हमें चाहने वाले मित्र

25 जून 2015

इमरजेंसी के बंदियों का सम्मान: 19 महीने जेल में रहे आडवाणी को भूली बीजेपी



फाइल फोटो- लालकृष्ण आडवाणी और पीएम नरेंद्र मोदी।
फाइल फोटो- लालकृष्ण आडवाणी और पीएम नरेंद्र मोदी।
नई दिल्ली. बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने इमरजेंसी के 40 साल पूरे होने पर उस दौरान बंदी बनाए गए नेताओं को सम्मानित किया। खास बात यह रही कि इस कार्यक्रम में पार्टी अपने वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी को भूल गई। सूत्रों के मुताबिक 'आपातकाल' को लेकर कुछ दिन पहले दिए गए आडवाणी के बयान से नाराज बीजेपी नेताओं ने उन्हें इस कार्यक्रम में शामिल होने का न्योता तक नहीं भेजा। सूत्रों के मुताबिक पिछले कुछ सालों से बीजेपी इमरजेंसी पर ऐसे कार्यक्रमों का आयोजन कर रही है। इन कार्यक्रमों में लालकृष्ण आडवाणी हर बार मुख्य अतिथि होते थे, लेकिन इस बार उन्हें न्योता भी नहीं भेजा गया। इमरजेंसी के दौरान आडवाणी 19 महीने तक जेल में बंद रहे थे।
इमरजेंसी में 19 महीने जेल में बंद रहे थे आडवाणी
बीजेपी के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी आपातकाल के दौरान 19 महीने जेल में बंद रहे थे। बावजूद इसके उन्हें इमरजेंसी के दौरान बंदी हुए नेताओं के सम्मान समारोह में किसी भी रूप में शामिल होने के लिए नहीं बुलाया गया। हालांकि इस बारे में पार्टी की तरफ से अभी कोई प्रतिक्रिया सामने नहीं आई है।
क्या कहा था आडवाणी ने?
आडवाणी ने हाल ही में एक अंग्रेजी अखबार को दिए इंटरव्यू के दौरान कहा था, 'भारत की राजनीतिक व्यवस्था अब भी इमरजेंसी के हालात से निपटने के लिए तैयार नहीं है और भविष्य में भी नागरिक अधिकारों के ऐसे निलंबन की आशंका से इनकार नहीं किया जा सकता। संवैधानिक और कानूनी सुरक्षा-तंत्र के बावजूद, मौजूदा समय में लोकतंत्र को कुचलने वाली ताकतें मजबूत हैं।'
पहले भी हो चुकी है आडवाणी की अनदेखी
पार्टी के किसी अहम कार्यक्रम में वरिष्ठ नेता आडवाणी की अनदेखी हुई है ऐसा पहली बार नहीं है। इससे पहले भी 6 जून को पार्टी के स्थापना दिवस के मौके पर आयोजित कार्यक्रम में आडवाणी को नहीं बुलाया गया था। इसके अलावा इसी साल बेंगलुरु में हुई पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में भी शुरुआती भाषण देने वालों की लिस्ट में आडवाणी का नाम शामिल नहीं किया गया था। जबकि इससे पहले लगभग सभी राष्ट्रीय अधिवेशन में आडवाणी का भाषण प्रमुखता से रखा जाता था।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...