हमें चाहने वाले मित्र

08 दिसंबर 2016

एक रुपया एक ईंट का नारा देकर ,,खरबो रुपया एकत्रित करने वाले ,,लालकृष आडवाणी ,,जिसने इस एकत्रित धन का एकाउंट ,,कहाँ है यह अरबो रुपया ,,यह रुपया काला है या सफ़ेद है ,,कभी नहीं पूंछा

कभी राम बनकर लोगो द्वारा पूजे जाने वाले ,,कभी राम मन्दिर के नाम पर रथयात्रा निकालकर एक रुपया एक ईंट का नारा देकर ,,खरबो रुपया एकत्रित करने वाले ,,लालकृष आडवाणी ,,जिसने इस एकत्रित धन का एकाउंट ,,कहाँ है यह अरबो रुपया ,,यह रुपया काला है या सफ़ेद है ,,कभी नहीं पूंछा ,,ऐसे धन को काला बताकर ,,रातोरात माहौल बदलने की कोशिश फिर अव्यवस्था के खिलाफ ,,लोकसभा ,,राज्यसभा से प्रधानमंत्री फरार है ,,प्रचण्ड बहुमत के बाद भी ,,भाजपा के सांसदों के टूटने का खतरा होने से वोटिंग के साथ बहस से भाग रहे है ,,यह सब वर्षो से खामोश बैठे ,,लालकृष्ण अडवाणी को अच्छा नहीं लगा ,,कल उनके सब्र का बाँध टूट ही गया ,,वोह बोल पढ़े ,,संसदीय मंत्री ,,लोकसभा अध्यक्ष ,,,लोकसभा और राज्यसभा को चलापाने में नाकामयाब है ,,अब प्रधामंत्री के उम्मीदवार जिन्हें ,,राष्ट्रपति की उम्मीदे जगाकर खरीदने की कोशिश की जाती रही है ,,उनके मुंह से यह सच निकला है तो ,,उनके पहले के जो भक्त थे ,,जो लोग अडवाणी के लिए जान देने ,,जान लेने को तैयार भक्त जन थे ,,,जो भक्त जन ,,मौक़ापरस्त होने से वर्तमान में पावरलेस अडवाणी को छोड़कर पावरफूल मोदी के साथ है ,,उन्होंने खुद को आडवाणी की भक्तजनी से ट्रांसफर कर लिया है ,,यह तो बताओ क्या बदला है जो देश के लिए राम कहे जाने वाले ,,देश की आवाज़ कहे जाने वाले लालकृष्ण आडवाणी से बदल गए है ,, नरेन्द्र मोदी लालकृष्ण अडवाणी की सलाह मनाएंगे उनके अनुभवो का लाभ लेंगे तो जनाब देश भी डूबने से बच जाएगा और भक्तजनो की पार्टी खुद भक्तजनो के मोदी जी आगामी दिनों में हाशिये पर आने से बच जाएंगे ,,,,अख्तर

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

दोस्तों, कुछ गिले-शिकवे और कुछ सुझाव भी देते जाओ. जनाब! मेरा यह ब्लॉग आप सभी भाईयों का अपना ब्लॉग है. इसमें आपका स्वागत है. इसकी गलतियों (दोषों व कमियों) को सुधारने के लिए मेहरबानी करके मुझे सुझाव दें. मैं आपका आभारी रहूँगा. अख्तर खान "अकेला" कोटा(राजस्थान)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...