आपका-अख्तर खान

हमें चाहने वाले मित्र

27 मई 2022

गहलोत सरकार ने आमजन के लिए ऐतिहासिक कार्य किये- डोटासरा

 

गहलोत सरकार ने आमजन के लिए ऐतिहासिक कार्य किये- डोटासरा
मुख्यमंत्री की चिरंजीवी योजना से आमजन को मिल रहा लाभ-परसादी लाल मीणा
मोदी सरकार शहीदों का अपमान कर,लोकतंत्र की हत्या कर रही है- रविन्द्र त्यागी
कोटा शहर कांग्रेस का दो दिवसीय अधिवेशन शुरू
कोटा 27 मई़़। कोटा में बूंदी रोड स्थित अग्रवाल रिसोर्ट में शहर कांग्रेस कमेटी द्वारा आयोजित दो दिवसीय प्रशिक्षण शिविर में शुक्रवार को पीसीसी चीफ गोविंद सिंह डोटासरा ने शिरकत कर शिविर में पार्टी का ध्वज फहराकर,वंदे मातरम,राष्ट्रीय गान,दीप प्रज्वलित कर राष्ट्रपिता महात्मा गांधी जी एवं पं जवालाल नेहरू जी के चित्र पर माल्यार्पण कर शुभारम्भ किया। शिविर में शहर कांग्रेस अध्यक्ष रविन्द्र त्यागी ने शिविर में पधारे पीसीसी चीफ गोविंद सिंह डोटासरा,कोटा प्रभारी चिकित्सा मंत्री परसादीलाल मीणा,पीसीसी महासचिव कोटा प्रभारी जीआर खटाना,केश कला बोर्ड के चैयरमैन महेंद्र सिंह गहलोत का सूत की माला पहनाकर स्वागत किया प्रशक्षिण शिवर का संचालन शिवर प्रभारी गजेंद्र सिंह सांखला कर रहे थे।
पीसीसी चीफ गोविंद सिंह डोटासरा ने अपने संबोधन मे कहा कि प्रशिक्षण शिविर का उद्देश्य यह है कांग्रेस शासन काल की सरकारों ने देश हित आमजन के लिए क्या कार्य एवं उनकी क्या क्या उपलब्धियां रही ओर वर्तमान गहलोत सरकार ने आमजन के लिये किये गए कार्यो को वार्ड,बूथ स्तर तक पहुचाने और कांग्रेस पार्टी का योगदान जन जन तक पहुचाने के उद्देश्य से प्रदेश के हर जिले में कांग्रेस कमेटी के माध्यम से प्रशक्षिण शिवरो का आयोजन किया जा रहा है उन्होंने कहा कि वर्तमान में झूठी,मक्कार,नकारा,धोखेबाज मोदी सरकार की कारगुज़रियो को जन जन तक पहुचाये उन्होंने कहा कि पूर्व में केंद्र में रही कांग्रेस सरकारों ने वैष्विक महामारियों से निपटने के लिये 300 करोड़ का अलग से बजट दिया लेकिन मोदी सरकार ने कोरोना जैसी महमारी से निपटने के लिए न तो कोई अलग से बजट दिया और ना ही फ्री वैक्सीन की लेकिन गहलोत सरकार ने तीन हजार करोड़ का कोरोना फ्री वेक्सीन की घोषणा करके मोदी सरकार को विवश कर दिया डोटासरा ने कहा कि 2014 में मोदी जी उनकी सरकार आने से पूर्व जनता से प्रतिवर्ष 2 करोड़ शिक्षित बेरोजगारों नोकरी देने का झूठा वादा किया मैं आज मोदी सरकार से पूछना चाहता हूँ कि 8 वर्ष में 16 करोड़ नोकरियो के वादों का क्या हुआ उन्होंने सभी कार्यकर्ताओं को शिविर से प्रशिक्षण लेकर गली,मोहल्ले, दादी दादी में जाकर मोदी सरकार के सभी झूठे वादों उजागर करे ओर गहलोत सरकार की सभी योजनाओं को आमजन तक लेजाकर उनका पूरा पूरा लाभ दिलाने का आव्हान किया।
