हमें चाहने वाले मित्र

03 जनवरी 2017

में बात कर रहा हूँ,,, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी साहब की

दोस्तों ,,,हर अच्छे शख्स में बुराइयां ,,और ,,हर बुरे शख्स में,,, अच्छाइयां होती है ,,समझदार लोग,,, ऐसे शख्स की अच्छाइयां ,,अंगिकार करते है ,,और बुराइयों को ,,भूल जाते है ,,दोस्तों ,,में बात कर रहा हूँ,,, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी साहब की ,,जो खुद कहते है ,,में चाय बेचता था ,,जो खुद कहते है ,,,में ईमानदार हूँ ,,जो खुद कहते है ,,में दलित हूँ ,,,में पिछड़ा हूँ ,,वोह साफ़ सुथरे रहते है ,,,महंगे सूट पहनते है ,,दिन रात ,,मिलाकर चौबीस घण्टो में से ,,,अधिकतम घण्टे,, वोह कामकाज में बिताते है ,,,उनके खिलाफ ,,बेईमान के आरोप हो सकते है ,,लेकिन सुबूत,, किसी को नहीं मिल सका है ,,खेर ,,,यह अलग बात है ,,वोह अच्छे है ,,बुरे है ,,पता नहीं ,,लेकिन सच कड़वा सच यह है के ,, ,,उन्होंने खुद को,,, जनता के सामने,, अच्छा साबित करके ,,,भाजपा को ,,ज़र्रा से आफताब बना दिया ,,भाजपा को ,,अकल्पनीय बहुमत दिलवा दिया ,,जो लोग,, हंटरवाले बनकर ,,सरकार में,, खुली दखलंदाज़ी करते थे ,,उन्हें सब को,, ठिकाने लगा दिया ,,,यह एक तस्वीर,, नरेन्द्र मोदी सर के ,,,,संकल्प को सिखाने वाली है ,,एक दृढ़ संकल्प ,,एक पक्का इरादा ,,और उस इरादे को,, हांसिल करने के लिए ,,,कढ़ी महनत कर ,,,अपना टारगेट हासिल करने वाले ,,नरेंदर मोदी सर से,,, देश के युवाओ को ,,,,सबक़ लेना चाहिए ,,अपने टारगेट को,,, हांसिल करने के लिए ,,जी तोड़ मेहनत कर ,,हिम्मत से ,,काम ले ,,बढे हो,, बुज़ुर्ग हो ,,सभी को भुला दे ,,प्यार और जंग में,,, सब जायज़ है ,,इस फार्मूले को ,,अपना ले,,, तो निश्चित,,,, निश्चित तोर पर ,,युवा या कोई भी ,,,,अपना टारगेट हांसिल कर सकते है ,,आप सोचिये ,,,इस तस्वीर को ,,एक सबक़ के रूप में देखिये ,,एक व्यक्ति ,,,,जो अटूट बहुमत से ,,गुजरात के मुख्यमंत्री है ,,जो गुजरात के विकास के लिए ,,,काम करने के लिए,, प्रसिद्ध हुए ,,उस मुख्यमंत्री ,,नरेन्द्र मोदी के साथ ,,सत्ता के नशे में चूर ,,,कुछ लोगो ने केसा उपेक्षित व्यवहार किया ,,मंच पर,,, बराबरी का दर्जा नहीं मिला ,,उपस्थिति का कोई नोटिस नहीं ,,खुद को ,,कानाफूसी के लिए ,,आगे बढ़ना पढ़ रहा है ,,लेकिन ,,कोई ध्यान नहीं दे रहा ,,,,सब बढे नेता होने का ,,,अभिनय कर,,,,,, इस शख्सियत की उपेक्षा कर रहे है ,,लेकिन इसी शख्स ने ,,,खुद को ,,,स्वम्भू प्रधानमंत्री बनाने का ,,संकल्प लिया ,,देखिये