🎋
मेरे मैके नहीं तो, अपनी ससुराल ही ले चलो।
🎋दस महीने बाद 🎋
एेसी हालत में शर्मा जी अपनी पत्नी का कितना ध्यान रखते हैं, और एक तुम हो कि ?
🎋बारह महीने बाद 🎋
अपनी माँ की तरह बातें मत करो ,लडका हो या लडकी क्या फर्क पड़ता है ?
🎋पन्द्रह महीने बाद 🎋
जब तुम दुबले-पतले हो तो गुडिया आठ पौण्ड की कैसे होती ,हर बात में मुझे ही दोष देते हो ।
🎋अट्ठारह महीने बाद 🎋
हाँ-हाँ सब गुडिया से बहुत प्यार करते हैं ,लेकिन चैन ,अंगुठी तो मेरे मैके वालों ने ही दी ,देख लिया सबका प्यार ।
🎋दौ साल बाद 🎋
बिट्टो को बुखार है ,और तुम आफिस की फाइलों में सर खफा रहे हो ?तुममें अक्ल नाम की कोई चीज है कि नहीं
🎋तीन साल बाद 🎋
कान्वेंट में ही डालेंगे ,नहीं तो अपने बाप की तरह रह जाएगी ,और तुम तो इस मामले में नहीं बोलो तो अच्छा है ।
🎋चार साल बाद 🎋अब तुम्हारा भी एक परिवार है ,कब तक माँ बाबूजी के पल्लू से चिपके रहोगे ।बढे भैया को देखो ,कितनी चतुराई से अलग हो गये ।
↪पांच साल बाद 🎋
नौकरी बदलो ,ओवर टाईम करो ,डाका डालो ,अब हमारे खरचे बढ़ गये हैं ,पप्पू के खिलौने तक नहीं खरीद पाती ,जबकि पप्पू की डिलिवरी तक मेरे मैके मे हुई है ,यह कोई रिवाज है भला ?
🎋छह साल बाद 🎋
ये मकान ठीक नहीं है ,एक रूम कम पडता है ।
🎋सात साल बाद 🎋
बच्चों के चक्कर में मुझे तो बिल्कुल भूल ही गये ,पांच साल से एक अंगुठी तक नहीं दिलवाई ।
🎋आठ साल बाद 🎋
नासिक वाले इंजिनियर ने कितने कितने चक्कर काटे थे ,पर मुझे तो तुम्हारे साथ ही बर्बाद होना था ।
🎋 नौ साल बाद ↪
कोई अहसान नहीं करते हो ,जो कमा कर खिलाते हो ,सभी खिलाते हैं ।
🎋दस साल बाद 🎋
बच्चों के नम्बर नहीं आये तो मैं क्या करूं ?अकेली दोनों को पढाती हूँ ।तुम्हारे पास न तो टाइम है ना इन्हे पढाने की अकल ।
🎋ग्यारह साल बाद 🎋
खरचा कम नहीं होगा ,कमाई बढाने की चिन्ता करो ,और बाबूजी के पी .एफ का क्या हुआ। ?मकान के वक्त तो कुछ दिया नहीं ,अब जरा सी हेल्प नहीं कर सकते ,या राम ,भरत को ही देंगे ,राजगद्दी ?
🎋बारह साल बाद 🎋
मेरे पापा ने मेरी शादी की जिम्मेदारी ली थी ,तुम्हारी बहन भतीजों की नहीं ,शादियों में इतना वक्त दे रहे हैं ,यह कम है क्या ?