चिकित्सा मंत्री परसादीलाल मीणा ने कहा कि गहलोत सरकार ने चिरंजीवी योजना में 10 लाख तक कि दवा फ्री करके आमजन को लाभ मिल रहा है सरकार ने 20 हजार तक की केंसर जैसी जांचे सरकार ने फ्री कर रखी है मोदी सरकार झूठ के सहारे जायद दिनों तक चलने वाली नही है कार्यकर्ता सरकार की योजनाओं को जन जन तक पहुँचाये।
पीसीसी महासचिव जी आर खटाना ने भी सभी कांग्रेस जनो से गहलोत सरकार की योजनाओं को आमजन तक पहुचाने के लिए कार्यकर्ताओ से कहा।
शहर अध्यक्ष रविन्द्र त्यागी ने कहा कि मोदी सरकार आये दिन एक नया झूठ तैयार कर जनता को गुमराह कर रही है उनके पास जनता को औऱ वेवखूफ बंनाने के लिए कुछ बचा नही है अपनी नाकामियों पर्दा डालने के लिए अब धर्म की राजनीति कर आपस मे लड़ाने,शांति सदभाव विगाड़ने का काम कर रही है कांग्रेस जनो से अपील है इनके झूठ को और अपनी सरकार की उप्लब्दियों को जन जन पहुँचाये।उन्होंने कहा मोदी सरकार शहीदो का अपमान करने में कोई कसर नही छोड़ रही है हमे उनके कारनामो को जनता के बीच लेजाकर बताना है उक्त जानकारी देते हुए महासचिव डॉ विजय सोनी ने बताया कि शिविर में प्रशिक्षण पीसीसी से प्रोफेसर डॉ सीपी यादव,श्याम सुंदर पुरोहित ने दिया
शिविर में प्रमुख रूप से खादी ग्राम उधोग के उपाध्यक्ष पंकज मेहता,वरिष्ठ कांग्रेस नेता अमित धारीवाल,पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष पं गोविंद शर्मा,पूर्व पीसीसी सचिव डॉ जफर मोहम्मद,पीसीसी सचिव राखी गौतम,पूर्व विधायका पूनम गोयल,पूर्व पीसीसी सचिव शिवकांत नंदवाना, पी सी सी सदस्य एडवोकेट अख़्तर खान अकेला, मौलाना फजले हक़, नसरुद्दीन अंसारी, नईमुद्दीन गुड्डू, आयना महक, , सलीना शेरी, महापौर मंजू मेहरा,महापौर राजीव अग्रवाल,उप महापौर पवन मीणा, उप महापौर शोनू कुरेशी,सं महासचिव रामेश्वर सुवालका,जिला महासचिव डॉ विजय सोनी,अनिल अरोड़ा,जय यादव,हिमांशू शर्मा,नीरज शर्मा,युवक कांग्रेस राष्ट्रीय सचिव विजय सिंह राजू,ब्लॉक अध्यक्ष राजीव आचार्य,संदीप भाटिया,ललित चितोड़ा,पं लालचंद शर्मा,सुभाष सैनिक, सैनिक,विजय गुप्ता,महेंद्र शर्मा ,प्रमोद त्रिपाठी,हेमंत चतुर्वेदी,कपिल अग्रवाल,अनुराग गौतम समस्त पार्षद गण सहित कांग्रेस नेता मौजूद रहे।

