हमें चाहने वाले मित्र

18 अप्रैल 2017

मादरे वतन भारत की जय

मादरे वतन भारत की जय" का नारा 1857 में अजीमुल्लाह खान ने दिया था,,आज़ादी के पहले आंदोलन की लड़ाई ,बहादुर शाह ज़फर के नेतृत्व में लड़ी गयी थी ,,जिसके दोनों बेटों का क़त्ल कर ,,अंग्रेज़ो ने उनके नाश्ते में उनके सर दिए और उन्हें रंगून जेल में बंद कर ,,हत्या कर दी ,,भारत में बारूद की पहली मिसाइल टीपू सुलतान ने बनाकर अंग्रेज़ो को भगाया था ,,जबकि मुक़ाबले के लिए , मिसाइल मेंन ,,ऐ पी जे अबुल कलाम ने ,,मिसाइल बनाई थी ,,,
- "जय हिन्द" का नारा आबिद हसन साफरानी ने दिया था
- "इन्कलाब जिंदाबाद" का नारा मौलाना हसरत मोहानी ने दिया था
- भारत छोडो ( क्विट इंडिया ) का नारा युसूफ मेहर अली ने बनाया था
- युसूफ मेहर अली ने ही साइमन गो बैक का नारा बनाया था
- "सरफरोशी की तमन्ना अब हमारे दिल में है" बिस्मिल अजीमाबादी ने लिखा था
- "सारे जहां से अच्छा हिन्दोस्तान" हमारा अल्लामा इकबाल द्वारा लिखा गया था
- सुरैय्या तैय्यबजी ने तिरंगे झंडे के निर्माण में महत्वपूर्ण योगदान दिया था
इत्तिफाक से इनमे से कोई भी हिंदुत्व का प्रचारक नहीं था और ना ही कोई राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ/ विश्व हिन्दू परिषद् / या भाजपा का सदस्य था,, ना ही महात्मा गाँधी का हत्यारा इनमे से कोई था ,,,,,

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...