हमें चाहने वाले मित्र

27 दिसंबर 2016

शाबाश ,,पॉपुलर फ्रंट ऑफ़ इण्डिया चेप्टर राजस्थान ,,शाबाश

शाबाश ,,पॉपुलर फ्रंट ऑफ़ इण्डिया चेप्टर राजस्थान ,,शाबाश ,,जी हाँ यह शाबाशी इसलिए के ,,मुसलमानियत के नाम पर हमारे देश में ,,बने कथित अलग अलग फ़िर्क़े ,,अलग अलग मसलक से जुड़े मौलानाओं को आज ,,इस फ्रंट ने ,,इस्लामिक शरीयत की तहफ़्फ़ुज़ के नाम पर एक मंच पर लाकर बिठा दिया ,,अच्छा लगा ,इसके आज नहीं तो कल ,,अच्छे ,,बहतर ,,कॉम और देश के हक़ में ,,,अच्छे नतीजे सामने आएंगे ,,,आज पॉपुलर फ्रंट ऑफ़ इण्डिया ,,राजस्थान के आह्वान पर ,,कोटा उम्मेद सिंह स्टेडियम नयापुरा कोटा में ,,तहफ़्फ़ुज़ ऐ शरीयत कॉन्फ्रेंस ,,,आयोजित की गयी जिसमे हज़ारो की तादाद में ,,कोटा समभाग के अलग अलग हिस्सो से नोजवान ,,बुज़ुर्ग ,,महिलाओं ने अपनी हिस्सेदारी दिखाई ,,,,न पांडाल ,,ने छत ,,न कुर्सी फिर भी दूर दराज़ से आये हज़ारो लोग ,,धुप में ,,सुबह ठिठुरती ठंड में ,,अपने अपने साधनो से भूखे ,,प्यासे ,,शरीयत को बचाने के लिए ,,एक सिपाही की तरह से ,,तहफ़्फ़ुज़ ऐ शरीयत कॉन्फ्रेंस में डटे थे ,,कॉन्फ्रेंस में सभी ने अलग अलग मसलक ,,अलग अलग फिरक़ो में मोलवी ,,मौलाना ,,क़ाज़ी ,,मुफ्ती जैसे ज़िम्मेदाराना की मौजूदगी पर ख़ुशी जताई ,,,कॉन्फ्रेंस में बोलते हुए विज्ञाननगर नूरी जामा मस्जिद के ईमान ,,मौलाना सईद मुख्तार साहब ने ,,तीन तलाक़ ,,के मसले को वाज़ेह करते हुए कहा ,,के जब एक मुसलमान ,निकाह के लिए मोलवी ,,क़ाज़ी ,,मौलाना का इन्तिज़ार करता है ,,तो तलाक़ मामले में वोह ,,अपने पास के किसी मोलवी ,,मौलाना,,क़ाज़ी से जाकर सलाह क्यों नहीं लेता ,,,,,इसी बात को आगे बढ़ाते हुए ,,कैथून के मुफ़्ती कोनेन साहिब ने ,,क़ुरआन में दिए गए तलाक़ के मसले की तशरीह करते हुए ,,एक साथ तीन तलाक़ को नाजायज़ कैसे है ,,खुलासा किया ,,सुप्रीम कोर्ट ने तीन तलाक़ के मामले में शमीम आरा वाले मामले में सुर ऐ अनीसा में जो हुक्म दिया है उसकी तस्दीक़ करते हुए जो फैसला हुआ था ,,,उसी तर्ज़ पर मुफ़्ती साहिब ने सुर ऐ अननिसा में बीवी और शोहर के बीच तलाक़ के मसले को सिलसिलेवार खुलासा किया ,,क़ाज़ी ऐ शहर कोटा अनवार अहमद ने कैथून के मुफ़्ती साहिब द्वारा बताये गए , तलाक़ के मसले की ताईद करते हुए इसे एक बुराई बताते हुए इससे बचने के लिए कहा ,,उन्होंने कहा के हमारा कोई घर तोड़ता है तो उसे बचाने के लिए हम सभी जतन करते है ,,लेकिन अब बात शरीयत की है ,,खुदा के क़ानून की है ,,इसकी हिफाज़त के लिए हमे सभी को एक साथ मिलकर मुक़ाबला करना होगा ,, सभी वक्ताओं ने कहा के अल्लाह और उसके रसूल की शरीयत उसके क़ानून में एक हर्फ़ बराबर भी ,,किसी को मंज़ूर नहीं ,,,वक्ताओं ने कहा ,,नरेन्द्र मोदी ओरतो की हिफाज़त उनके हुक़ुक़ की बात करते है ,,तीन तलाक़ की बात करते है ,,लेकिन खुद ने अपनी बीवी को न तो तलाक़ दिया है न ही साथ रखा है ,,न ही उनका कोई हक़ दिया है ,,हज़ारो की तादाद में बैठी माँ ,,बहनो को सम्बोधित करते हुए वक्ताओं ने कहा ,,हम शरीयत में किसी भी तरह की मदाखलत बर्दाश्त नहीं करेंगे ,,

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...