हमें चाहने वाले मित्र

02 मार्च 2017

,पुलिस अधिकारी ,,रेलवे सुरक्षाकर्मियों के खिलाफ गम्भीर क़दम उठाना ,,रेलवे प्रशासन के लिए ज़रूरी

फिल्म रईस के प्रमोशन के वक़्त ,,शाहरुख़ खान के कोटा राजधानी से गुज़रते वक़्त ,,कथित रूप से स्टेशन पर हुए ,,भगदड़ माहौल का मुक़दमा चाहे अब ,,अख़बारों की सुर्खियां न रहा हो ,,लेकिन अधिकृत रूप से अब ,,घटना के दिन स्टेशन पर ,प्लेटफॉर्म पर अधिकृत उपस्थित लोगो की संख्या आ गयी है ,,अब ऐसे में अगर इस संख्या से ज़्यादा व्यक्ति स्टेशन पर थे तो निश्चित तोर पर वहां तैनात ,,,पुलिस अधिकारी ,,रेलवे सुरक्षाकर्मियों के खिलाफ गम्भीर क़दम उठाना ,,रेलवे प्रशासन के लिए ज़रूरी हो गया है ,,,,,कोंग्रेस अल्पसंख्यक विभाग के कोटा सम्भाग महासचिव ,,तबरेज़ पठान ने इस मामले में सुचना के अधिकार अधिनियम के प्रावधान के तहत ,,रेलवे से प्लेटफॉर्म टिकिट और रेलवे सुरक्षाबल की व्यवस्थाओ के बारे में जानकारी चाही थी ,,रेलवे अधिकारियो ने सुरक्षाबल तैनाती और उनके कर्तव्यों के प्रतिअवहेलना के मामले में तो ,,दो टूक इनकार का जवाब देते हुए कहा है ,,के यह मामला सुरक्षा से सम्बन्धित है इसलिए इसकी जानकारी नहीं दी जायेगी ,,जबकि घटना के दिन 24 जनवरी को सुबह ट्रेन आने के दो घण्टे पहले तक ,,जब रेलवे प्लेटफॉर्म पर एक दर्जन से अधिक ट्रेन आती है तब ,कूल 406 प्लेटफॉर्म टिकिट की बिक्री होने का रिकॉर्ड दिया गया है ,,ऐसे में जब एक दर्जन से अधिक ट्रेन पर केवल 406 लोगो ने प्लेटफॉर्म टिकिट लिए तो फिर सैकड़ों की तादाद में ऐसी वी आई पी सुरक्षा के बीच बिना टिकिट के लोग कैसे प्लेटफॉर्म पर गए ,,इसकी जांच कर दोषी पुलिस अधिकारियों ,,रेलवे सुरक्षा कर्मियों को निलम्बित कर कार्यवाही करना चाहिए ,,,अख्तर खान अकेला कोटा राजस्थान

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...