हमें चाहने वाले मित्र

17 फ़रवरी 2017

कोटा की हर होटल के मुख्यद्वार पर एक सी सी टी वी कैमरा लगवाकर उसकी आकस्मिक जाँच कारवाना ज़रूरी हो गया है

कोटा में नोजवान युवक युवतियों को ,,यौनशोषण के बाद ,,निराशाजनक वातावरण से बचाने के लिए ,,कोटा की हर होटल के मुख्यद्वार पर एक सी सी टी वी कैमरा लगवाकर उसकी आकस्मिक जाँच कारवाना ज़रूरी हो गया है ,,ऐसी होटलो की जांच ,,स्थानीय पुलिस की सांठगांठ भरी ज़िम्मेदारी पर न छोड़ी जाए ,,बल्कि पुलिस अधीक्षक कोटा की निगरानी में उनके विश्वासपात्र ईमानदार लोगो की टीम की टोली गठित कर ऐसी होटलो की नियमित सादा वर्दी में पहुंचकर जांच पड़ताल हो ,,हर होटल के कमरे जिनमें बाहर से ताले लगे होते है उनकी भी कमरे खुलवाकर जाँच होगी तो कई रैकेट सामने आ सकते है ,,कोटा में इन दिनों ,,गुमराह नोजवान ,,कुछ युवतियों को प्यार का झांसा देकर स्थानीय कुछ होटलों में घण्टे दो घण्टे के लिए ऑफ़ द रिकॉर्ड भारी किराया देकर ,,मौजमस्ती करते है और कई नोजवान ऐसी युवतियों को धोखा दे देते है जिससे ऐसी युवतियां निराश होकर आत्महत्या तक कर लेती है ,,ऐसे मामलो में नोजवानो की गुमराही रोकने के लिए ,,कोटा के सभी होटलो की इस आज़ादी ,,मनमानी पर कड़ी निगरानी की ज़रूरत बढ़ गयी है ,,अभी हाल ही में शहर के बीचों बीच एक होटल में सुबह के वक़्त इसी तरह के हालात बने थे ,,आसपास के लोगो ने इस मामले में होटल संचालक के खिलाफ हंगामा भी किया ,,लेकिन युवक युवतियों के भविष्य ,,उनकी बदनामी के खोफ से क्षेत्र के लोगो ने ,,इन लड़के लड़कियों को चुपचाप जाने दिया ,,एस पी की नियंत्रण में ईमानदार क़ानून के रखवालो की अगर एक टोली गठित कर अगर मुखबिरी प्रणाली के तहत ,ऐसे होटल संचालको के मुख्य द्वार पर लगे कैमरे की नियमित जाँच पड़ताल हो ,,आने जाने वालों के बारे में पूंछतांछ हो ,,होटलों पर आकस्मिक छापामारी कर उनके बन्द कमरे खुलवाकर देखे जाए तो इस तरह की घटनाओं पर मामूली अंकुश लगाया जा सकता है ,,वरना पाश्चात्य सभ्यता से जुड़े इस माहौल में कोटा के कुछ होटल ऐसे गुमराह नोजवानो के लिए चारागाह बनते जा रहे है ,,अख्तर खान अकेला कोटा राजस्थान

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...