लोगों ने कहा तो अच्छा उसको सब लोगों के सामने (गिरफ़्तार करके) ले आओ ताकि वह (जो कुछ कहें) लोग उसके गवाह रहें

 लोगों ने कहा तो अच्छा उसको सब लोगों के सामने (गिरफ़्तार करके) ले आओ ताकि वह (जो कुछ कहें) लोग उसके गवाह रहें (61)
(ग़रज़ इबराहीम आए) और लोगों ने उनसे पूछा कि क्यों इबराहीम क्या तुमने माबूदों के साथ ये हरकत की है (62)
इबराहीम ने कहा बल्कि ये हरकत इन बुतों (खु़दाओं) के बड़े (खु़दा) ने की है तो अगर ये बुत बोल सकते हों तो उनही से पूछ के देखो (63)
इस पर उन लोगों ने अपने जी में सोचा तो (एक दूसरे से) कहने लगे बेशक तुम ही लोग खु़द बर सरे नाहक़़ हो (64)
फिर उन लोगों के सर इसी गुमराही में झुका दिए गए (और तो कुछ बन न पड़ा मगर ये बोले) तुमको तो अच्छी तरह मालूम है कि ये बुत बोला नहीं करते (65)
(फिर इनसे क्या पूछे) इबराहीम ने कहा तो क्या तुम लोग खु़दा को छोड़कर ऐसी चीज़ों की परसतिश करते हो जो न तुम्हें कुछ नफा ही पहुँचा सकती है और न तुम्हारा कुछ नुक़सान ही कर सकती है (66)
तुफ़ है तुम पर उस चीज़ पर जिसे तुम खु़दा के सिवा पूजते हो तो क्या तुम इतना भी नहीं समझते (67)
(आखि़र) वह लोग (बाहम) कहने लगे कि अगर तुम कुछ कर सकते हो तो इब्राहीम को आग में जला दो और अपने खु़दाओं की मदद करो (68)
(ग़रज़) उन लोगों ने इबराहीम को आग में डाल दिया तो हमने हुक्म दिया ऐ आग तू इबराहीम पर बिल्कुल ठन्डी और सलामती का बाइस हो जा (69)
(कि उनको कोई तकलीफ़ न पहुँचे) और उन लोगों ने इबराहीम के साथ चालबाज़ी करनी चाही थी तो हमने इन सब को नाकाम कर दिया (70)

26 मई 2022

कोटा के व्यापार उद्योग जगत ने किया स्वर्ण पदक विजेता गोरांशी शर्मा का भव्य स्वागत एवं

 

