हमें चाहने वाले मित्र

05 अप्रैल 2017

कथित गोरक्षक बदमाशो ,,ने निहत्थे ,,लोगो को बेरहमी से ,पीट पीट कर मार डाला

राजस्थान के अलवर में ,,कथित गोरक्षक बदमाशो ,,ने निहत्थे ,,लोगो को बेरहमी से ,पीट पीट कर मार डाला ,,हिंदुस्तान के किसी चेनल को इस मुद्दे पर ,,लाइव ,,बहस ,,आरपार ,,या जो भी ज्वलन्त मुद्दों से ,,भटकाने के लिए ,,पेढ कार्यक्रम होते है ,,पूर्व न्यायोजित लिखी गयी स्क्रिप्ट लिखकर ,किरदार बिठाकर ,,जनता को बेवक़ूफ़ बनाया जाता है ,,,ऐसे कार्यक्रमो पर चर्चा ,,का विषय नहीं मिला ,,राजस्थान के कोटा में ,,तीन ,बेटों की एक माँ को व्रद्धाश्रम छोड़ा गया ,,अख़बार में ,,इन बेटों ने ,,माँ को साथ नहीं रखने के जो कुतर्क दिए ,,वोह किसी भी तरह से हिन्दू सन्स्क्रति में ,,क़ुबूल नहीं है ,,फिर किसी भी टी वी चेनल ने इसे मुद्दा बनाकर ,,देश की हज़ारो हज़ार ,,उपेक्षित माओ ,,को इंसाफ दिलाने के लिए लाइव खुली बहस क्यों नहीं करवाई ,,बात साफ़ ,है ,इन नोकरो को ,,इन ज़मीर फरोशों को ,,जो मुद्दे दिए जाते है ,,जिनमुद्दों को उठाने की स्क्रिप्ट लिखकर ,,किरदार और ,,अवैध मोटी रक़म दी जाती है ,,बस उन मुद्दों पर ही ,,घिसे पिटे ,,लोगो को बिठाकर ,,बहस करवाई जाती है ,,एक माँ श्रीमती कौशल्या गर्ग को कोटा शहर के ,, तीन बेटों ने अपमान कर घर से निकाल दिया ,,निहत्थे लोगो को अलवर में ,,पीट पीट कर बदमाशो ने गो रक्षा के नाम पर जान से मार दिया ,,राजस्थान के गृहमंत्री का बचकाना ,,गेर इंसफाना बयान आया ,,लेकिन इशारे पर नाचने वाले मिडिया ने इस मुद्दे पर कोई खुली बहस नहीं करवाई ,,,अख्तर खान अकेला कोटा राजस्थान

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...