हमें चाहने वाले मित्र

30 जुलाई 2015

लाल बत्ती मामले में पुलिस ने फिर की दो फर्जी गिरफ्तारी मोहम्मद हुसैन


एक 75 प्रतिशत विकलांग दूसरा पार्षद हुसैन का ड्राइवर
कोटा 31 जुलाई महापौर और उपमहापौर की लाल बत्ती हटाने के मामले में हुए आन्दोलन का हवाला देते हुए आज किशोर पूरा पुलिस ने फिर से भाजपा की राजनीती के दबाव में आम आदमी पार्टी पर्वक्ता पार्षद मोहम्मद हुसैन के समर्थक गफ्फार खान जो 75 प्रतिशत विकलांग है को गिरफ्तार करने के बाद बेक फुट पर आ गई है व दूसरा हुसैन का ड्राइवर मोहम्मद जहीर है पुलिस ने इन्हें आधी रात बिना अरेस्ट वारंट के उनके घरों में घुस कर जबरन गिरफ्तार कर लिया गिरफ्तारी के बाद पार्षद मोहम्मद हुसैन ने रोष व्यक्त किया है वहीँ गफ्फार एंव जहीर की पत्नी व घर वालों ने पुलिस पर आधी रात घरों में घुस कर महिलाओं से अभ्र्ता करने एंव दोनों को फर्जी तरीके से गिरफ्तार करने का आरोप लगाया हुसैन ने कहा की गफ्फार 75 प्रतिशत विकलांग है और किशोरपुरा थाने के पास ही ई मित्र पर काम कर अपने परिवार का जीवन बसर करता है और ना ही वो आम आदमी पार्टी का सदस्य है और जहीर मेरी गाड़ी चलता है यह दोनों घटना के रोज मौके पर ही नहीं थे इन दोनों को पुलिस ने मेरे समर्थक होने के नाते फर्जी गिरफ्तार किया है
इसको लेकर वे
शुक्रवार सुबह 10 बजे किशोरपुरा थाने के बहार फर्जी कार्यवाही के विरोध में पुलिस का पुतला फूकेंगे और सेकड़ों लोग गिरफ़्तारी देंगे
व अबतक लाल बत्ती मामले में पुलिस द्वारा किये गए अवेद कार्यवाही करने पर अदालत में इश्तिगासा दर्ज करा कर दोषी पुलिस कर्मियों पर मुकदमा दर्ज करने की मांग करेंगे
गौर तलब है की सुप्रीम कोर्ट के 2014 के आदेश अनुसार महापौर और उप महापौर लाल बत्ती का उपयोग नहीं कर सकते इसके बावजूद कोटा नगर निगम में महापौर और उपमहापौर लाल बत्ती लगा कर घूम रहे थे इसी के विरोध में आम आदमी पार्टी पार्षद मोहम्मद हुसैन व कार्यकर्ताओं ने मई महीने में कोटा पुलिस महानिरीक्षक को 2 बार ज्ञापन देकर अवेद लाल बत्ती लगाने वालों पर कार्यवाही की मांग भी की थी लेकिन पुलिस ने जब कोई कार्यवाही नहीं की तो आप कार्यकर्ताओं ने सड़क पर उपमहापौर की गाड़ी रोक कर लाल बत्ती का चलन बनाने की मांग की जिसमे भी पुलिस ने एक तरफ़ा कार्यवाही करते हुए आम आदमी पार्टी के 10 कार्यकर्ताओं को 11 जून को गिरफ्तार किया था जिसके बाद पुरे कोटा में विरोध प्रदर्शन हुए थे और महापौर उपमहापौर को अपनी लाल बत्ती हटानी पड़ी थी

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...