कोटा के व्यापार उद्योग जगत ने किया स्वर्ण पदक विजेता गोरांशी शर्मा का भव्य स्वागत एवं
अभिनंदन
कोटा 26 मई I कोटा व्यापार महासंघ के अध्यक्ष क्रांति जैन एवं महासचिव अशोक माहेश्वरी ने बताया कि आज छावनी स्थित माहेश्वरी जलसा होटल में कोटा के व्यापार उद्योग जगत की 150 संस्थाओं, जनप्रतिनिधियों , सामाजिक संस्थाओं के पदाधिकारियों ने ओलंपिक बैडमिंटन ब्राजील डैफ में स्वर्ण पदक जीतने पर रामगंजमंडी निवासी कोटा जिले की बेटी गौरांशी शर्मा का माला, शॉल, शील्ड , दुपट्टा, साफा ओढाकर हार्दिक स्वागत एवं
अभिनंदन
किया गया ।
जैन व माहेश्वरी ने बताया कि स्वर्ण पदक विजेता गोरांशी शर्मा ने देश के साथ-साथ कोटा जिले का नाम भी रोशन किया है यह रामगंजमंडी के प्रतिष्ठित व्यापारी की बेटी है और व्यापार जगत के परिवार से जुड़ी हुई है जिसने पूरे देश के व्यापारियों उद्यमियों का नाम भी गौरवान्वित किया है इस अवसर पर उन्होंने कहा कि केंद्र एवं राज्य सरकारों को इस तरह की उभरती प्रतिभाओं को निरंतर प्रोत्साहित किया जाना चाहिए जिससे इनकी प्रतिभाओं में बढ़ोतरी हो सके और विश्व में होने वाली हर प्रतिस्पर्धा में वह देश का नाम रोशन कर सकें । आज सरकारी स्तर पर प्रोत्साहन के अभाव में हमारा देश विश्व के मानचित्र पर अन्य देशों के समक्ष हम खड़े नही हो पाते । सरकार इन प्रतिभाओं को प्रोत्साहित करे तो हमारे देश के खिलाड़ी ओलंपिक ,विश्व कप के सभी खेलों में ज्यादा से ज्यादा गोल्ड मेडल हासिल कर सकते है ऐसे खिलाड़ियों के प्रदर्शन को निरंतर बनाए रखने के लिए सरकारी स्तर पर संपूर्ण सुविधाएं उपलब्ध कराई जानी चाहिए । जिससे उनकी ट्रेनिंग कोचिंग एवं आर्थिक संबल इन खिलाड़ियों को प्रदान किया जा सके ।
इस अवसर पर शहर जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष रविंद्र त्यागी ने कहा कि हम कोटा व्यापार उद्योग जगत एवं सभी वर्गों के साथ मिलकर के साथ मिलकर राज्य के मुख्यमंत्री एवं कोटा के विधायक व स्वास्थ्य शासन मंत्री शांति धारीवाल से मांग करेंगे कि स्वर्ण पदक विजेता गोरांशी शर्मा को प्रोत्साहन देने एवं उसकी निरंतरता बनाए रखने के लिए इसे ज्यादा से ज्यादा सुविधाएं एव प्रोत्साहन राशि उपलब्ध कराई जाए, जिससे यहां की अन्य प्रतिभाओं को भी इससे प्रेरणा मिल सके ।
इस अवसर पर दी एस एस आई एसोसियेसन के संस्थापक अध्यक्ष गोविंदराम मित्तल ने कहा कि गौरांशी शर्मा द्वारा विश्व के पटल पर जो उपलब्धि हासिल कि है उसे पूरा हाड़ौती का हर व्यक्ति अपने आपको गौरवान्वित महसूस कर रहा है इस 15 वर्ष की बालिका ने जो उपलब्धी हासिल कि है उसे पूरे विश्व में हाडौती एंव कोटा जिले का नाम रोशन किया है इसके लिए गोरांशी शर्मा और उसका पूरा परिवार