जनाब ,,भाजपा के किसी,, संसदीय बोर्ड ,,किसी पार्टी के रिज़ोलुशन ने ,नरेन्द्र मोदी को ,,,प्रधानमंत्री बनाने का संकल्प नहीं लिया ,,खुद नरेन्द्र मोदी ने ,,खुद को प्रधानमंत्री के रूप में प्रोजेक्ट किया,,एक अकल्पनीय सपना देखा और उसे साकार करने के लिए ,,जी तोड़ कोशिश की ,,देश में सोशल मिडिया से लेकर ,,भाषणों ,,इलेक्ट्रॉनिक मीडीया ,,प्रिंट मिडिया को मैनेज किया ,,,,जनता को उकसाया ,,खुद को जनता के सामने ,,साबित किया ,,पार्टी ,,,हाईकमान के आगे,,, एक छोटा सा क़द ,,लेकिन बढ़ा संकल्प ,,बढ़ी कोशिश ,,पक्का इरादा ,,और नरेन्द्र मोदी,, देश के प्रधानमंत्री बन गए ,,किसी भी पार्टी के मठाधीश ,,प्रधानमंत्री के उम्मीदवार ,,भाजपा के ठेकेदार ने,,, चूँ तक नहीं की ,,भाजपा संगठन पर अपने निकटतम मित्र ,,अमित शाह को ,,,राष्ट्रिय अध्यक्ष बना दिया ,,चुनाव जीतने के बाद ,,जिसे चाहा ,, उस विभाग का मंत्री बना दिया ,,,चुनाव हारने के बाद ,,बिना किसी सदन की सदस्यता के बगेर ,,,पहली बार,,, इतने लोगो को,, मंत्री बनाया गया ,,जिसे जनता ने रिजेक्ट किया ,,,उन्हें नरेन्द्र मोदी ने ,,,कँगूरा बनाकर सेलेक्ट कर दिखाया ,,इस तस्वीर को फिर गोर से देखिये ,,एक उपेक्षित व्यक्तित्व नज़र आ रहा है ,,लेकिन संकल्प के बाद,, टारगेट हासिल करने के बाद,,, के हालात आप देखिये,,, यह लोग जो नरेन्द्र मोदी की तरफ ,,,झाँक भी नहीं रहे है ,,,जो इन्हें नोटिस ही नहीं ले रहे है ,,आज वोह,,, नितिन गडकरी ,,सुषमा स्वराज ,,खुद,, लालकृष्ण आडवाणी ,,,हाशिये पर है ,,लेकिन यह उपेक्षित से दिखने वाली शख्सियत ,,,अपने संकल्प और महनत से ,,आज इन लोगो पर ,,,राज कर रहा है ,,आज यही लोग,,, जो कभी नरेन्द्र मोदी को ,,,भाव नहीं देते थे ,,,इनके इशारे पर,,, नाचने को मजबूर है ,,इनके रहमो करम पर मंत्री है ,,सुविधाओ के भोगी है ,,यह एक सबक़ है,,, देश के युवाओ के लिए ,,एक उत्साह है ,,एक सन्देश है ,,एक ऐसी कामयाब,, व्यवहारिक जीवन्त कहानी है ,,जो उपेक्षा और निराशा में,, एक संकल्प के बाद,,, कढ़ी मेहनत करने वाले को,,, उन लोगो के सामने ,,,जो उसे नज़र अदाज़ करते है ,,खुद को साबित कर,,, उनके सामने,,, राजा बनने का हौसला देता है,,, और कामयाबी भी देता है ,,जो हवाओ का रुख नहीं भांपते ,,खुद को बढ़ा साबित करने के लिए ,,मुख्यमंत्री स्तर के व्यक्ति को भी,, उपेक्षित कर नज़रअंदाज़ करते है,, फिर इस गुरुर के मुक़ाबले में हाशिये पर तो आना ही होता है ,,अख्तर खान अकेला कोटा राजस्थान

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...