हमें चाहने वाले मित्र

19 दिसंबर 2016

नईमुद्दीन गुड्डू को दूर रखने की साज़िश रची गई

  किसी ने क्या खूब कहा है ,,,मुद्दई लाख बुरा चाहे तो क्या होता है ,,वही होता है जो मंज़ूर ऐ खुदा होता है ,,,जी हाँ दोस्तों ,,प्रदेश कोंग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलेट के कोटा के कार्यक्रम में ,,प्रदेश कोंग्रेस सचिव ,,लाडपुरा से विधायक प्रत्याक्षी रहे ,,नईमुद्दीन गुड्डू को दूर रखने की साज़िश रची गई ,,लेकिन सचिन पायलेट के ऐतिहासिक स्वागत के बाद नईमुद्दीन गुड्डू और मुखर हो गए है ,,कोटा में सचिन पायलेट का दौरा तय हुआ ,,कार्यक्रम किस तरह के है ,,संगठन को विभाजित कर मटियामेट करने वाले है ,,संगठन को फायदा पहुंचाने वाले ,,यह सारी रिपोर्ट देने की ज़िम्मेदारी स्थानीय नेतृत्व ,,ज़िला प्रभारियों की होती है ,,,यहां तक के वोह ऐसे कार्यक्रमो को कोऑर्डिनेट कर ,,कोंग्रेस की फ़ज़ीहत न हो ,,कोंग्रेस में टूटन न हो ,,ऐसे सुझाव ऐसे वीटो करके ,,इस बदमज़गी को दूर करने की ज़िम्मेदारी रखते है ,,,,कोटा में सचिन पायलेट के दौरे के सभी कार्यक्रमो से नईमुद्दीन गुड्डू का नाम कोंग्रेस को खासकर अल्पसंख्यको को विभाजित करने की साज़िश के तहत अलग थलग रखा गया ,,खेर गेर सियासी कार्यक्रम में आयोजक की अपनी मर्ज़ी ,,जिसे चाहे बुलाये ,,जिसे न चाहे न बुलाये ,,लेकिन एक प्रदेश अध्यक्ष ,,कोंग्रेस के गार्जियन के नाते ,,सचिन पायलट ने अपना धर्म निभाया ,,नईमुद्दीन गुड्डू को फोन पर सूचित कर खुद के कोटा आगमन की सुचना दी ,,नईमुद्दीन गुड्डू ने कोटा में उनके अभूतपूर्व स्वागत की योजना बनाई ,,एक अल्पसमय में एक दिन पूर्व नईमुद्दीन गुड्डू ने अपने कार्यकर्ताओं ,,कोंग्रेस के जांबाज़ सिपाहियों को सचिन के आगमन और उनके स्वागत कर्यक्रम की सुचना दी ,,बस लाडपुरा विधानसभा क्षेत्र के कार्यकर्ता उत्साहित हो गए ,,सचिन के ऐतिहासिक स्वागत के लिए लालायित हो गए ,,लाडपुरा विधानसभा क्षेत्र से पच्चीस बेस निर्धारित समय के पूर्व भर कर आई , आसपास के लोग निजी वाहनों से ,,,दुपहिए वाहनों से आये ,,और खेड़ली फाटक नेहरू उद्यान स्टेशन से कोटा मार्ग की तरफ हज़ारो कार्यकर्ता एकत्रित हो गए ,,,एक स्टेज बनाया गया ,,माइक का इंतिज़ाम किया गया ,,सचिन पायलेट स्टेशन से पूर्व मंत्री भरत सिंह के यहां जाते वक़्त नेहरू उद्यान के पास ,,इतनी बढ़ी संख्या में कार्यकर्ता देख ,,अभिभूत हो गए ,,वोह गाडी से उतरे ,,नईमुद्दीन गुड्डू और समर्थको ने उनका स्वागत किया ,,सचिन पायलेट ज़िंदाबाद ,,,कोंग्रेस एकता ज़िंदाबाद ,नईमुद्दीन गुड्डू ज़िंदाबाद ,,सोनिया गाँधी ज़िंदाबाद ,,,राहुल गाँधी ज़िंदाबाद के नारो के साथ ,स्वागत स्थल गूंज उठा ,,भीड़ का यह आलम के पैर रखने की जगह नहीं ,,सुरक्षा कमांडो ,,पुलिस ने सुरक्षा कारणों से व्यवस्था सम्भाली ,,कोटा में किसी प्रदेश कोंग्रेस अध्यक्ष का यह पहला ऐतिहासिक स्वागत था ,,मुख्यमंत्री के नाते अशोक गहलोत ,,,प्रदेश अल्पसंख्यक विभाग के अध्यक्ष के नाते निज़ाम कुरैशी का ऐसा स्वागत हो चूका है ,,सचिन पायलेट अपने इस स्वागत से खुद थे ,,,,इसके पहले वही हुआ जो मेने