बधाई
का पात्र है ।
इस भव्य सम्मान समारोह में स्वर्ण पदक विजेता गौरांशी शर्मा का
अभिनंदन
करने वालों में कोटा व्यापार महासंघ के अध्यक्ष क्रांति जैन, वरिष्ठ उपाध्यक्ष सत्यभान , उपाध्यक्ष नंदकिशोर , कोषाध्यक्ष राजेंद्र कुमार , सचिव यश मालवीय , भटनागर , संग्राम मंत्री गोपाल शर्मा , बोर्ड के चेयरमैन भुवनेश लाहोटी, प्रमोद गोत्तम ,बदीप्रसाद , दिलबाग , दी एस एस आई एसोसिएशन के अध्यक्ष राजकुमार जैन ,स्टोन माइंस एसोसिएशन के सचिव चिराग पटेल , हाडोती कोटा स्टोन इंडस्ट्रीज एसोसिएशन के संस्थापक अध्यक्ष राजेश गुप्ता ,अध्यक्ष महावीर , लघु उद्योग भारती के अच्चल पोद्दार ,छावनी चौराहा दुकानदार संघ के सचिव नरेंद्र चौहान , सेंटर व्यापार संघ के अध्यक्ष हरीश , कोटा रीजन ट्रैक्टर डीलर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष अनिल मूंदड़ा सचिव अमरजीत सिंह चावला , सैण्ड स्टोन ग्रेनाइट मार्बल एसोसिएशन के अध्यक्ष देवेंद्र कुमार जैन , चंबल हॉस्टल एसोसिएशन के अध्यक्ष भगवान बिरला, सचिव अशोक लड्ढा , मैन तलमंडी व्यापार संघ आजाद मार्केट के सचिव इकबाल सिंह चौधरी ,कोटा स्टोन ट्रेडर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष हरीश प्रजापति , स्टोन माइंस कांटेक्टर एसो 0 के अध्यक्ष विपिन सुद ,खादी ग्राम उद्योग संघ के अध्यक्ष राजेंद्र कुमार जैन , सचिव पदम कुमार जैन .छावनी व्यापार संगठन के अध्यक्ष अशोक अग्रवाल 'छावनी वाणिज्य संगठन के सचिव आरिफ नागरा यू मार्केट व्यापार संघ के अध्यक्ष शाहिद मोहम्मद ,व्यापार संघ फर्नीचर मार्केट के अध्यक्ष मोहम्मद इलियास असारी, जवाहर नगर व्यापार संघ के अध्यक्ष राजेश माहेश्वरी कोटा डिस्ट्रिक्ट केमिस्ट एसोसिएशन के सचिव अभिमन्यू भावनानी 'हाडोती एग्रो इनपुट डीलर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष संतोष खंडेलवाल, गायत्री परिवार ट्रस्ट एवं गुजराती समाज के संरक्षक जी डी पटेल ब्राह्मण समाज के अध्यक्ष अरविंद कौशल गौतम महासभा के उपाध्यक्ष जगदीश गौतम राजेंद्र मोहन गौतम, इलेक्ट्रिकल एसोसिएशन के अध्यक्ष विनोद गौतम, प्रेमनगर प्रथम व्यापार संघ के अध्यक्ष हरीश विजय, माहेश्वरी सेवा संस्थान के अध्यक्ष प्रमोद भंडारी शिव पुरा हनुमान नगर व्यापारी समिति के अध्यक्ष घीसासिंह चौहान , स्टोन मचॅन्ट्स विकास समिति के पूर्व अध्यक्ष पारस जैन काला सहित कई व्यापारिक औघोगिक संस्थाओं, सामाजिक संस्थाओ के पदाधिकारियों ने गोरांशी शर्मा का
अभिनंदन
किया गया । इस अवसर पर गौरांशी शर्मा के दादा प्रमोद शर्मा दादी पूर्व चेयरमेन नगर पालिका रामगन्ज मण्डी हेमलता शर्मा सहित उसके सभी परिजन भी इस समारोह मे मौजूद थे ।