🎋तेरह साल बाद 🎋
ट्रान्सफर हो गया है तो मैं क्या करूं ?मैं अपने बच्चों के साथ कहीं नही जाने वाली ।
🎋चौदह साल बाद 🎋
क्या खाक मजा आया ,बच्चे तो बोर हो गये ,तुममें स्टेशन ढूंढने की भी तमीज नहीं है ,और होटल भी क्या था ,धर्मशाला जैसा ।
🎋पन्द्रह साल बाद 🎋
लौट आये ना ?पहले ही कोशिश करते तो ट्रान्सफर होता ही नहीं ,लेकिन तुममें इतनी स्मार्टनेस कहाँ है 🎋सोलह साल बाद 🎋
बच्चे बड़े हो गये हैं ,उनसे ढंग से बात किया करो ,ये मेरा घर है ,तुम्हारा दो टके का आफिस नहीं ।
🎋सत्रह साल बाद 🎋
बच्चे घूमने चले गये तो कौन-सा पहाड टूट गया ,सब जाते हैं ।तुम्हारे भरोसे तो केवल सब्जीमंडी देख सकते हैं ।बात करते हो ।
🎋अट्ठारह साल बाद 🎋
डाक्टर ने आराम करने को कहा है ,पर मेरी जान तो घर का काम करते -करते ही निकल जायेगी ।
🎋उन्नीस साल बाद 🎋
हो जाता है इस उम्र में ,बिट्टो को समझा दिया है ,अब वो देर रात तक बाहर नहीं रहेगी ,पर तुम शुरू मत हो जाना ।
🎋बीस साल बाद 🎋
मोटर साइकिल चलाएगा तो गिरेगा ही ,पहले ही कहा था ,कार दिला दो ,तब तो बजट का रोना रो रहे थे ।
🎋इक्कीस साल बाद 🎋
डायबिटीज हो गयी है तो मै क्या करूं ?जुबान पर तो लगाम है नहीं ,तीन-तीन बार मीठा ठूंसते रहते हो ,दवा लो ।
🎋बाइस साल बाद ↪
ये गीता भाभी का इतना ध्यान क्यों रखते हो ?इस उम्र में नाक कटवाओगे क्या ?
🎋तेईस साल बाद 🎋
अपने भाईयों के साथ बिजनेस नहीं करोगे ?बस नौकरी तो ठीक से होती नहीं ।बिजनेस करेंगे वो भी शातिरों के साथ ।
🎋चौबीस साल बाद 🎋
हाँ-हाँ ,तो अपने बूते पर ही की है ,अपनी बिट्टो की शादी ,तुम्हारे परिवारवाले तो मेहमान बन कर आये थे ,मेरा भाई नहीं आता तो लडकी की डोली तक नहीं उठती ।
🎋पच्चीस साल बाद 🎋
रहने दो ,काहे की सिल्वर जुबली ,मेरा तो जिगर और फिगर दोनो खराब करके रख दिया तुमने ।अच्छा मना लो ,पर ज्यादा पटर-पटर मत करना और सब से गिफ्ट भी लेना ,हमने भी पचासों जगह बांटी है ।
🎋छब्बीस साल बाद 🎋
पढी -लिखी बहू है तो अपने ढंग से रहेगी ही ,कानपुर वाली तो तुम बाप-बेटे को जमीं नहीं ,अब भुगतो ।
🎋सत्ताईस साल बाद 🎋
ससुर-नाना हो गये हो ,ये फटे पाजामें में हाल में मत आया करो ,मुझे शर्म आती है ।
🎋अठ्टाईस साल बाद 🎋
तुम्हे जाना है तो जाओ ,मै कहीं नहीं जाऊँगी ,पोते को कौन सम्भालेगा ?बहू में अक्ल है क्या ?
🎋उन्तीस साल बाद 🎋
कोई मन्दिर-वन्दिर नहीं ,तीस साल हो गये घंटियाँ बजाते ,क्या दिया भगवान् ने ,तंगी में ही जी रहे हैं न। ?
🎋तीस साल बाद 🎋
देख लो ,बीमारी में मैं ही काम आ रही है ,बडा दम भरते थे भाई-भाभी का ,कोई झांकने तक नहीं आया ,चिल्लाओ मत ,अभी खांसी शुरू हो जायेगी ।
🎋इकत्तीस साल बाद 🎋
आपरेशन से पहले वी.आर एस ले लो ,क्या पता बाद में नौकरी करने लायक रहो ना रहो ?
🎋बत्तीस साल बाद 🎋
सुबह से हल्ला मत मचाया करो ,पचास काम होते हैं घर में ,मै तुम्हारी तरह रिटायर नहीं हूं ,सुबह से शाम तक सबके लिये खटती हूँ ।
🎋तैंतीस साल बाद 🎋
भैया आप तो इन्हें ले जाओ ,सुबह से शाम तक सबका जीना हराम कर रखा है ,परेशान हो गये हैं ,क्या मुसीबत है ?
🎋चौंतीस साल बाद 🎋
पप्पू ,सारे पेपर अपने नाम करवाले बेटा ,अब तेरे पापा का कोई भरोसा नहीं ,तबीयत सम्भल भी गयी तो दिमाग की क्या गारंटी है ?
🎋पैंतीस साल बाद 🎋
क्या कर रहे हो ?कोई आ जाएगा ।थोडी शर्म-वर्म है कि नहीं ?
🌼जिस किसी भी पडाव में है भुगतते रहे ,कुढते रहे ।नमस्कार

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...