हमें चाहने वाले मित्र

19 अगस्त 2017

ज़्यादा नहीं तो एक प्रतिशत ही राष्ट्रभक्त हो जाओ

अरे छद्म देश भक्तो ,,देश के आम लोगो के दुश्मनो ,,आँखों से पट्टी खोलो ,,,ज़्यादा नहीं तो एक प्रतिशत ही राष्ट्रभक्त हो जाओ ,,,मेरे भाइयो ज़रा अक़्ल से सोचो ,,चुनाव जीत गए ,,कुर्सी मिल ,गयी ,,सभी जगह जीते ,,,,लेकिन चुनावी वायदों को कितने प्रतिशत लागू किया ,,,शासन सही चलाओ नहीं ,,लोगो को रोटी ,,रोज़ी ,,कपड़ा ,,दो नहीं ,,किसानो को उनके दाम नहीं मिले ,,उद्योग बंद हो जाए ,,आंतरिक और बाह्य सुरक्षा प्रबंधन गड़बड़ा जाए ,,और भी बहुत कुछ नाकामियां ,,तुम कहते हो ,,लिखो ,,मत ,कहते हो कहो मत ,,अगर हम कहते ,है ,,तो हम गद्दार है ,,अगर हम लिखते है ,तो तुम आज वर्तमान हालातो पर अपने आंकड़े देने की जगह सत्तर साल पुरानी बातें करने लगते हो ,,तुम्हारा अपना लिखा झूंठा इतिहास ले आते हो ,,नफरत फैलाते हो ,,गालियां लिखते हो ,,मेरे भाइयो ज़रा ठंडे दिमाग से ,,देश के संविधान के दायरे में ,,देश के क़ानून के दायरे में ,,देश की जनता के निष्पक्ष हित में देश की सुरक्षा ,,विकास ,,समस्याओं के समाधान को लेकर खुद को एक ओरिजनल भारतीय ,,ओरिजनल राष्ट्रवादी बनाकर एक पल के लिए एक क्षण के लिए सोचो ,,आपको खुद से ,,अपने आप से नफरत हो जायेगी ,,घुटन होगी ,,पार्टियों से जुड़ना ,,सियासत से जुड़ना ,,कुछ हद तक सपोर्ट करना ,,कुछ हद तक लीपा पोती करना मजबूरी हो सकती है ,,लेकिन जब असफलता का पानी सर से गुज़र जाए तो बोलना पढ़ता ही ,,हम गलत हो सकते है ,,हम विरोधी हो सकते है लेकिन आप हमे एक तर्क ,,विकास का एक आंकड़ा ,,रोज़गार का एक अवसर ,,किसानो की एक सुविधा ,,एक नया उद्योग ,,एक नया शिलान्यास ,,एक नया निर्मित आपके काम का लोकार्पण बता दे ,,तर्क करे ,,गालियाँ मत दे ,,नहीं तो राष्ट्रहित में हमारे साथ आ जाए ,,अगर आंकड़े होंगे तो हम खुद ला जवाब हो जाएंगे ,,प्लीज़ अपनी नाकामी छुपाने के लिए ,,लीपापोती करने के लिए हमे गालियां बंककर ,,सोनिया ,,राहुल गाँधी शासन के अतीत को कोसकर तुम सिर्फ शतुरमुर्ग की तरह अपनी मुंडी रेत के ढेर में छुपा रहे हो ,,,बहुत गलत कर रहे हो ,,अलार्म बनो ,,सही है तो तारीफ़ करो ,लेकिन आंकड़े बताकर ,,भांड बनकर नहीं ,,तीन साल हो गए ,,अब तो राष्ट्रहित में आँखे खोलो मेरे भाई सत्ता धारी हो ,,,कुछ करो ,,जो नहीं कर सक रहा है उसे खुलकर सुझाव दो ,फिर नहीं कर पा रहा है तो खुलकर उसकी आलोचना करो ,,,अन्ना हज़ारे की तरह बिकाऊ ,,बाबा रामदेव की तरह व्यापारी आयोग का पद लेकर मंत्री दर्जा लेकर खामोश होने वाले मत बनो प्लीज़ ,,आप आम हिन्दुस्तानी है ,,इन सब से बढे ,इन सबसे ऊँचे ,,उठो अंगड़ाई लो ,,या तो विकास ,,रोज़गार ,,रोटी ,,क़ानून व्यवस्था ,,सुरक्षा ,,,उद्योग विकास ,,विकास योजनाओ के आंकड़े लेकर आओ ,,या फिर हमारे साथ मिलकर जनहित में ,,राष्ट्रहित में सरकार को जगाओ ,,चेताओ ,,देश को आप हो या हम हो सभी को मिलकर आगे बढ़ाना है ,,तुम्हारे सहयोग के बगैर देश आगे बढे यह मुमकिन नहीं इसलिए प्लीज़ एक बार सिर्फ एक बार ओरिजनल राष्ट्रभक्त बन जाओ ,,राष्ट्रहित में गोविंदाचार्य ही बन जाओ ,,,अख्तर खान अकेला कोटा राजस्थान

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...