जिला प्रभारी मंत्री 27 मई को कोटा में

 

जिला प्रभारी मंत्री 27 मई को कोटा में
कोटा 26 मई। चिकित्सा, स्वास्थ्य एवं आबकारी तथा जिला प्रभारी मंत्री परसादी लाल मीणा 27 मई को कोटा आयेंगे।
अतिरिक्त कलक्टर शहर बृजमोहन बैरवा ने बताया कि जिला प्रभारी मंत्री 27 मई को प्रातः 8 बजे जयपुर से कोटा के लिए प्रस्थान करेंगे। उन्होंने बताया कि प्रातः 11ः30 बजे कोटा पहुंचेंगे एवं सांय 6 बजे कोटा से जयपुर के लिए प्रस्थान करेंगे।
---00---
पंचायत समिति मुख्यालय लाड़पुरा पर आयोजित होगा मेगा शिविर
लाड़पुरा में 6 के स्थान पर 8 जून को आयोजित होगा शिविर
कोटा 25 मई। प्रशासन गांवों के संग अभियान के तहत जिले की 5 पंचायत समिति मुख्यालयों पर मेगा शिविरों का आयोजन किया जायेगा। जिसमें लम्बित आवेदनों का मौंके पर निराकरण कर लाभान्वित किया जायेगा।
जिला कलक्टर हरिमोहन मीना ने बताया कि मेगा शिविर 8 जून को लाडपुरा पंचायत समिति 22 जून बुधवार को पंचायत समिति सुल्तानपुर एवं खैराबाद में एवं 24 जून को पंचायत समिति इटावा व सांगोद में मेगा शिविरों का आयोजन किया जायेगा।
---00---
जिला आपदा प्रबन्धन प्राधिकरण की बैठक 31 मई को
कोटा 26 मई। जिले में आगमाी वर्षा ऋतु में बाढ़ या अतिवृष्टि व जलप्लावन की संभावनाओं के मध्यनजर राहत कार्यों की तैयारियों एवं व्यवस्थाओं के लिए जिला आपदा प्रबन्धन प्राधिकरण की बैठक जिला कलक्टर हरिमोहन मीना की अध्यक्षता में वर्चुअल माध्यम से 31 मई को सांय 4ः30 बजे आयोजित की जायेगी।
---00---
पात्र व्यक्ति को मिले योजनाओं का लाभ-बीडीओ
खण्ड विकास अधिकारी ने प्रधानमंत्री आवासों का किया निरीक्षण
कोटा 26 मई। पंचायत समिति खण्ड विकास अधिकारी डॉ. गोपाललाल मीणा ने ब्लॉक की ग्राम पंचायत बोरदा एवं ढीपरी चम्बल में सन्मानपुरा, बोरदा, ढीपरी चम्बल, चकटोडी आदि ग्रामों में भ्रमण कर वर्ष 2021-22 में स्वीकृत एवं वर्ष 2016-17 से 2020-21 में प्रगतिरत एवं अप्रारंभ आवासों का निरीक्षण किया गया।
खण्ड विकास अधिकारी ने बताया कि आवास लाभार्थियों को प्रधानमंत्री उज्जवला योजना, कूटीर ज्योति योजना एवं नरेगा आवास के साथ निर्धारित 90 दिवस का लाभ मनरेगा योजना में लेने की बात कही। उन्होंने कहा कि सरकार ने गांव और गरीब के उत्थान के लिए कई फ्लैगशिप एवं जन कल्याणकारी योजनाओं को चला रखा है, पात्र व्यक्ति सरकार की इन योजनाओं का अधिक से अधिक लाभ ले। उन्होंने संबधित कर्मचारियों को पात्र व्यक्तियों को समय पर योजनाओं से लाभान्वित कराने के निर्देश दिए।
उन्होंने आवास निर्माण करवाने में आ रही परेशानियों के संबंध में जानकारी ली एवं शीघ्र निर्माण पूर्ण करवाने के बारे ने सुझाव दिये। उनके द्वारा आवास लाभार्थियों से मनरेगा योजना के तहत प्राप्त होने वाली राशि एवं आवास के लिए जारी किस्तों की राशि समय पर प्राप्त होने के बारे में जानकारी ली। पंचायत समिति स्तर से आवास निर्माण के लिए किस्तो की राशि एवं मनरेगा कार्य दिवसों की राशि लाभार्थियों के खाते में समय पर हस्तान्तरित होकर जमा होती है। आवासों के निरीक्षण के दौरान जिन आवास लाभार्थियों द्वारा अब तक कार्य प्रारंभ नहीं किया है वे शीघ्र ही निर्माण कार्य प्रारंभ करें।
निरीक्षण के दौरान बद्रीप्रकाश मीणा, सहायक विकास अधिकारी कादिर मोहम्मद, सरपंच ग्राम पंचायत ढीपरी चम्बल गिर्राज आर्य, ग्राम विकास अधिकारी बाबुलाल कुम्हार, राजेन्द्र गोचर आवास प्रेरक रामचरण मेहर एवं पंचायत सहायक ग्राम ढीपरी चम्बल एवं बोरदा उपस्थित रहे।

यौनकर्मियों को परेशान नही कर सकती पुलिस, मीडिया भी ध्यान दे

 

