हमें चाहने वाले मित्र

25 जनवरी 2017

बेटी बचाओ बेटी पढाओ ,,,इस्लाम का एक सन्देश

बेटी बचाओ बेटी पढाओ ,,,इस्लाम का एक सन्देश ,,,हुज़ूर स अ व की बेहतरीन हिदायत ,,,आज पुरे विश्व में गूंज रही है ,,,अल्लाह दरिंदो से और बुरी नज़र से विश्व की सभी बेटियो से महफूज़ रखे ,,बीवी खदीजा जैसी बेहतरीन व्यापारी ,,दानिशमन्द ,,,बीवी आयशा जैसी सलाहकार ,,बीवी जवेरिया जैसी योद्धा ,,,और हनीफ़ा के अब्बू का नाम शोहरत की बुलन्दी पर पहुंचाने वाली हनीफा की तरह सभी बेटियो को बनाये ,,सभी बेटियो को अल्लाह दरिंदो से महफूज़ ,,रखे ,,इन्हें दहेज़ के दानव से बचाये ,,माँ बाप से बिछड़ कर पिया के घर इन्हें प्यार मिले ,,सास ,,ससुर का दुलार ,,नन्द ,,देवर का प्यार मिले ,,क्योंकि बेटियां घर की रौनक घर की इज़्ज़त ,,,ससुराल की ज़ीनत ,,होती है ,अगर माँ हो तो इसके पैरो के नीचे जन्नत होती है ,,बेटी दिवस पर बेटियो को मुबारकबाद ,,बधाई ,मेरी शरीक ऐ हयात भी मेरे सास ससुर की बेटी है बस इसीलिए में सभी कुछ उनकी हिदायतों के हिसाब से करता हूँ ,,और है मेरी अम्मी ,,मेरी बहन जो भी बेटियां है उन्होंने निकाह के वक़्त खुद मुझ से ,मेरी शरीक ऐ हयात की मुट्ठी खुलवाते वक़्त कहलवाया था ,,बीवी मुट्ठी खोल में तेरा गुलाम ,,बस तभी से में ऐसा ही हूँ ,,,,सभी बेटियो को एक बार फिर इस दुआ के साथ ,, के बेटियो को कामयाबी ,,शोहरत ,,बुलन्दियां मिले ,,बेटो को भाई के रूप में ,,बाप के रूप में ,,देवर ,,जेठ के रूप में ,,शोहर के रूप में ,ससुर के रूप में उनकी सार सम्भाल कर सके ,,अल्लाह उन्हें ऐसा हौसला दे ,,अख्तर खान अकेला कोटा राजस्थान

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...