लिखा था ,,सचिन पायलट का रेलवे प्लेटफॉर्म पर ऐतिहासिक स्वागत था ,,प्लेट फॉर्म नम्बर एक पर प्रभारी डॉक्टर करण सिंह यादव ,,सुशिल शर्मा ,,बालकृष्ण खींची ,,,,कुंदन यादव ,,क्रांति तिवारी ,,देवेंद्र यादव ,, ,गोविन्द शर्मा ,,,,पंकज मेहता ,शिवकांत नंदवाना ,,पूनम गोयल ,,देहात अध्यक्ष सरोज मीणा ,,रामगोपाल बेरवा ,,रामकिशन वर्मा ,,सेवादल के मनोज दुबे ,,हुकम जैन काका ,,अल्पसंख्यक विभाग के कोटा समभाग अध्यक्ष अख्तर खान अकेला ,,महासचिव तबरेज़ पठान ,,देहात उपाध्यक्ष असद अली ,,,,राधेश्याम वर्मा ,,,अब्दुल करीम खान पिंकी ,,,साजिद जावेद ,,मोबिन पठान ,,ज़ी शान अली सहित सेकड़ो लोग मौजूद थे ,,जबकि प्लेटफॉर्म नम्बर एक पर सीढ़ियों के पास पूर्वमंत्री शांति कुमार धारीवाल ,,,रविन्द्र त्यागी ,,पूर्व विधायक प्रेमचंनद नागर ,,,महिला कोंग्रेस की रचना राठौड़ ,,यूथ कोंग्रेस के कार्यकर्ता ,,पूर्व पार्षद ,,छात्रों का हुजूम था ,,,भाजपा विधायक प्रहलाद गुंजल के भतीजे लोकेश गुजंल दो सो से भी अधिक छात्रों के साथ मौजूद थे ,,सचिन पायलेट का स्टेशन के बाहर अल्पसंख्यक विभाग ने स्वागत किया ,,वेस्टर्न रेलवे यूनियन ने उनका स्वागत किया ,,भीमगंजमंडी क्षेत्र में भानु प्रताप ने स्वागत किया ,,,खेड़ली फाटक पर कुंदन यादव ने स्वागत किया ,,फिर बंजारा समाज के कैलाश बंजारा ने स्वागत किया ,,नईमुद्दीन गुड्डू का अभूपूर्व स्वागत रहा ,,बाद में स्टेडियम के पास ,,हिम्मत सिंह हाड़ा का भव्य स्वागत था ,,फिर कोटड़ी चौराहे पर ,,अनूप ठाकुर की तरफ से स्वागत था ,,सचिन पायलेट इसके बाद भरत सिंह के यहां उनके पिता के निधन पर शोक व्यक्त करने गए ,,लेकिन सभी प्रयासों के बावजूद भी स्टेडियम पर गिनती के लोगो को देखकर उनका माथा ठनक गया ,,इससे बेहतरीन तो उनका स्वागत नईमुद्दीन गुड्डू के स्वागत स्थल पर ही लोगो ने कर दिया ,,,सड़को ,,प्लेटफॉर्म पर सचिन पायलेट का माहौल था ,,इससे भी अधिक मूड खराबी करने वाली बात यह रही के जब ,,कार्यक्रम में आचार्य कृष्णन बोल कर चुके तो लोग जो मौजूद थे हिन्दू मुस्लिम समाज के उठ उठ कर जाने लगे ,,देखते ही देखते ,,कुर्सियां खाली ,,सभा स्थल खाली खाली सा हो गया ,,सचिन पायलेट को सभास्थल पर उनके पूर्व कुच्छ नेताओ का चले जाना ,, मुख्य अतिथि होते हुए भी उनके उद्बोधन के पहले ,,,जाना और पांडाल का खाली हो जाना अच्छा नहीं लगा ,,लेकिन सचिन पायलेट सहज हुए ,,वोह कार्यक्रम की गरिमा को बनाये रखते हुए खूब बोले और अपने वही चिरपरिचित अंदाज़ में भाजपा ,,साम्प्रदायिक ताक़तों को ललकारते हुए दहाड़े ,,उन्होंने सन्तुलित भाषा में खुद को कोंग्रेस का एक सिपाही बताते हुए ,,खुद को कोंग्रेस से बहुत कुछ मिलजाने कहकर कई सवालो पर विराम लगा दिया ,,सचिन पायलट का अभूतपूर्व स्वागत एक यादगार बन गया ,,सचिन पायलेट ज़िंदाबाद हो गए ,,लेकिन इसी दौरान नईमुद्दीन गुड्डू ने भी खुद को साबित कर दिखाया है और वोह भी कार्यर्कताओं के बीच ज़मीनी नेता के रूप में अपनी पहचान को जीवित रखते हुए ज़िंदाबाद हुए है ,,,अख्तर खान अकेला कोटा राजस्थान

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...