यौनकर्मियों को परेशान नही कर सकती पुलिस, मीडिया भी ध्यान दे।*
सुप्रीम कोर्ट ने सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में पुलिस बलों को यौनकर्मियों और उनके बच्चों के साथ सम्मान के साथ व्यवहार करने और मौखिक या शारीरिक रूप से दुर्व्यवहार नहीं करने का निर्देश दिया है
जस्टिस एल नागेश्वर राव, जस्टिस बी आर गवई और जस्टिस ए एस बोपन्ना की पीठ ने कई निर्देश जारी करते हुए कहा कि इस देश में सभी व्यक्तियों को जो संवैधानिक संरक्षण प्राप्त हैं, उसे उन अधिकारियों द्वारा ध्यान में रखा जाए जो अनैतिक व्यापार (निवारण) अधिनियम 1956 के तहत कर्तव्य निभाते हैं.
सुप्रीम कोर्ट ने वेश्यावृत्ति को पेशा मानते हुए कहा कि यौन उत्पीड़न की पीड़ित किसी भी यौनकर्मी को कानून के अनुसार तत्काल चिकित्सा सहायता सहित यौन उत्पीड़न की पीड़िता को उपलब्ध सभी सुविधाएं मुहैया कराई जानी चाहिए. पीठ ने कहा, यह देखा गया है कि यौनकर्मियों के प्रति पुलिस का रवैया अक्सर क्रूर और हिंसक होता है. ऐसा लगता है कि वे एक वर्ग हैं जिनके अधिकारों को मान्यता नहीं है.’
*यौन गतिविधि के लिए मजबूर नहीं करना चाहिए: सुप्रीम कोर्ट*
पीठ ने आगे कहा, ‘पुलिस और अन्य कानून प्रवर्तन एजेंसियों को यौनकर्मियों के अधिकारों के प्रति संवेदनशील होना चाहिए, जिन्हें सभी नागरिकों को संविधान में प्रदत्त सभी बुनियादी मानवाधिकार और अन्य अधिकार प्राप्त हैं. पुलिस को सभी यौनकर्मियों के साथ सम्मान के साथ व्यवहार करना चाहिए और उनके साथ मौखिक और शारीरिक दुर्व्यवहार नहीं करना चाहिए, उनके साथ हिंसा नहीं करनी चाहिए या उन्हें किसी भी यौन गतिविधि के लिए मजबूर नहीं करना चाहिए.
*मीडिया के लिए भी निर्देश जारी करने की दी सलाह*
अदालत ने यह भी कहा कि भारतीय प्रेस परिषद से मीडिया के लिए उचित दिशा-निर्देश जारी करने का आग्रह किया जाना चाहिए ताकि गिरफ्तारी, छापेमारी और बचाव अभियान के दौरान यौनकर्मियों की पहचान उजागर न हो, चाहे वे पीड़ित हों या आरोपी हों और ऐसी किसी भी तस्वीर का प्रसारण या प्रकाशन नहीं हो जिसके परिणामस्वरूप उनकी पहचान का खुलासा हो.
*आश्रय गृहों का सर्वेक्षण करने का भी निर्देश*
इसने राज्य सरकारों को आश्रय गृहों का सर्वेक्षण करने का भी निर्देश दिया ताकि वयस्क महिलाओं को उनकी इच्छा के विरुद्ध हिरासत में लेने के मामलों की समीक्षा की जा सके और समयबद्ध तरीके से रिहाई के लिए कार्रवाई की जा सके. शीर्ष अदालत ने यौनकर्मियों के पुनर्वास के लिए गठित एक समिति की सिफारिशों पर यह निर्देश दिया. शीर्ष अदालत उस याचिका पर सुनवाई कर रही थी जिसमें कोविड-19 महामारी के कारण यौनकर्मियों द्वारा सामना की जाने वाली समस्याओं को उठाया गया था.
Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...