हमें चाहने वाले मित्र

05 दिसंबर 2016

सुप्रीमकोर्ट के आदेशो के बावजूद भी अयोध्या की मस्जिद को बदमाशो ने क़ानून हाथ में लेकर सुप्रीम कोर्ट के आदेशो को चिन्दी चिन्दी कर दिया

भारत के प्रधानमंत्री नरसिंमाराव ,,, उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री कल्याण सिंह ,ने कल छह दिसम्बर को अपना राजधर्म नहीं निभाया था ,, नतीजा सुप्रीमकोर्ट के आदेशो के बावजूद भी अयोध्या की मस्जिद को बदमाशो ने क़ानून हाथ में लेकर सुप्रीम कोर्ट के आदेशो को चिन्दी चिन्दी कर दिया ,,भारत की धरोहर जो भारत में थी ,,उसे भारत के दुश्मनो ने तहस नहस कर दिया ,,सुप्रीम कोर्ट ने तो क़ानून के हत्यारो को सिर्फ प्रतीकात्मक सज़ा दी ,,सी बी आई ने फ़ाइल ठंडे बस्ते में डाल दी ,,,लेकिन एक अदालत जो अल्लाह की है उसने उस वक़्त के मुख्यमंत्री को इसी दुनिया में आसमान से ज़मीन पर ला दिया ,,वोह कभी भाजपा के वरिष्ठ लोगो के आगे गिड़गिड़ाए ,,,,कभी समाजवादी पार्टी के आगे गिड़गिड़ाए ,,वहां से बे आबरू बनकर निकले ,,जिनका जलवा देश देख रहा था वोह इस ग़लती की सजा में गुमनामी में आ गए ,,अब रबड़ की मोहर बने बैठे है ,,,,,नर्सिममाराव प्रधानमंत्री जी का तो पता ही है ,,बेचारे का जन्म दिन पुण्यतिथि भी कोई नहीं मनाता ,,उनके अंतिम संस्कार के वक़्त ,,उनका शव भी पूरी तरह से जल न सका ,,दूसरे दिन उनके अंतिम संस्कार स्थल पर ,,कुत्ते घूमते देखे गए ,,,,,आज उनका नाम क़ुदरत ने लुप्त कर दिया है ,,,विश्व के पहले प्रधानमंत्री थे जो देश की जनता के सामने अपमानित हुए ,,इनके खिलाफ आपराधिक बेईमानी के मामलो की सुनवाई के लिए अदालत अलग से बनाना पढ़ी ,,,,अब मुख्य आरोपी लालकृष्ण आडवाणी साहब को ही लो ,,वोह गुमनामी के अँधेरे में है ,,ज़मीन से आसमान पर भाजपा को पहुंचाने वाले आज ,,भाजपा में हाशिये पर है ,,कई और ऐसे लोग है जिनका नाम लेवा कोई नहीं है ,,,अब इसीलिए कहते है ,,के कितने ही अपराध कर लो ,,लेकिन खुदा के खोफ से डरना चाहिए ,,अल्लाह हो ,,ईश्वर हो , खुदा हो ,,,भगवान हो उसकी लाठी में आवाज़ नहीं होती ,,खुदा ने इन्हें दुनिया में ही बता दिया ज़िल्लतें देकर ,,,,,अख्तर

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...