हमें चाहने वाले मित्र

25 फ़रवरी 2017

,,अधिकारियो में से एक साहिब को ,,चौराहे पर पकड़ कर गाली गलौंच की ,,वर्दी फाड़ दी ,

मेरे कोटा के मित्रो ज़रा चार साल पीछे जाएँ ,,वर्तमान महावीर नगर थानाधिकारी के थप्पड़ मामले में ,सेवानिव्रत्ति के बाद ,,बहादुरी दिखाकर विरोध दर्ज करने वाले ,,अधिकारियो में से एक साहिब को ,,चौराहे पर पकड़ कर गाली गलौंच की ,,वर्दी फाड़ दी ,,थप्पड़ मार दिया ,खबर अखबारों की सुर्खियां बनी ,,लेकिन ,,बाद में यह खबर सिर्फ खबर बनकर ही रह गयी ,,,और कोई कार्यवाही इन बहादुर साहिब की तरफ से नहीं की गयी ,बयान आया कुछ नहीं हुआ,,,कुछ थानों में सिर्फ 186 आई पी सी की रिपोर्ट दर्ज कर फ़ाइल ठंडे बसते में डाल दी गयी ,,,उसी दौरान मंडाना थाना क्षेत्र में पुलिस ने लोगो को दौड़ा दौड़ा कर पीटा ,,ज़ाहिर है लोग कोंग्रेस से जुड़े थे ,,इसलिए पुलिस जी ने उस वक़्त ,,तात्कालिक प्रदेश कोंग्रेस अध्यक्ष ,,डॉक्टर चन्द्रभान का नाम भी उस रिपोर्ट में जोड़ दिया ,,,,वोह मुक़दमा अब ख़ारिज हुआ है ,,,लेकिन पुलिस जी के खिलाफ आम लोगो की तरफ से इतने सालों बाद कार्यवाही अब शुरू हुई है ,,कोटा की एक अदालत ने डॉक्टर चन्द्रभान का नाम जुड़ी कार्यवाही में शामिल किये गए सात आदमियो के खिलाफ मामला विधिविरुद्ध होने से ख़ारिज कर दिया ,,,लेकिन जनता की तरफ से पुलिसकर्मियों के विरुद्ध दर्ज मामले में अब मण्डाना थाने से गवाहों की तस्दीक़ रिपोर्ट मांगी है ,,,,बाहर हाल वर्तमान में कोटा पुलिस का शीर्ष नेतृत्व परिपक्व ,,समझदार है ,,बस इसीलिए कुछ लोग इस शीर्ष नेतृत्व ,,को विवादित करने के प्रयासों में ,जाती ,समाज ,,धर्म ,,और पार्टियां बीच में ला रहे है ,,वरना चेप्टर इस क्लोज़ हो गया है ,,इसका सियासीकरण नहीं सिर्फ मामले की जांच रही है ,,पक्षकार या पीड़ित लोग अब जांच में शामिल है ,,वोह खामोश है ,,लेकिन बेगानी शादी में शामिल अब्दुल्ला दीवानो की तरह ,,लोग बेवजह हुल्लड़ कर रहे है ,,,,,अख्तर खान अकेला कोटा राजस्थान

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...